स्टरलाइट संयंत्र बंद करने के आदेश, मृतकों की संख्या 13

थोथुकुडी। (वार्ता) तमिलनाडु के तूतीकोरिन में वेदांता समूह के स्टरलाइट तांबा संयंत्र के विरोध में भड़की हिंसा के दो दिन बाद आज इस संयंत्र को तत्काल प्रभाव से बंद करने का आदेश दिया गया और संयंत्र की बिजली भी काट दी गयी, हिंसा में मरने वालों की संख्या 13 हो गयी है और बंदरगाह वाले इस शहर में आज तीसरे दिन भी जनजीवन प्रभावित रहा।

आधिकारिक सूत्रों ने बताया कि तमिलनाडु प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड (टीएनपीसीबी) के अध्यक्ष मोहम्मद नसीमुद्दीन ने कल देर रात आदेश जारी किया जिसके आधार पर संयंत्र को तड़के सवा पांच बजे बिजली की आपूर्ति बंद कर दी गयी। संयंत्र के विरोध में दो दिन पहले भड़की हिंसा में मरने वालों की संख्या आज बढ़कर 13 हो गयी। आंदोलनकारियों पर पुलिस के लाठीचार्ज और फायरिंग में गंभीर रूप से घायल हुए सेल्वाशेखर (43) को सरकारी अस्पताल में भर्ती कराया गया था जहां आज सुबह उसकी मौत हो गयी। आंदोलनकारियों और पुलिस के बीच झड़प में घायल हुए कुछ पुलिसकर्मियों समेत 70 लोगों का विभिन्न अस्पतालों में इलाज चल रहा है।

पिछले दो दिनों से जारी दंगे, आगजनी के कारण पूरे थोथुकुडी में स्थिति असहज बनी हुई है। असामाजिक तत्वों ने आज सुबह तिरुनेल्वेली, कन्याकुमारी और नागापट्टिनम जिलों में राज्य पथ परिवहन निगम की छह बसों पर पथराव किया तथा उनके शीशे तोड़ डाले। लगातार तीसरे दिन आज भी सभी दुकानें तथा व्यावसायिक प्रतिष्ठान बंद रहे जबकि सरकारी कायर्रलयों में उपस्थिति काफी कम रही।

शहर में सार्वजनिक वाहन नहीं चल रहे थे लेकिन कुछ स्थानों पर पुलिस वाहनों के अलावा कुछ निजी कार और ऑटो रिक्शा चल रहे थे। लोग घरों में बंद रहे और उन्हें दूध समेत अन्य आवश्यक वस्तुओं के लिए संघर्ष करना पड़ रहा था। सोशल मीडिया पर उत्तेजक संदेशों तथा अफवाहों को फैलने से रोकने के लिए सेवा प्रदाताओं को जारी राज्य सरकार की एडवाइजरी के बाद कल रात से ही तमाम इंटरनेट सेवाओं को स्थगित कर दिया गया है।

जिला प्रशासन ने हिंसा और किसी प्रकार के जानमाल के नुकसान को रोकने के लिए सभी संवेदनशील स्थानों पर पर्याप्त संख्या में पुलिस बल को तैनात किया है। पुलिस ने हिंसा के सिलसिले में अबतक 130 से अधिक लोगों को गिरफ्तार किया है। इस बीच नयी दिल्ली में एक अधिकारी ने बताया कि केंद्रीय गृह मंत्रालय तूतीकोरिन में हिंसा को लेकर तमिलनाडु सरकार से संपर्क बनाये हुए है। अधिकारी के मुताबिक,“राज्य सरकार से मई 22 को हुई हिंसा के कारण और इसके बाद के घटनाक्रमों को लेकर विस्तृत रिपोर्ट मांगी गयी है।” अधिकारी ने बताया कि राज्य सरकार से शांति और सामान्य स्थिति बहाल करने को लेकर किये गये उपायों तथा स्टरलाइट संयंत्र को लेकर भी विस्तार से जानकारी मांगी गयी है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

WP2Social Auto Publish Powered By : XYZScripts.com
Skip to toolbar