सभी सुविधाओं से सम्पन्न है ‘शांति चम्पा रत्नत्रय भवन’

640 वर्गगज में बने विशाल शांति चम्पा रत्नत्रय भवन सभी सुविधाओं से सम्पन्न है। करीब दो वर्ष में पूरी तरह तैयार यह भवन अब 30 जून 2018, शनिवार को ऐतिहासिक लोकार्पण समारोह के लिए तैयार है। एक बार फिर बिजयनगर की धरती पर जैन संत व साध्वियों के दर्शन का लाभ यहां के लोगों को मिलेगा। दूर-दूर से श्रावक पहुंचेंगे और धर्मलाभ अर्जित करेंगे। प्रस्तुत है खारीतट संदेश की विस्तृत रिपोर्ट…

भवन का उद्देश्य
भवन निर्माण का यही उद्देश्य था कि शहर में जैन परिवारों की आबादी बढ़ी है। इन परिवारों को सुविधाजनक धर्म कार्यों के लिए स्थान उपलब्ध होवें इसी उद्देश्य को लेकर इस भवन का निर्माण किया गया है। जिससे यहां आराम से प्रवचन व सामाजिक कार्यक्रम सम्पन्न करवाए जा सके।

पुस्तकालय सुविधा
नवनिर्मित भवन में एक लाख धार्मिक पुस्तकों एवं दैनिक समाचार पत्रों से सुसज्जित पुस्तकालय है।

भजन संध्या 29 को
29 जून को शाम 8 बजे भजन संध्या का आयोजन किया जाएगा। ख्यातिप्राप्त भजन गायन कलाकार व कवि काव्य पाठ करेंगे।

चाक चौबंद सुरक्षा
कार्यक्रम में सुरक्षा व्यवस्था चाक चौबंद रहेगी। संस्था की ओर से निजी सुरक्षाकर्मी मौजूद रहेंगे। वहीं संस्था ने स्थानीय पुलिस थाने से सुरक्षा व्यवस्था के बंदोबस्त के लिए थानाधिकारी को पत्र लिखकर बंदोबस्त की मांग की।

भवन की विशेषताएं
भवन के बैसमेंट में पार्किंग की व्यवस्था है। ग्राउण्ड फ्लोर पर साधु संतों व श्रावक-श्राविकाओं के ठहरने की उचित व्यवस्था है। वहीं भवन के प्रथम तल पर प्रवचन व मिटिंग आयोजित करने के लिए विशाल हॉल बना हुआ है जहां 500 श्रावक-श्राविका एक साथ बैठकर प्रवचन लाभ ले सकते हैं। वहीं द्वितीय तल पर 10 कमरे सम्पूर्ण सुविधाओं से युक्त बने हुए हैं। भवन में लिफ्ट सुविधा भी उपलब्ध है। शीतल पेयजल की समुचित व्यवस्था की गई है। प्रत्येक कमरों में अटैच लेटबॉथ हैं। प्रत्येक तल पर शौचालयों का निर्माण करवाया गया है। सम्पूर्ण भवन अत्याधुनिक तकनीक व भूकम्प रोधी है।

