राज्य की भाजपा सरकार की चुनाव बाद विदाई तय: सिंघवी

जयपुर। प्रदेश में विधानसभा चुनाव में जीत दर्ज़ कर सत्ता पाने को लेकर कांग्रेस पार्टी ने पूरी ताकत झोंक दी है। कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी के प्रदेश में लगातार हो रहे दौरे के बाद पार्टी अब राष्ट्रीय स्तर के अन्य नेता ही राजस्थान के दौरे करने लगे हैं। राजस्थान में सत्तारूढ़ भाजपा को घेरने के लिए कांग्रेस ने बाकायदा ख़ास रणनीति बनाई है। इसी रणनीति के तहत ही पार्टी के डेढ़ दर्जन से ज्यादा केंद्रीय नेताओं को केंद्र और राज्य की भाजपा सरकारों की विफलताओं को मीडिया के सामने रखने के लिए जयपुर सहित प्रदेश के दूसरे बड़े जिलों में भेजा जा रहा है, तो वहीं स्टार प्रचारकों को भी प्रदेश में चुनाव प्रचार में झोंका जाएगा।

इसी क्रम में रविवार को कांग्रेस के वरिष्ठ नेता अभिषेक मनु सिंघवी जयपुर पहुंचे। यहां प्रदेश कांग्रेस कमिटी में आयोजित एक प्रेस कांफ्रेंस में उन्होंने राज्य की वसुंधरा सरकार को चौतरफा घेरने की कोशिश की।

अभिषेक मनु सिंघवी की प्रेस कांफ्रेंस की प्रमुख बातें:
‘राजस्थान में कानून व्यवस्था भगवान भरोसे’
‘महिलाओं और बच्चों पर अपराध बढे’
‘राजस्थान की जनता का सरकार से उठ गया है विश्वास’
‘गंभीर अपराधों में हुआ इजाफा’
‘महिला उत्पीड़न में राजस्थान चौथे स्थान पर पहुंच गया’
‘मानव तस्करी में है दूसरे स्थान पर’
‘अपहरण के मामलों में आठवें स्थान पर’
‘हत्याओं के मामले में आठवें स्थान पर ‘
‘साइबर अपराध के मामले में चौथे स्थान पर’
‘केंद्र और राज्यों में विफल हुई भाजपा सरकार ‘
‘राम मंदिर मुद्दे पर भाजपा कर रही सस्ती राजनीति’
‘चुनाव से पहले राम मंदिर क्यों याद आता है?’
‘राम मंदिर अध्यादेश की याद चार साल तक क्यों नहीं आई?’
‘नोटबंदी का जश्न क्यों नहीं मना रही सरकार?

पार्टी के जानकार बताते हैं कि राजस्थान चुनाव के लिए स्टार प्रचारकों में उन नेताओं पर ज्यादा फोकस किया जा रहा है, जिनका जुड़ाव राजस्थान से रहा है, या यहां से सांसद रहे हैं। इसके अलावा पडोसी राज्यों हरियाणा, पंजाब, और उत्तर प्रदेश के साथ ही पार्टी के केंद्रीय युवा चेहरों को भी प्रचार में उतारने की रणनीति बन रही है।

बताया जाता है कि केंद्रीय नेताओं में आनन्द शर्मा, अभिषेक मनु सिंघवी, सांसद दीपेंद्र सिंह हुड्डा का नाम प्रमुख रूप से सामने आ रहा है। आनंद शर्मा और अभिषेक मनु सिंघवी जहां प्रदेश से राज्यसभा सांसद रहे हैं, वहीं सांसद दीपेंद्र सिंह हुड्डा एक ससुराल भी यहीं हैं साथ ही ये एक वर्ग विशेष में खासे प्रसिद्ध है। वहीं पार्टी नेता विधानसभा चुनाव में मतदाताओं को लुभाने के लिए सेलीब्रिटी को प्रचार में उतारने पर विचार कर हैं। इनमें भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व कप्तान अजहरुद्दीन, पूर्व क्रकेटर और पंजाब सरकार में मंत्री नवज्योत सिंह सिद्धू, फिल्म हस्तियों में राजबब्बर, नगमा को भी चुनाव प्रचार में उतारने पर विचार चल रहा है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

WP2Social Auto Publish Powered By : XYZScripts.com
Skip to toolbar