कुपवाड़ा और बांदीपोरा में व्यापक तलाशी अभियान

श्रीनगर। जम्मू-कश्मीर में सीमावर्ती कुपवाड़ा जिले के जंगलों में शुक्रवार को खराब मौसम के बावजूद सुरक्षाबलों ने आतंकवादियों का पता लगाने के लिए व्यापक तलाश अभियान शुरू किया। तीन दिन पहले आतंकवादियों के विरुद्ध घेराबंदी और तलाश अभियान शुरू किया गया था। इस दौरान गुरुवार को सुरक्षा बलों के साथ मुठभेड़ में एक आतंकवादी मारा गया जबकि आतंकवादियों ने बुधवार को सुरक्षाबलों के एक गश्ती दल पर हमला कर दिया था जिसमें एक जवान शहीद हो गया तथा एक अन्य जवान घायल हो गया।

बांदीपोरा जिले में भी आतंकवादियों के ठिकाने की तलाश और उसे नेस्तनाबूद करने के लिए अलग से अभियान शुरू किया गया है। आधिकारिक सूत्रों ने यूनीवार्ता को बताया कि सूरज की पहली किरण के साथ ही सुरक्षाबलों ने कुपवाड़ा के कांदी जंगल मेें तलाश अभियान शुरू कर दिया। आतंकवादियों के छिपे होने की आशंका के कारण यह अभियान चलाया जा रहा है लेकिन गुरुवार की मुठभेड़ के बाद कोई ताजा संकेत नहीं मिले हैं। इससे पहले 11 जुलाई को सुरक्षा बल के गश्ती दल पर आतंकवादियों के हमले में घायल हुए एक जवान मुक्त बिहारी मीणा की अस्पताल में मौत हो गयी जबकि एक अन्य घायल जवान को द्रगमुल्ला सैन्य अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

इस बीच उत्तरी कश्मीर के बांदीपोरा जिले के जंगल में भी आतंकवादियों एवं उनके ठिकानों की तलाश और उन्हें नेस्तनाबूद करने के लिए पिछले कुछ दिनों सेे व्यापक तलाश अभियान चलाया जा रहा है। जंगल में आतंकवादियों के छिपे होने की खुफिया रिपोर्ट के आधार पर कोटोसत्री जंगल में यह अभियान चलाया जा रहा है। आतंकवादी सर्दी के मौसम में हिमपात के दौरान छिपने के लिए इन ठिकानों का इस्तेमाल करते हैं। सूत्रों ने बताया कि जब तक पूरे जंगल की तलाशी नहीं ले ली जाती, सुरक्षा बलों का अभियान जारी रहेगा। अब तक यहां किसी भी ठिकाने का पता नहीं चल सका है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

WP2Social Auto Publish Powered By : XYZScripts.com
Skip to toolbar