लोकार्पण दिवस पर यह होंगे आयोजन
प्रात: 8 बजे भवन निर्माण के लाभार्थी कोठारी परिवार बेंगलूरु वालों की संभवनाथ जैन मंदिर महावीर बाजार से अगवानी कर जोर-शोर से गाजे-बाजे के साथ शांति चम्पा रत्नत्रय भवन लाएंगे, जहां उनके कर कमलों से भवन का प्रात: 08:30 बजे लोकार्पण किया जाएगा। इसके बाद लाभार्थी परिवार द्वारा भवन समर्पित किया जाएगा। उसके बाद स्थानीय कृषि उपज मंडी प्रांगण में सुबह 09:15 बजे शासन प्रभाविका, महिला प्रबोधिका, महाश्रमणी प्रवर्तिनी पूज्या गुरुवर्या डॉ. ज्ञानलताजी म.सा. एवं उनके साथ उपस्थित साध्वी मंडल के समक्ष मुख्य अतिथि नगरीय विकास एवं स्वायत्त शासन मंत्री श्रीचन्द कृपलानी, अजमेर विकास प्राधिकरण के चेयरमैन शिवशंकर हेड़ा व भाजपा नेता भंवरसिंह पलाड़ा, प्रशासनिक अधिकारी व शांति चम्पा रत्नत्रय भवन निर्माण के लाभार्थी परिवार का स्वागत व अभिनन्दन किया जाएगा। इसके बाद म.सा. द्वारा प्रवचन कार्यक्रम आयोजित होगा। प्रवचन के बाद उपस्थित श्रावक-श्राविकाओं और अतिथियों के लिए गौतम प्रसादी का आयोजन रखा गया है।

आगामी चातुर्र्मास स्थल
वीर संघ पीपलिया बाजार, ब्यावर दिनांक 21 जुलाई 2018 प्रात:काल।

अतिथियों के लिए यह होगी व्यवस्था
कार्यक्रम में आने वाले अतिथियों के लिए आवास व भोजन की व्यवस्था राष्ट्रीय राजमार्ग के अजमेर रोड़ स्थित बाफना जैन तीर्थ पर रहेगी।

विशेष सहयोग
प्रकाश संचेती (चेयरमैन), रिखबचन्द पीपाड़ा (राष्ट्रीय अध्यक्ष), ज्ञानचन्द ललवानी (महामंत्री), सुरेन्द्र कुमार बाफना (उपाध्यक्ष), नरेन्द्र कुमार बाफना (परामर्श मंडल सदस्य), अशोक श्रीश्रीमाल (अध्यक्ष राष्ट्रीय युवा), दिनेश बोहरा (मंत्री राष्ट्रीय युवा)।

भवन आमजन के लिए होगा उपलब्ध
शांति चम्पा रत्नत्रय भवन शहरवासियों के सामाजिक कार्यो के लिए उपलब्ध रहेगा। इसमें सभी समाजों के लोग नियमों का पालन करते हुए अपने सामाजिक कार्यक्रम यहां सम्पन्न करवा सकते हैं। इस भवन के ट्रस्टियों को पहली प्राथमिकता प्रदान की जाएगी। इसके बाद आमजन के लिए उपलब्ध रहेगी।

समारोह की तैयारी में यह जुटे हैं कार्यकर्ता
समारोह के सफल संचालन के लिए संघ के सुरेन्द्रकुमार, नरेन्द्रकुमार बाफना, नवयुवक मंडल के अध्यक्ष अनिल बोहरा, मंत्री नरेन्द्र सिंघवी, कोषाध्यक्ष सुनिल लोढ़ा, प्रकाशचन्द पोखरना, राजकुमार लुणावत, सुरेश रांका, विमल लोढ़ा, अशोक मेहता, ओमप्रकाश श्रीश्रीमाल, महिला मंडल के शांता तातेड़, शांता बोहरा, ज्योति लुणावत, श्रीमती ममता बाफना, शिमला रांका आदि जोर-शोर से कार्यक्रम की तैयारियों में जुटे हुए हैं।

लोकार्पण कार्यक्रम में यह रहेंगे मौजूद
भवन निर्माण के लाभार्थी संघ शिरोमणि भामाशाह, दानवीर, सरल स्वभावी सुश्रावक सेठ सा. श्री भागचन्दजी सा., जितेन्द्रकुमारजी सा., अनिलकुमारजी सा., विकासकुमारजी सा., आकाशकुमारजी सा., दीपककुमारजी सा., आर्यन कुमारजी सा. कोठारी बेंगलुरु, श्री अखिल भारतीय नानक प्राज्ञ संघ के समस्त पदाधिकारी व सदस्य व बिजयनगर के श्री संघ व श्री नानक प्राज्ञ युवा संघ के सभी सदस्यगण मौजूद रहेंगे।

