एनआरसी मुद्दे का नहीं होना चाहिए राजनीतिकरण: पायलट

जयपुर। राजस्थान प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष सचिन पायलट ने भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह द्वारा राष्ट्रीय नागरिक रजिस्टर(एनआरसी) मुद्दे पर कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी को लेकर दिये बयान को अनर्गल बयानबाजी करार देते हुए कहा है कि कांग्रेस का स्पष्ट मत है कि विदेशी नागरिक देश की धरती पर नहीं रहना चाहिए। श्री पायलट आज नागौर जिले के परबतसर में पार्टी की संकल्प रैली में यह बात कही। उन्होंने कहा कि श्री शाह ने प्रदेश की भाजपा सरकार के कार्यकाल की जवाबदेही सुनिश्चित करने के स्थान पर असम के एनआरसी मुद्दे को लेकर अनर्गल बयानबाजी की, जो निंदनीय है। उन्होंने कहा कि इस मुद्दे का कदापि राजनीतिकरण नहीं होना चाहिए।

उन्होंने सवाल करते हुए कहा कि भाजपा सरकार ने कितने बंगलादेशियों को अब तक प्रदेश से निकाला है? उन्होंने कहा कि पूर्व प्रधानमंत्री डॉ. मनमोहन सिंह की संयुक्त प्रगतिशील गठबंधन सरकार (संप्रग) के दौरान जितने बंगलादेशियों को देश से विस्थापित किया था, उस अनुपात में भाजपा की उपलब्धि नगण्य है। उन्होंने कहा कि श्री शाह को अपनी पीठ थपथपाने के स्थान पर उनकी सरकार के शासनकाल के दौरान प्रदेश की हुई दुर्दशा पर माफी मांगनी चाहिए। उन्होंने कहा कि नोटबंदी के कारण आमजन को हुई परेशानी के साथ किसानों की आत्महत्या एवं महिला उत्पीड़न तथा प्रदेश में तोड़े गए मंदिरों के लिए अपनी जवाबदेही भी सुनिश्चित करनी चाहिए थी।

श्री पायलट ने कहा कि श्री शाह ने जयपुर में अपने कार्यकर्ताओं से कहा था कि सिर्फ चुनाव चिह्न का ध्यान रखे और सारी बातें भूल जाएं तथा केन्द्र की योजनाओं को जनता के बीच में ले जाएं, जिसका सीधा मतलब है कि प्रदेश भाजपा में न तो आपसी समन्वय है और न ही प्रदेश की सरकार के पास ऐसी कोई उपलब्धि है जिसे उनके राष्ट्रीय अध्यक्ष जनता के बीच ले जाने लायक समझते हो। उल्लेखनीय है कि श्री शाह ने मंगलवार को अपने जयपुर दौरे के दौरान एनआरसी मामले में कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी पर हमला करते हुए कहा था “राहुल भाई हमको गाली दो, लेकिन भारत के टुकड़े करने जाओगे तो भाजपा में आपको रोकने का साहस हैं।”

Leave a Reply

Your email address will not be published.

WP2Social Auto Publish Powered By : XYZScripts.com
Skip to toolbar