हिन्दू समाज का एकजुट होना जरूरी-डॉ. क्षमाशील

पथ संचलन के बाद स्वयंसेवकों को किया सम्बोधित, अहिंसा के साथ राष्ट्रविरोधी ताकतों से निपटने के लिए कमर कसने-आमेटा
बिजयनगर । हिन्दू समुदाय के कल्याण के लिए इस समुदाय को एकजुट होना आज की महती आवश्यकता है। यह बात राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के ब्यावर जिला संचालक डॉ. क्षमाशील ने कही। डॉ. क्षमाशील राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ की ओर से आयोजित द्विवेणी पथ संचलन एवं विजयादशमी उत्सव के अवसर पर कृषि उपज मंडी में स्वयंसेवकों की सभा को सम्बोधित कर रहे थे।

उन्होंने कहा कि भारत में पहले विदेशी आक्रांताओं ने इस देश को लूटा और इसके बाद धार्मिक कट्टरता को बढ़ावा देते हुए हिन्दुओं की संस्कृति पर हमले हुए और वर्तमान समय में हिन्दुओं की घार्मिक आस्था और विचारों पर फिरकापस्त ताकतें सुनियोजित तरीके से हमला कर रही हैं। ऐसे में हिन्दू समुदाय को एकजुट होकर पूरी ताकत के साथ ऐसी कुत्सित प्रयास करने वालों को जवाब देना होगा। स्वयंसेवकों को चाहिए कि वे राष्ट्र सेवा के लिए हमेशा तत्पर रहकर कार्य करें।

सभा से पूर्व कस्बे में स्वयंसेवकों की ओर से द्विवेणी पथ संचलन निकाला गया। कस्बे के स्वयंसेवक मिल चौक स्थित हर्ष पैलेस प्रांगण में एकत्रित हुए। वहीं आस-पास की ग्रामीण शाखाओं के स्वयंसेवक तेजा चौक में एकत्रित हुए। दोनों स्थानों से दोपहर 1 बजकर पांच मिनट पर पथ संचलन का शुभारम्भ किया गया। दोनों स्थानों से कदमताल और घोष की धुन के साथ निकले स्वयंसेवकों का विवेकानन्द चौराहे पर हुआ संगम देखने लायक था। शहर के विभिन्न गली-मोहल्लों व बाजारों में लोगों ने पुष्प वर्षा कर स्वयंसेवकों का उत्साहवद्र्धन किया।

गुलाबपुरा। कस्बे में रविवार को राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ की ओर से पथ संचलन निकाला गया। पथ संचलन का शुभारम्भ पेच एरिया से किया गया। घोष की धुन पर कदमताल करते हुए पथ संचलन में स्वयंसेवक चल रहे थे। जिस गली-मोहल्ले में भी पथ संचलन का जुलूस निकला, वहां लोगों ने पुष्प वर्षा के साथ स्वागत किया। पथ संचलन के बाद स्वयंसेवकों की बौद्धिक सभा आयोजित की गई। बौद्धिक में भीलवाड़ा के विभाग के कार्यवाह ओमप्रकाश आमेटा ने कहा कि वर्तमान समय में अहिंसा के साथ राष्ट्रविरोधी ताकतों से निपटने के लिए कमर कसने की जरूरत है। देश में वर्तमान में नक्सलवाद, आतंकवाद, कश्मीर समस्या, लव-जेहाद व नारी उत्पीडऩ के खिलाफ जन-जागरण की आवश्यकता हैं। इस अवसर पर उन्होंने विजय दशमी पर्व के महत्व पर विस्तृत प्रकाश डालते हुए कहा कि यह पर्व बुराई पर अच्छाई की जीत का प्रतीक है।

मुस्लिम भाईयों ने की पुष्प वर्षा
गुलाबपुरा में संवेदनशील माहौल को देखते हुए जिला प्रशासन ने पथ संचलन के मद्देनजर कस्बे में भारी पुलिस बल तैनात किया था। पथ संचलन के मार्ग पर सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए पुलिसकर्मी भी बड़ी संख्या में उनके साथ चल रहे थे। पथ संचलन जब तेलीपाड़ा और भदादा बाग क्षेत्र से गुजरा तो मुस्लिम भाईयों ने पुष्प वर्षा कर स्वयं सेवकों का स्वागत किया। पुष्प वर्षा कर मुस्लिम भाईयों ने साम्प्रदायिक सौहार्द की मिशाल पेश की। वहीं प्रशासन ने राहत की सांस ली।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

WP2Social Auto Publish Powered By : XYZScripts.com
Skip to toolbar