गौतम प्रसादी के लाभार्थी परिवार
कमलाबाई (धर्मपत्नी: स्व. श्री त्रिलोकचन्दजी) प्रेमचन्दजी पारसमलजी मेड़तवाल- बिजयनगर/सिरकाली, सुरेन्द्रकुमारजी नरेन्द्रकुमारजी सौरभजी श्रेयांसजी बाफना- बिजयनगर, प्रकाशचन्दजी नवीनकुमारजी जिनसेनजी संचेती-जयपुर, सुवालालजी ज्ञानचन्दजी हितेशजी ललवाणी-जयपुर, ओमप्रकाशजी अशोककुमारजी अमितकुमारजी श्रीश्रीमाल-बिजयनगर/जयपुर, रिखबचन्दजी सुरेन्द्रकुमारजी संदीपकुमारजी पीपाड़ा-हैदराबाद, पुखराजजी जंवरीलालजी दिनेशकुमारजी बांठिया-सिरकाली, धर्मीचन्दजी अनिलकुमारजी दिनेशकुमारजी बोहरा- बिजयनगर/बेंगलुरु, इन्द्राबाईजी विनोदकुमारजी प्रदीपकुमारजी गौतमकुमारजी पोखरना एकलसिंहा/चैन्नई।

सम्पूर्ण भवन के लाभार्थी व उद्घाटनकर्ता परिवार
सं घ शिरोमणि भामाशाह, दानवीर, सरल स्वभावी सुश्रावक सेठ सा. भागचन्दजी सा., जितेन्द्रकुमारजी सा., अनिलकुमारजी सा., विकासकुमारजी सा., आकाशकुमारजी सा., दीपककुमारजी सा., आर्यनकुमारजी सा. कोठारी बेंगलुरु मरुधर में मेड़तासिटी के कर कमलों द्वारा सम्पन्न होगा।

राजस्थान में पहला अवसर
सर्वसुविधायुक्त शांति चम्पा रत्नत्रय भवन राजस्थान का पहला ऐसा भवन होगा जो कि संघ को प्रवचन, सामाजिक कार्यक्रमों को सम्पादित करने के लिए समर्पित किया जाएगा। इस अवसर पर डॉ. ज्ञानलताजी म.सा., डॉ. दर्शनलताजी म.सा., डॉ. चारित्रलताजी म.सा.,कीर्तिलताजी म.सा., कल्पलताजी म.सा., संयमलताजी म.सा., सौम्यलताजी म.सा., ऋजुलताजी म.सा. आदि लोकार्पण कार्यक्रम में मौजूद रहेंगे।

इस अवसर पर पधारने से यह मिलेगा लाभ
जिनशासन प्रभाविका, अहिंसा प्रचारिका, महिला प्रबोधिका, भारतसिंहनी मधुर व्याख्यानी, साध्वी रत्नत्रयी, महाश्रमणी, परम विदुषी, दक्षिण दिव्य ज्योति, प्रवर्तिनी पूज्या सद्गुरुवर्या 1008 डॉ. श्री ज्ञानलताजी म.सा. आदि ठाणा के दर्शन-वन्दन व प्रवचन का भी लाभ प्राप्त होगा।

शान्ति चम्पा रत्नत्रय भवन ट्रस्टी
इस भवन के अब तक 91 ट्रस्टी बनें है जिनसे भूमि खरीदने से लेकर अब तक सहयोग प्राप्त हुआ है।

