विमुद्रीकरण का कदम देश के लिए वरदान साबित होगा-कटारिया

उदयपुर। (वार्ता) राजस्थान के गृह मंत्री गुलाबचंद कटारिया ने कहा है कि काला धन और भ्रष्टाचार पर नियन्त्रण करने के लिए प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी द्वारा उठाया गया विमुद्रीकरण का ऐतिहासिक कदम आने वाले वर्षो में देश के लिए वरदान साबित होगा।
श्री कटारिया आज यहां मोहनलाल सुखाड़िया विश्वविद्यालय के वाणिज्य एवं प्रबन्ध अध्ययन महाविद्यालय और जनार्दन राय नागर राजस्थान विद्यापीठ डीम्ड वि.वि. तथा इंडियन एकाउन्टिंग एसाेसिएशन उदयपुर के संयुक्त तत्वावधान में आयोजित 40वीं अखिल भारतीय लेखांकन अधिवेशन एवं लेखांकन शिक्षा तथा शोध पर अंतरराष्ट्रीय संगोष्ठी का उद्घाटन करने के बाद आयोजित समारोह में बोल थे। उन्होंने कहा कि वित मन्त्रालय ने तीन लाख संदिग्ध खातों की पहचान की है जिनके आय व्यय का ब्योरा संतोषजनक नहीं पाया गया है।
उन्होंने बताया कि विमुद्रीकरण का सभी भारतीयों ने समर्थन किया तथा बिना किसी विरोध के देश के सुधार में सहभागी बनें। उन्होंने कहा कि लेखांकन शिक्षा का एक ऐसा क्षेत्र है जिस पर निरन्तर विचार विमर्श करने तथा नवाचार लाने की आवश्यकता है, जिससे न केवल कुशल युवा लेखाकार तैयार किये जा सके वरन नैतिक दृष्टि से सुदृढ़ आचरण वाले पेशावरों की साश्वत संख्या समाज को उपलब्ध हो सके।
इंडियन अकाउन्टिंग एसोसिएशन के सामान्य सचिव और केरेल विश्वविद्यालय के प्रो. सिमन थटिल ने बताया कि भारत में लेखांकन की नवीन पद्धति अपनाकर सेबी, आर.बी.आई को नये आयाम लागू करने चाहिए।
समारोह को इंडियन अकाउन्टिग एसोसिएशन के अध्यक्ष और लखनऊ विश्वविद्यालय के प्रो.अरविंद कुमार, अमेरिकन अकाउन्टिंग एसोसिएशन और येले स्कूल ऑफ मैनेजमेन्ट अमेरिका के प्रो.श्याम सुंदर, विद्यापीठ वि वि के कुलपति एस एस सारंगदेवोत, मोहनलाल सुखाडिया विश्वविद्यालय के कुलपति प्रो.जे.पी.शर्मा ने भी संबोधित किया।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

WP2Social Auto Publish Powered By : XYZScripts.com
Skip to toolbar