अक्षय तृतीया पारणा महोत्सव में उमड़ा श्रद्धा का सैलाब

बिजयनगर। श्री वर्द्धमान श्वेताम्बर स्थानकवासी जैन श्रावक संघ एवं अखिल भारतीय श्री नानक जैन श्रावक संघ के संयुक्त तत्वावधान में बुधवार को स्थानीय कृषि उपज मंडी प्रांगण में अक्षय तृतीया वर्षीतप पारणा महोत्सव का आयोजन किया गया। आचार्य सुदर्शनलाल जी म.सा. के आज्ञानुवर्ती प्रियदर्शन मुनिजी एवं पूज्या गुरुवर्या कमलप्रभा जी म.सा. के सान्निध्य में 68 श्रावक-श्राविकाओं को इक्षुरस पिलाकर पारणा करवाया गया।

इससे पूर्व धर्मसभा को संबोधित करते हुए जैन मुनि प्रियदर्शन मुनि ने वर्षीतप के पारणा के महत्व को समझाते हुए कहा कि यह परम्परा आदिनाथ परमात्मा से चली आ रही है। संयम की साधना की प्रेरणा दी। कार्यक्रम में भाजपा नेता भंवर सिंह पलाड़ा ने जैन धर्म के सिद्धांतों एवं संयम साधना अहिंसा परमो धर्म को मानव धर्म बताते हुए जैन आचार्य गुरुओं को नमन किया।

इस अवसर पर उपखण्ड अधिकारी सुरेश चावला, मसूदा तहसीलदार हरिसिंह शेखावत, सोहनलाल तातेड़, पालिका अध्यक्ष सचिन सांखला, जैन श्वेतांबर स्थानकवासी श्रावक संघ के मंत्री ज्ञानसिंह सांखला, गोपीचंद चौरडिय़ा, गुमानमल कर्णावट, मिठूलाल रांका, रतनलाल नाहर, ज्ञानचंद कोठारी, पार्षद संजीव भटेवडा, दिनेश कोठारी, राजेश मुणोत, अनिल कचारा, पार्षद जगदीश सिंह राठौड़, दिलीप मेहता, दिलीप तातेड़, संदीप सांखला, सम्पत चपलोत, तेजमल बुरड़, ज्ञानचन्द सिंघवी, अनिल नाबेड़ा, विकास चोरडि़या सहित जैन समाज के वर्षीतप करने वाले श्रावक-श्राविका सहित आसपास के जैन समाज के गणमान्य लोग मौजूद थे।