विशेष स्मरण
इतिहास में पहली बार होगा कि एक ही परिवार से तीन बहनें संत बनी जिनमें तीनों ही बहने डॉक्टरेट की उपाधि प्राप्त हैं। सबसे बड़ी बहन डॉ. ज्ञानलता जी म.सा. जिन्होंने गुरुदेव श्री कुन्दनमलजी म.सा. से आज से 45 वर्ष पूर्व दीक्षा ली। दूसरी बहन डॉ. दर्शनलताजी म.सा. जिन्होंने 40 वर्ष पूर्व दीक्षा ली। वहीं छोटी बहन डॉ. चारित्रलताजी म.सा. जिन्होंने 37 वर्ष पूर्व डॉ. ज्ञानलताजी म.सा. का शिष्यत्व स्वीकार किया।

नवकार महामंत्र का जाप
28, 29 जून को दोपहर 2 बजे से 3 बजे तक नवकार जाप व सुबह 08:30 बजे से 09:30 बजे तक स्वाध्याय भवन में प्रवचन कार्यक्रम रहेगा। जाप कार्यक्रम के बाद अल्पाहार व प्रभावना कार्यक्रम का आयोजन रखा गया है।

इन स्थानों से आएंगे श्रावक-श्राविकाएं
बेंगलूरु, हैदराबाद, चैन्नई, मुम्बई, अहमदाबाद, सूरत, रायचूर, अजमेर, जयपुर, पाली, भीलवाड़ा, ब्यावर, पींसागन, मेड़ता, थांवला, सरवाड़, केकड़ी, भिनाय, बांदनवाड़ा, फूलियां, जालिया द्वितीय, मसूदा, सरेरी, दिल्ली सहित अन्य स्थानों से श्रावक-श्राविका कार्यक्रम में पधारने की सूचना प्राप्त हुई है।

संघ के अधीन संचालित संस्थाएं
1. रत्नत्रय सन्देश मासिक पत्रिका, बिजयनगर
2. अहिंसा प्रचार समिति, कंवलियास
3. नाहर रत्नत्रय कबूतरशाला, अटलाजी
4. श्री अखिल भारतीय नानक प्राज्ञ राष्ट्रीय युवा संघ
5. श्री अखिल भारतीय नानक प्राज्ञ महिला संघ
6. शांति चम्पा रत्नत्रय भवन, ब्यावर

विद्यालय के विकास में महत्वपूर्ण योगदान
स्थानीय राजकीय माध्यमिक विद्यालय सथाना बाजार के विकास कार्यों का बीड़ा उठाते हुए श्री अखिल भारतीय नानक प्राज्ञ संघ द्वारा विद्यालय में फर्श व शौचालय निर्माण सहित अन्य विकास कार्य करवाने के लिए प्रयासरत हैं।

आमंत्रक: श्री अखिल भारतीय नानक प्राज्ञ संघ व श्री वद्र्धमान स्था. जैन श्रावक संघ
श्री अखिल भारतीय नानक प्राज्ञ संघ के प्रकाशचन्द संचेती (चेयरमेन), पारसमल तातेड़ (वाईस चेयरमेन), रिखबचन्द पीपाड़ा (अध्यक्ष), सुरेन्द्र बाफणा (उपाध्यक्ष), ज्ञानचन्द ललवाणी (महामंत्री), शोभागसिंह चौधरी (मंत्री), सुखराज चौरडिय़ा (मंत्री), पुखराज बांठिया (कोषाध्यक्ष), ओमप्रकाश श्रीश्रीमाल (सह कोषाध्यक्ष) व श्री वद्र्धमान स्था. जैन श्रावक संघ, बिजयनगर के सोहनलाल तातेड़ (अध्यक्ष), पारसमल बड़ौला (वरिष्ठ उपाध्यक्ष), प्रतापचन्द साण्ड (वरिष्ठ उपाध्यक्ष), ज्ञानचन्द सांखला (मंत्री), भागचन्द बाबेल (कोषाध्यक्ष)।

जैसा कि संघ के परामर्श मण्डल सदस्य नरेन्द्रकुमार बाफना ने बताया

Leave a Reply

Your email address will not be published.

WP2Social Auto Publish Powered By : XYZScripts.com
Skip to toolbar