सऊदी अरब में फंसी हैं एक हजार लड़कियां-रीना

जालंधर। देश से बेहतर भविष्य के सपने संजोए सऊदी अरब जा रहीं लड़कियां ट्रैवल एजेंटों के धोखे के कारण वहां नरक से भी बदतर जीवन जीने को मजबूर हैं।

विदेश मंत्री सुषमा स्वराज तथा दमदमी टकसाल के सहयोग से सऊदी से बच कर आई पंजाब के टांडा उड़मुड़ की लड़की रीना ने आज संवाददाता सम्मेलन में यह जानकारी दी।
उसने बताया कि वह 16 अक्टूबर 2016 को एक ट्रेवल एजेंट के जरिये सऊदी अरब गयी थी लेकिन वहां उसके मालिक शेख परिवार ने उसे बंधक बनाकर काम करवाया तथा उसके साथ अमानवीय व्यवहार किया।
उसने बताया कि उसे तय किए गए वेतन का भी आधा वेतन ही दिया गया।

रानी ने सोशल मीडिया पर संदेश भेज कर श्रीमती स्वराज से उसे बचाने की गुहार लगाई थी।
रानी कल ही वापस अपने परिवार के पास पहुंची है।
उसने बताया कि उसके जैसी लगभग एक हजार लड़कियां अभी भी सऊदी अरब में शेखों के चुंगल में फंस कर नरक का जीवन जी रही हैं और श्रीमती स्वराज से उन्हें बचाने की गुहार लगा रही हैं।

संवाददाता सम्मेलन में उपस्थित दमदमी टकसाल के संदीप सिंह ने बताया कि उन्होंने रानी का वीडियो फेसबुक पर देखा था जिसके बाद उसके घरवालों से संपर्क कर दिल्ली के एजेंट से संपर्क किया।
उन्होंने बताया कि एजेंट ने बताया कि शेख परिवार को दो लाख रुपये देने के पश्चात ही वह भारत वापस आ सकती है।
उन्होंने बताया कि दमदमी टकसाल के जसबीर सिंह खालसा और गुरनेक सिंह खालसा की मदद से यह पैसे सऊदी अरब भेजे गए और रीना को देश वापस लाया जा सका।
उन्होंने बताया कि दमदमी टकसाल सऊदी अरब में फंसी अन्य लड़कियों को भी भारत वापस लाने के लिए प्रयास करेगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

WP2Social Auto Publish Powered By : XYZScripts.com
Skip to toolbar