इनके हुए पारणे

श्रीमती मंजूदेवी-दौलत कोठारी (अजमेर), श्रीमती कंचन बाई-रूपेश सुराणा (अजमेर), श्रीमती मिथलेश सेठी (अजमेर), श्रीमती प्रेमलता-सुरेश बरमेचा (अजमेर), श्रीमती कैलाशबाई-धन्नालाल चौधरी (अजमेर), श्रीमती उषा-पदमचन्द लुणावत (अजमेर), श्रीमती शशि-कमलचन्द नवलखा (अजमेर), श्रीमती सुशीला-समीरमल पोखरना (अजमेर), श्रीमती मधु-अनिल पोखरना (मुम्बई), श्री सबर बुरड़- सज्जनराज बुरड़ (औरंगाबाद), श्रीमती स्नेहलता-शांतिलाल डांगी (गुलाबपुरा), श्रीमती सज्जन बाई-सुगनचन्द सुराणा (गुलाबपुरा), श्रीमती कमलाबाई-माणकचन्द नाहर (खरगोन), श्रीमती शशिकला-प्रेमचन्द सुराणा (गांधीनगर), श्रीमती शकुन्तला-सोहनलाल सिसोदिया (उदयपुर), श्रीमती सुशीला-मुकेश लोढ़ा (उदयपुर), श्रीमती चन्द्रकांता-मिठ्ठूलाल रांका (बिजयनगर), श्रीमती निर्मलदेवी-अशोक पोखरना (भीलवाड़ा), श्रीमती लाड़देवी-हरकचन्द लोढ़ा (भीलवाड़ा), श्रीमती पुष्पादेवी-शंकरलाल बाफणा (भीलवाड़ा), श्री जब्बरसिंह-रामसिंह नाहर (भीलवाड़ा), श्रीमती सुनिता-धर्मीचन्द जामड़ (भीलवाड़ा), श्री हरकचन्द-श्री मांगीलाल गोखरू (कंवलियास) श्रीमती पीस्ता बाई-गजराज नाहर (मसूदा), श्रीमती उच्छबकंवर-गुमानमल कक्कड़ (सरवाड़), श्रीमती रतनदेवी-ज्ञानचन्द मोदी (सरवाड़), श्रीमती मंजू-ओमप्रकाश खटोड़ (लाडपुरा), श्रीमती सरला-महावीरचन्द सोजतिया (पाली), श्रीमती लाड़बाई-अजीत खाब्या (इचलकरणजी), श्री घेवरचन्द बाबेल-श्री उदयलाल बाबेल (पांडीचेरी), श्रीमती शांताबाई-घेवरचन्द बाबेल (पांडीचेरी), श्रीमती कमलाबाई-सुजानमल रांका (सुरत), श्रीमती शिमलाबाई-उत्तमचन्द मेहता (भिनाय), श्रीमती मंजू-ललित नाहर (पुष्कर), श्रीमती कोशल्या-प्रकाशचन्द मुणोत (किशनगढ़), श्रीमती मंजू-ज्ञानचन्द चोरडिय़ा (किशनगढ़), श्रीमती सुनिता-ताराचन्द मेहता (जयपुर), श्रीमती मंजू-शांतिलाल कोचर (जयपुर), सुश्री दीपा नाहर-भागचन्द नाहर (अजमेर-जयपुर), श्रीमती शांता-प्रेमचन्द बाफणा (जयपुर), श्रीमती पूजा-अनिल श्रीश्रीमाल (जयपुर), श्रीमती विमला-मानसिंह छाजेड़ (ब्यावर), श्रीमती मैना-ज्ञानचन्द छाजेड़ (ब्यावर), श्रीमती कुसुम-गौतमचन्द लुणावत (ब्यावर), श्रीमती मीना-रोशन छाजेड़ (ब्यावर), श्रीमती सुमन-सुनिल श्रीश्रीमाल (ब्यावर), श्रीमती चंचल-अभिषेक बोरदिया (ब्यावर), श्रीमती रति-आशीष लुणावत (सूरत), श्रीमती नीता-प्रेमचन्द कांठेड़ (ब्यावर), श्रीमती कंचनबाई-मांगीलाल सोनी (केकड़ी), श्रीमती शांता-नौरतमल चोरडिय़ा (बिजयनगर), श्रीमती भंवरीबाई-स्व.श्री उत्सवराज चौधरी (बिजयनगर), श्रीमती इन्दिरा-लादूलाल भटेवड़ा (बिजयनगर), श्रीमती शांताबाई-नेमीचन्द बम्ब (बिजयनगर), श्रीमती सुशीला-महावीर भटेवड़ा (बिजयनगर), श्रीमती तारादेवी-प्रेमचन्द बोहरा (बिजयनगर), श्रीमती कमलाबाई-घेवरचन्द लुणावत (बिजयनगर), श्रीमती सुशीला-निहालचन्द संचेती (बिजयनगर), श्रीमती विमलादेवी-सुज्ञानचन्द ढाबरिया (बिजयनगर), श्रीमती संजना-मनीष कर्नावट (बिजयनगर), श्रीमती चन्द्रकांता-ताराचन्द लोढ़ा (बिजयनगर), श्रीमती मनीषा-सचिन सांखला (बिजयनगर), श्रीमती ललिता-प्रकाशचन्द बम्ब (बिजयनगर), श्रीमती सुशीला-सज्जनसिंह पोखरना (बिजयनगर), श्रीमती पुष्पा-रूपचन्द बणूट (बिजयनगर), श्रीमती सुशीला-मोतीलाल सुराणा (वणी), श्रीमती अंजू-पुखराज बाबेल (चरखीदादरी), श्रीमती तारा-गौतम हरकावत (जयपुर)।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

WP2Social Auto Publish Powered By : XYZScripts.com
Skip to toolbar