वाहन चोरी का पर्दाफाश

बिजयनगर। (खारीतट सन्देश) जिले सहित क्षेत्र में बढ़ती वाहन चोरी की वारदातों पर अंकुश लगाते हुए जिला पुलिस की स्पेशल टीम, क्रिश्चयनगंज और स्थानीय पुलिस ने संयुक्त कार्यवाही करते हुए कुख्यात वाहन चोर गिरोह का पर्दाफाश किया है। पुलिस ने गिरोह के सरगना समेत 4 गुर्गो को धर दबौचा। आरोपियों में एक बाल अपचारी भी है। गिरोह से पुलिस ने दो दर्जन से ज्यादा दुपहिया, चौपहिया वाहन बरामद किए है। गिरोह ने जिले में दर्जनों मोबाईल लूट की वारदातें कबूली हैं।

पुलिस अधीक्षक राजेशसिंह के मुताबिक पुलिस ने बिजयनगर इन्दिरा कॉलोनी निवासी महावीरनाथ, भिनाय बड़ली निवासी महेन्द्र भाम्भी उर्फ मंगल, जैतपुरा निवासी इन्द्रजीत सेन और चोरी के वाहन खरीदने वाले गेगल कायड़ निवासी मुनीम खान को गिरफ्तार किया हैं।
वाहनों को काटकर बेचते थे पुर्जे
पुलिस को गिरोह से एक कटी हुई वैन के पुर्जे मिले है। पड़ताल में सामने आया गिरोह बड़े वाहनों को काटकर खुले बाजार में पुर्जे बेच देते थे। इससे उन्हें चोरी के वाहन की अच्छी कीमत मिलने के साथ चोरी के माल को खुर्द-बुर्द करने में भी परेशानी नही होती थी। पुलिस ने गिरोह से एक जीप, एक कार, कटी हुई वैन, पांच मोटर साइकिल, एक स्कूटर व लूट के मोबाइल बरामद किए हैं। बरामद वाहन अजमेर के क्लॉक टॉवर, गुलाबपुरा व भीलवाड़ा के प्रतापनगर क्षेत्र से चुररए गए हैं।

गिरोह का सरगना महावीर नाथ बिजयनगर थाने का हिस्ट्रीशीटर है। उसके खिलाफ अजमेर, भीलवाड़ा के विभिन्न थानों में चोरी, नकबजनी, चोरी का माल खरीदने, आर्म्स एक्ट, छेड़छाड़ व पोक्सो एक्ट में 17 प्रकरण दर्ज हैं। वही इन्द्रजीत के खिलाफ बिजयनगर में अपहरण, पोक्सो एक्ट, चोरी, महेन्द्र के खिलाफ छेड़छाड़, पोक्सो एक्ट व मुनिम खान के खिलाफ सिविल लाइंस थाने में पुलिसकर्मी से मारपीट व राजकार्य में बाधा का मामला विचाराधीन हैं।
पुलिस टीम में ये थे शामिल
गिरोह को दबोचने वाली टीम में क्रिश्चयनगंज थानाप्रभारी लिखमाराम, बिजयनगर थाना प्रभारी भागसिंह शेखावत, स्पेशल टीम प्रभारी विजयसिंह, एएसआईमनोज कुमार, रामनारायण, कुम्भाराम, हैड कांस्टेबल मनोहरसिंह, दुर्गेशसिंह, श्रीकिशन, सिपाही रतनसिंह, जोगेन्द्रसिंह, नरेन्द्र, नगेन्द्रसहिं, हरिराम व तयैब हुसैन शामिल थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

WP2Social Auto Publish Powered By : XYZScripts.com
Skip to toolbar