उन्नतीस अक्टूबर को नई पार्टी का ऐलान करेंगे बेनीवाल

जयपुर। राजस्थान में तीसरे मोर्चे के गठन का प्रयास कर रहे निर्दलीय विधायक हनुमान बेनीवाल आगामी उन्नतीस अक्टूबर को नई पार्टी की घोषणा करेंगे। बेनीवाल ने आज मीडिया को यह जानकारी देते हुए बताया कि वह नई पार्टी का ऐलान उनकी जयपुर में 29 अक्टूबर को होने वाली पांचवीं किसान हुंकार रैली में करेंगे। उन्होंने इस रैली में लाखों लोगों के आने का दावा करते हुए कहा कि वह लाखों लोगों के बीच नई पार्टी की घोषणा करेंगे।

उन्होंने कहा कि इसके बाद समान विचारधारा वाली अन्य पार्टियों के साथ तीसरा मोर्चा खड़ा किया जायेगा। उन्होंने कहा कि भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) एवं कांग्रेस का विरोध करने वाली पार्टियों को इससे जोड़ने का प्रयास किया जायेगा। उन्होंने तीसरे मोर्चे पर कहा कि भाजपा एवं कांग्रेस दोनों ही पार्टियों ने बारी बारी से जनता के साथ धोखा किया है, इसलिए उनका मकसद चुनाव में इन दोनों को हराना है। उन्होंने कहा कि ये दोनों पार्टियां एक दूसरे के काले कारनामें ढकती रहती हैं, इसलिए अब बदलाव का समय आ गया हैं और सभी कौम के युवा और किसान मिलकर यह बदलाव लायेंगे।

निर्दलीय विधायक ने कहा कि उन्होंने राज्य में किसानों की संपूर्ण कर्जमाफी, किसानों के लिए स्वामीनाथन आयोग की सिफारिशों को लागू करने, पूरे राजस्थान को टोल मुक्त करने, किसानों को मुफ्त बिजली देने सहित कई मांगों को लेकर प्रदेश में नागौर, बाड़मेर, बीकानेर तथा सीकर में किसान हुंकार रैली की हैं जिसमें जनता ने उनका साथ दिया हैं। उन्होंने कहा कि सरकार नेे इन मांगों पर कोई ध्यान नहीं दिया हैं और लोग परेशान हैं, इसलिए वह प्रदेश में तीसरा मोर्चा खड़ा करना चाह रहे हैं।

उन्होंने कहा कि जयपुर में उनकी पांचवीं किसान हुंकार रैली होगी जिसमें लाखों लोगों के आने की संभावना हैं और वहीं से वह नई शुरुआत करेंगे। प्रदेश में तीसरे विकल्प को लेकर उनका साथ देने वाले बाद में भाजपा में लौट आये सांसद डा़ करोड़ी लाल मीणा के बारे में पूछे गये प्रश्न पर श्री बेनीवाल ने कहा कि उनसे अच्छे संबंध रहे है लेकिन वर्तमान में उनसे कोई तालुक नहीं हैं। हालांकि उन्होंने कहा कि भाजपा छोड़कर नई पार्टी बनाने वाले घनश्याम तिवाड़ी उनके संपर्क में हैं और नई पार्टी बन जाने के बाद भाजपा एवं कांग्रेस की खिलाफत करने वाले हर दल को तीसरे मोर्चे से जोड़ने का प्रयास रहेगा।

उल्लेखनीय है कि वर्ष 2008 के विधानसभा चुनाव में श्री बेनीवाल नागौर जिले में खींवसर विधानसभा क्षेत्र से भाजपा उम्मीदवार के रुप में चुनाव लड़ा और विधायक चुने गये। बाद में वह भाजपा से अलग हो गये और वर्ष 2013 के चुनाव में वह निर्दलीय विधायक निर्वाचित हुए। श्री बेनीवाल और राजपा में रहते डा़ मीना ने भाजपा और कांग्रेस दोनों पार्टियों पर बारी बारी से शासन कर जनता को ठगने का आरोप लगाते हुए तीसरे विकल्प के लिए प्रयास शुरु किया और जनता के बीच जाने लगे और सात दिसम्बर 2016 को नागौर में किसान हुंकार रैली की। इसमें डा़ मीना ने भी शिरकत की थी। इसके बाद डा़ मीना ने श्री बेनीवाल से दूरिया बना ली और वह राजपा छोड़कर फिर भाजपा में शामिल हो गये और राज्यसभा सांसद चुने गये।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

WP2Social Auto Publish Powered By : XYZScripts.com
Skip to toolbar