घायल थानाप्रभारी की हालत चिंताजनक

संदिग्ध हत्यारे की तलाश में यूपी गए बिजयनगर पुलिस दल के वाहन की कंटनेर से हुई भिड़न्त
बिजयनगर। बिजयनगर थाना क्षेत्र में हाइवे पर सथाना के निकट गत 13 अक्टूबर को गला घोट कर हत्या करने के बाद फेंकी गई लाश के मामले में संदिग्ध हत्यारे की तलाश में थानाप्रभारी के नेतृत्व में पिछले दिनों यूपी गए बिजयनगर पुलिस दल का वाहन संबल (यूपी) में दुर्घटनाग्रस्त हो गया। दुर्घटना में कार में सवार मृतक की ट्रांसपोर्ट कम्पनी के मुनीम की मौके पर ही मौत हो गई वहीं बिजयनगर थानाप्रभारी भागसिंह व तीन पुलिसकर्मी घायल हो गए।

घायल थानाप्रभारी को जयपुर के फोर्टिस अस्पताल में भर्ती कराया गया जहां उनकी हालत चिन्ताजनक बनी हुई है। जानकारी के अनुसार गत 13 अक्टूबर को हाइवे पर सथाना गांव के निकट ट्रक ड्राइवर यूनुस खान (35) निवासी अलवर की लाश बिजयनगर पुलिस ने सड़क किनारे झाडिय़ों से बरामद कर पोस्टमार्टम कराया था। पोस्टमार्टम में यह खुलासा हुआ कि मृतक की मौत गला घोटने के कारण हुई है। इस पर बिजयनगर पुलिस ने अज्ञात के खिलाफ हत्या का मामला दर्ज कर जांच शुरू की। मृतक की शिनाख्त होने के बाद बिजयनगर पुलिस ने मृतक के ट्रांसपोर्ट के मालिक व कर्मचारियों से भी पूछताछ की। इसके बाद रविवार शाम को ट्रासपोर्ट के ही संदिग्ध ड्राइवर व खलासी की तलाश में बिजयनगर पुलिस का दल थानाप्रभारी भागसिंह शेखावत के नेतृत्व में मय जाप्ता यूपी के लिए रवाना हुआ।

पुलिस दल बिजयनगर से कार में सवार होकर निकला और अपने साथ संदिग्ध की पहचान के लिए ट्रासपोर्ट कम्पनी के एक मुनीम को भी अपने साथ लेकर यूपी के संबल जा रहे थे। इसी दौरान सोमवार सुबह करीब साढ़े छह बजे पुलिस दल की कार सामने की ओर से आ रहे कंटेनर से टकरा गई। टक्कर इतनी जबरदस्त थी की कार का अगला हिस्सा बुरी तरह क्षतिग्रस्त हो गया और उसमें सवार ट्रांसपोर्ट कम्पनी के मुनीम की मौके पर ही मौत हो गई तथा उसमें सवार थानाप्रभारी भागसिंह शेखावत के सिर में गम्भीर चोट लगने के कारण घायल हो गए।

इसके अलावा कांस्टेबल नरेन्द्रसिंह, सुरेशचन्द्र एवं नवलसिंह भी घायल हो गए। सूचना मिलने पर एसपी के निर्देश पर मसूदा थानाप्रभारी के नेतृत्व में पुलिस दल को यूपी भेजा गया। जहां मसूदा व बिजयनगर से गए पुलिस दल ने अपने साथी पुलिसकर्मियों के उपचार की व्यवस्था की इसके बाद थानाप्रभारी की गम्भीर हालत को देखते हुए उन्हें जयपुर के प्रतिष्ठित फोर्टिस हॉस्पीटल में भर्ती कराया गया। जहां उनकी हालत स्थिर एवं चिन्ताजनक बनी हुई है। वहीं कांस्टेबल नरेन्द्रसिंह को पोरवाल हॉस्पीटल भीलवाड़ा व नवलसिंह को मेवाड़ हॉस्पीटल अजमेर में भर्ती कराया गया। तीसरे पुलिसकर्मी सुरेशचन्द्र को प्राथमिक उपचार के बाद अस्पताल से छुट्टी दे दी गई है।

कांस्टेबल नरेन्द्र का दुर्भाग्य
दुर्घटना में घायल हुए बिजयनगर थाने के कांस्टेबल नरेन्द्रसिंह (30) निवासी ब्यावर कुछ समय पूर्व बिजयनगर थाना भवन के समीप एक दुर्घटना में घायल होने के बाद हाल ही में ड्यूटी पर लौटे थे इसके बाद थाना प्रभारी अपने साथ नरेन्द्र को भी यूपी ले गए तो इस बार दुर्भाग्यवश दूसरी बार वो एक बार फिर घायल हो गए। पुलिसकर्मियों ने अपने साथी नरेन्द्र के प्रति गहरी सहानुभूति जताते हुए उनके शीघ्र कुशल होकर ड्यूटी पर लौटने की कामना की है।

गहन चिकित्सा इकाई में है भर्ती शेखावत
बिजयनगर थानाप्रभारी भागसिंह शेखावत के सिर में गम्भीर चोट होने के कारण दुर्घटना में गंभीर घायल हो गए थे। जिन्हें यूपी के अस्पताल में प्राथमिक उपचार के बाद जयपुर के फोर्टिस अस्पताल में रेफर कर दिया गया। जहां वे अस्पताल की गहन चिकित्सा इकाई में भर्ती है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

WP2Social Auto Publish Powered By : XYZScripts.com
Skip to toolbar