इंदौर में इमारत गिरने से अब तक दस लोगों की मौत, दो घायल

इंदौर। मध्यप्रदेश के इंदौर शहर के छोटी ग्वालटोली थाना क्षेत्र स्थित एक चार मंजिला व्यावसयिक इमारत गिरने से दो महिलाओं सहित दस लोगों की अब तक मौत हो चुकी है। दो अन्य लोग घायल हैं जिनका इलाज एमवायएच अस्पताल में चल रहा है। राहत दल की कमान संभाल रहे निगम उपायुक्त महेंद्र सिंह जादोंन ने यूनीवार्ता को बताया की बचाव कार्य में निगम की नौ जेसीबी, 18 डम्फर, 2 पोकलेन सहित सौ से अधिक कर्मचारियों का अमला रात से लगा हुआ हैं। उन्होंने कहा की हमारी पहली प्राथमिकता मलबे में दबे लोगो की छानबीन कर, उन्हें सकुशल बाहर निकालना हैं। श्री जादोन ने बताया की घटना स्थल के आसपास के दो जर्जर-कमजोर बहुमंजिला भवन पुलिस की मदद से एहतियातन खाली करवा लिये गए हैं।

कल देर रात्रि एमवायएच पहुंचे इंदौर जिला कलेक्टर निशांत बरवड़े ने संवाददाताओं को जानकारी देते हुये बताया की घटना की सूचना मिलते ही जिला प्रशासन के साथ नगर निगम, पुलिस प्रशासन, अग्निशमन दल और यातायात पुलिस ने राहत-बचाव कार्य प्रारंभ कर दिया हैं।
उन्होंने बताया की भोपाल से राष्ट्रीय आपदा प्रतिक्रिया बल की एक इकाई को बचाव कार्य के लिए बुलाया गया हैं। श्री बरवड़े ने बताया की प्रथम दृष्टया घटना का कारण ईमारत के जर्जर हालत होना प्रतीत हो रहा हैं।

इंदौर पुलिस उपमहानिरीक्षक हरिनायरायणचारि मिश्र देर रात एमवायएच अस्पताल पहुंचे। उन्होंने वहां संवाददाताओं को बताया की जमींदोज हो चुकी इमारत में एक एम एस लॉज पहले, दूसरे और तीसरे माले पर संचालित हो रही थी। इसी भवन में के तल पर एक निजी बैंक का एटीम और चार से पांच दुकाने संचालित हो रहीं थी। जिसके संचालक और भवन मालिक चंदू परयानी की पहचान की गई हैं। श्री मिश्र ने बताया की अब तक मलबे से दो महिला सहित कुल 12 लोगो को बाहर निकाला गया हैं। जिसमें से 9 लोगों का शव मृत अवस्था में ही मलबे से बाहर निकाला गया, जबकि एक ने अस्पताल में उपचार के दौरान दम तोड़ दिया। दो का उपचार जारी हैं।

डीआईजी ने बताया की सभी मृतकों के मामले में मार्ग कायम कर जाँच शुरू कर दी गई हैं। एमवायएच अधीक्षक वी एस पाल ने बताया की जिला प्रशासन की सूचना पर चिकित्सालय में अतिरिक्त डाक्टरों सहित चिकित्सा कर्मियों की अतिरिक्त तैनाती की गई है। उन्होंने बताया की सभी मृतकों के शरीर पर गंभीर चोटों के निशान हैं। अस्पताल सूत्रों के अनुसार मलबे से बाहर निकाले गए मृतकों की पहचान राजू लाल (35), सत्यनारायण (60), हरीश (70), आनंद पोरवाल, होटल कर्मचारी राकेश राठौर (28) और दो महिलाओं सहित 5 अज्ञात की मौत हो गई हैं।
वहीं घायलों में धमेंद्र (36) निवासी खंडवा, महेश (42) निवासी राजनगर शामिल हैं।

उधर भोपाल से आज तडके घटना स्थल पहुंचे 35 सदस्यों के राष्ट्रीय आपदा मोचन बल (एनडीआरएफ) के कमांडेंट सुरेश कुमार ने बताया की उनके पहुंचने के पूर्व ही स्थानीय राहत कार्य में जुटे दल ने मलबे से तलाशी कार्य पूर्ण कर ली है। लिहाजा वे केवल आशंका के चलते दोबारा मलबे में शवों की छानबीन कर रहे हैं। पूरे मामले में स्थानीय पुलिस के पास लॉज में ठहरे और कार्यरत कर्मियों की रखे जाने वाली जानकारी, जर्जर भवन में लॉज संचालित करने की अनुमति, और घटना में प्रथम दृष्टया दोषी पाये गये भवन मालिक के विरुद्ध कार्यवाई जैसे प्रश्नो का जवाब वरिष्ठ अधिकारी देने से बचते नजर आये।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

WP2Social Auto Publish Powered By : XYZScripts.com
Skip to toolbar