शुजात बुखारी हत्याकांड में पुलिस ने पकड़ा एक संदिग्ध, हथियार बरामद

नई दिल्ली। कश्मीर के वरिष्ठ पत्रकार शुजात बुखारी की हत्या मामले में पुलिस ने एक संदिग्ध को हिरासत में लिया है। यह शख्स हत्या के बाद मौके पर मौजूद था। एक वीडियो में दिख रहा है कि यह शख्स गाड़ी से घायल को उतरवाता है। इस दौरान वह जमीन से कुछ सामान उठाकर जेब में डालता है और वहां से खिसक जाता है। पुलिस ने कुछ देर पहले ही इस संदिग्ध का फोटो जारी किया था। पुलिस ने तीन अन्य संदिग्धों की तस्वीर भी जारी की है। ये तीनों एक मोटरसाइकिल पर जाते हुए सीसीटीवी में कैद हुए है। माना जा रहा है कि इन तीनों का बुखारी की हत्या से संबंध है। शुजात बुखारी कश्मीर के अंग्रेजी दैनिक राइि‍जिंग कश्मीर के अलावा कश्मीरी भाषा के अखबार संगरमाल व उर्दू दैनिक बुलंद कश्मीर के संपादक और प्रकाशक थे।

प्रत्यक्षदर्शियों के मुताबिक, शाम करीब साढ़े सात बजे शुजात बुखारी प्रेस एन्कलेव में स्थित अपने कार्यालय से इफतार करने के लिए निकले। उनके साथ उनका अंगरक्षक और चालक (अंगरक्षक) भी थे। वह जैसे ही वाहन में सवार होने लगे तो उनके कार्यालय के बाहरी छोर पर गली के मुहाने पर तीन लोगों ने अंधाधुंध गोलियां चलाई। इसमें शुजात बुखारी और उनके दोनों अंगरक्षक गंभीर रूप से घायल होकर गिर पड़े।

जिस समय हमला हुआ, उस समय प्रेस एन्कलेव में काफी भीड़ होती है, लेकिन गोलियों की गूंज से वहां अफरा-तफरी फैल गई। वहां मौजूद एक पत्रकार के अनुसार, सभी इतने डर गए थे कि करीब दस मिनट तक कोई गाड़ी के पास नहीं गया। मेहराज नामक एक स्थानीय पत्रकार ने कहा कि मैं अपने कार्यालय में था, गोलियों की आवाज से बाहर निकला। शुजात की गाड़ी देखी उस पर गोलियां लगी थी और तीनों खून से लथपथ गाड़ी में पड़े थे। पुलिस भी आ गई। हम उन्हें अस्पताल ले गए, जहां डॉक्टरों ने शुजात बुखारी और उनके एक अंगरक्षक अब्दुल हमीद को मृत घोषित कर दिया। उनका दूसरा अंगरक्षक मुमताज अहमद जो चालक भी है, उसने बाद में अस्पताल में दम तोड़ा।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

WP2Social Auto Publish Powered By : XYZScripts.com
Skip to toolbar