तमतमाती धूप में बस का इंतजार

छाया की माकूल व्यवस्था नहीं
बिजयनगर। गर्मियों की छुट्टी है इसलिए बहन आई हुई थी अचानक ससुराल से फोन आ गया तो उसे वापस उदयपुर जाना पड़ा। जब मैं बहन और उसके दो वर्ष के बच्चे को बस में बैठाने के लिए 27 मील चौराहे गया तो हाईवे पर भरी दोपहर में 25 मिनट बस का इंतजार करना पड़ा। जब मेरी हालत इतनी खराब हो गई तो मेरी बहन और बच्चे का क्या हाल हुआ होगा।

यह सोचकर ही मैं थर्रा रहा हूं। यह कहना था पिछले दिनों दोपहर के समय हाईवे पर अपनी बहन और भाणेज को बस में बिठाकर कस्बे में लौटे एक युवक का। हाईवे स्थित 27 मील चौराहे पर जिस स्थान पर भीलवाड़ा की ओर जाने वाली रोडवेज बसों का स्टॉपेज है, वहा, पर प्रशासन की ओर से यात्रियों के लिए छाया की कोई माकूल व्यवस्था नहीं है।

ऐसे में दोपहर में इस मार्ग पर जाने वाले यात्री चिलचिलाती धूप में मजबूरन बस का इंतजार करने को मजबूर हैं। तापमान 45 डिग्री के पार होने के कारण जहां एक ओर सूरज की तपिश शरीर को झुलसा देने वाली है वहीं गर्मी ने लोगों की हालत बिगाड़ दी है। ऐसे में 27 मील चौराहे पर बस का इंतजार करने वाले यात्रियों में से विशेषकर महिलाओं और बच्चों का बीमार होने का खतरा बना रहता है।

इसके बावजूद प्रशासन की ओर से न तो छाया का इंतजाम है और न ही कोई अन्य सुविधा है। इसके बावजूद स्थानीय प्रशासनिक अधिकारी व जनप्रतिनिधि इस समस्या की ओर ध्यान नही दे रहे हैं। गौरतलब है कि 29 सितम्बर 2016 में उपखण्ड अधिकारी सुरेश चावला उक्त स्थान पर टीनशेड बनवाने की घोषणा कर चुके हैं, लेकिन यह घोषणा कागजी साबित हो रही है और इसका खमियाजा आम लोगों को भुगतना पड़ रहा है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

WP2Social Auto Publish Powered By : XYZScripts.com
Skip to toolbar