जीवन को बेहतर बनाने के लिए सत्संग जरूरी

श्री रामकथा महोत्सव : देवलिया कलां में उमड़ा श्रद्धा का सैलाब
भिनाय। (पंकज दवे) निकटवर्ती ग्राम देवलियां कला में परम पूजनीय राष्ट्रीय संत मुरलीधर जी महाराज जोधपुर वालों के मुखारविंद से चल रही श्री राम कथा में श्री राम जन्मोत्सव, बाल लीलाएं, महादेव जी का अयोध्या में आना एवं अहिल्या का उद्धार, सीता स्वयंवर व बुधवार को केवट प्रसंग आदि कथाओ का वर्णन करते हुए महाराज श्री ने कहा कि जीवन जीवन जीने के लिए जिस प्रकार हवा-पानी एवं भोजन की जरूरत होती है उसी तरह जीवन को बेहतर बनाने के लिए सत्संग की जरूरत होती है। जिस व्यक्ति में संयम होगा वही सुंदर होगा। अच्छा खाने से व्यक्ति सुंदर नहीं होता। लेकिन उसके आचरण से वह सुंदर हो जाता है।

दिन भर रिमझिम बारिश के बाद भी श्रद्धालुओं ने जमकर कथा का आनंद लिया। भजनों की प्रस्तुतियां भी दी जिसपर महिलाओ व पुरुषों ने मनमोहक नृत्य किया। कथा महोत्सव में पूरा पांडाल श्रद्धालुओं से भरा हुआ था। रामकथा में स्थानीय कार्यकर्ता अपनी सेवाएं दे रहे है। बाहर से आने वाले श्रद्धालुओं के ठहरने व भोजन की समुचित व्यवस्था यजमान रामराय कंचनदेवी दाधीच द्वारा की हुई है। शाम को श्रद्धालुओं व पंडितों द्वारा पवित्र ग्रन्थ रामचरितमानस की आरती कर प्रसाद वितरण किया गया। पूरे गांव मे भक्तिमय माहौल बना हुआ है। श्री रामकथा के भव्यतम होने का अंदाजा इसी से लाया जा सकता है कि आयोजक द्वारा आगूँचा, बिजयनगर, नान्दसी, बडग़ांव आदि स्थलों से श्रद्धालुओं के लिए नि:शुल्क बस सेवाएं उपलब्ध कराई।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

WP2Social Auto Publish Powered By : XYZScripts.com
Skip to toolbar