बाल दिवस पर नौनिहालों ने याद किया चाचा नेहरू को

बिजयनगर (खारीतट सन्देश) बाल दिवस पर मंगलवार को बिजयनगर व गुलाबपुरा के विभिन्न विद्यालयों में देश के प्रथम प्रधानमंत्री जवाहरलाल नेहरू को याद किया। बच्चों ने चाचा नेहरू के चित्र पर पुष्प अर्पित कर उनके बताए मार्ग पर चलने का संकल्प लिया। बच्चों ने कहीं चाचा नेहरू पर आधारित कविताएं पढ़ी तो कहीं उनके संस्मरण सुनाए। स्थानीय सरस्वती उच्च माध्यमिक विद्यालय में छात्र/छात्राओं व अध्यापकों ने बड़े उत्साह के साथ चाचा नेहरू के बारे में कविताऐं पढ़ी व उनकी जीवनी पर प्रकाश डालते हुए शिक्षकों ने अपने विचार व्यक्त किए। कार्यक्रम के अध्यक्ष चेतनकुमार जैन ने सभी का धन्यवाद ज्ञापित किया। कार्यक्रम का संचालन वार्ता ठाकुर ने किया। स्थानीय राजकीय नारायण उच्च माध्यमिक विद्यालय में मुख्य अतिथि पार्षद अशोक आलोरिया थे। आलोरिया ने अपने उद्बोधन में 3 से 4 वर्ष के बच्चों को प्राथमिक कक्षाओं से जोडऩे का आह्वान किया एवं शिक्षकों को बच्चों के सर्वागीण विकास करने के लिए प्रेरित किया। इस अवसर पर प्रधानाचार्य सुनिल कुमार व्यास ने छात्रों व स्टॉफ सदस्यों को यह विश्वास दिलाया कि किसी भी गली-मोहल्ले में 6 से 14 वर्ष आयु का बच्चा शिक्षा से वंचित ना रहे ऐसा प्रयास किया जाएगा। इस अवसर पर कक्षा 1 से 12 तक 30 छात्र/छात्राओं ने बाल दिवस पर अपने विचार व्यक्त किए व कविता प्रस्तुत की। कार्यक्रम में प्रात: 11 बजे 100 छात्र/छात्राओं ने तिरंगा प्रतीकात्मक दृश्य में गुब्बारे आकाश में छोड़े। कार्यक्रम का संचालन प्रभारी मंजू शर्मा ने किया।


बरल द्वितीय में संस्कार विद्या मंदिर में खेलकूद प्रतियोगिता का आयोजन रखा गया। समारोह के मुख्य अतिथि संजय शर्मा (व्याख्याता राउमावि बरल द्वितीय), अध्यक्ष कैलाश नागला (राबाउप्रावि बरल द्वितीय), विशिष्ठ अतिथि सत्यनारायण जोशी (संचालक फैथ एकेडमी मावि बरल द्वितीय), पुखराज जाट (अध्यापक राउमावि बरल द्वितीय) व वार्ड पंच सद्दीक मोहम्मद के सान्निध्य में आयोजित हुआ। प्रतियोगिता का शुभारम्भ मुख्य अतिथि संजय शर्मा ने फीता काटकर किया। विद्यालय के संस्था प्रधान द्वारा खेलकूद प्रतियोगिता पर प्रकाश डाला गया व खेलकूद के उद्देश्य व महत्व के बारे में बताया गया। समारोह के अंत में कार्यक्रम संचालक व संस्था प्रधान श्यामलाल माली ने उपस्थित अतिथियों का आभार प्रकट किया। समारोह में विभिन्न प्रतियोगिताएं आयोजित की गई ।


इसी तरह सुभाष विद्या निकेतन उच्च प्राथमिक विद्यालय में कार्यक्रम की शुरुआत संस्था प्रधान रेणु शर्मा ने दीप प्रज्जवलित कर की। प्रतियोगिातओं का आयोजन किया गया जिसमें मुख्य आकर्षण का केन्द्र छोटे बच्चों की जलेबी दौड़ व सामान्य ज्ञान प्रतियोगिता रही। संस्था सचिव सुरेश कुमार शर्मा ने बाल दिवस के बारे में जानकारी दी। अंत में प्रतियोगिता में विजेता रहे छात्रों को पारितोषिक देकर उनका उत्साहवर्धन किया गया।


स्थानीय सेंट पॉल स्कूल में समारोह का शुभारम्भ फादर द्वारा दीप प्रज्जवलन कर ईश वंदना कर किया गया। कार्यक्रम के दौरान विद्यालय के शिक्षकणों द्वारा आकर्षक नृत्य प्रस्तुतियां प्रस्तुत की गई। साथ ही अध्यापकगणों द्वारा एक लघु नाटिका का मंचन किया गया जिसका उद्देश्य बच्चों को भारत की सभ्यता व संस्कृति का महत्व बताना था। अंत में प्रधानाचार्य द्वारा एक प्रेरणादायक गीत प्रस्तुत किया गया।


केशन इंटरनेशनल स्कूल में बाल दिवस पर कई कार्यक्रमों का आयोजन हुआ। विद्यार्थियों ने खेल-कूद, सांस्कृतिक कार्यक्रमों में भाग लिया। सांस्कृतिक कार्यक्रम में बच्चों ने सुंदर नृत्य व नाटक का प्रदर्शन किया। छात्रों ने अध्यापक बन छात्रों को पढ़ाया। कार्यक्रम का संचालन छात्र प्रमुख महेन्द्र जाट, रशीद मंसूरी, छात्रा प्रमुख मीना कठात व अदिति शर्मा ने किया। प्रधानाचार्य मिथलेश शर्मा ने सभी विद्यार्थियों को धन्यवाद ज्ञापित किया। इस अवसर पर प्रतियोगिता में श्रेष्ठ प्रदर्शन करने वाले छात्र/छात्राओं का विद्यालय निदेशक बी.आर. पुरोहित ने पुरस्कृत किया।

आशा पब्लिक स्कूल में बाल दिवस पर कार्यक्रम आयोजित किया गया जिसमें विद्यार्थियों ने खेलकूद, स्टॉल लगाने आदि का प्रदर्शन किया। इस अवसर पर विद्यालय सचिव गिरीराज तौषिक ने सभी छात्र/छात्राओं को पेंसिल व टॉफी देकर प्रोत्साहित किया। कार्यक्रम में बच्चों ने पं. जवाहरलाल नेहरू की जीवनी पर प्रकाश डाला, कार्यक्रम के अंत में विद्यालय सचिव तौषिक द्वारा बच्चों को स्वावलम्बी बनने की प्रेरणा दी।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published.

WP2Social Auto Publish Powered By : XYZScripts.com
Skip to toolbar