वरघोडे़ में उमडे़ श्रावक-श्राविकाएं, विद्युतप्रभाश्री जी म.सा. का मंगल प्रवेश

खरतरगच्छाधिपति आचार्य प्रवर मणिप्रभ सुरिश्वर जी महाराज की आज्ञानुवर्ती प.पू. गुरूवर्या डॉ. विद्युतप्रभाश्री म.सा. एवं साध्वी डॉ.नीलांजनाश्री म.सा. के पावन सानिध्य में शुरू हुआ जाजम मुहूर्त

जाजम बिछाने की पहली बोली के लाभार्थी  श्रीमतीपुष्पाकंवर, विनयराज, याेगेन्द्रराज सिंघवी

 

बिजयनगर। स्थानीय राजदरबार कॉलाेनी में निर्माणाधीन अंजनशलाका प्रतिष्ठा महोत्सव के तहत रविवार प्रात 07:30 बजे  श्री श्वेताम्बर मूर्ति पूजक संघ व नाकोड़ा भैरव मंदिर ट्रस्ट के संयुक्त तत्वावधान में महेश पब्लिक स्कूल के बाहर से बैंड-बाजों के साथ खरतरगच्छाधिपति आचार्य प्रवर मणिप्रभ सुरिश्वर जी महाराज की आज्ञानुवर्ती प.पू. गुरूवर्या डॉ. विद्युतप्रभाश्री म.सा. का मंगल प्रवेश वरघोड़ा निकाला गया, जिसमें सैकड़ों श्रावक-श्राविकाएं मौजूद थे।  वरघोड़ा शहर के मुख्य मार्गो से होता हुआ 08:15 बजे  महावीर बाजार स्थित संभवनाथ जैन मंदिर पहुँचा। जहां से मांगलिक लेकर 09:15 बजे  राजदरबार कॉलोनी स्थित श्री नाकोड़ा पार्श्वनाथ भैरव मंदिर पहुँचा। वरघोड़े के साथ सभी सर्व समाज सहित श्रावक/श्राविकाएं नाचते गाते चल रहे थे। इस दौरान सोहनलाल तातेड़, प्रतापचन्द सांड, मदनगोपाल बाल्दी, ज्ञानचन्द कोठारी, मूर्तिपूजक ट्रस्ट मंत्री टीकमचंद गोखरू, संघ अध्यक्ष विमल कोठारी, पारसमल गेलड़ा, उपाध्यक्ष सम्पतराज बाबेल, श्री नाकौड़ा पार्श्वनाथ भैरव मंदिर अध्यक्ष योगेन्द्रराज सिंघवी, मंत्री पवन बोरदिया, कोषाध्यक्ष पुखराज डांगी, मंत्री विमल धम्माणी, जितेन्द्र छाजेड़, भागचन्द चौधरी, मनन कोगटा, चिरंजीलाल नवाल, पालिकाध्यक्ष सचिन सांखला, पार्षद दातारसिंह नरूका, प्रीतम बडौला, महावीर कचारा, दिलीप मेहता, प्रेमचन्द सेन, संजय काशलीवाल, संदीप सांखला, राजेश बाफणा, सुरेन्द्र पीपाड़ा, विनय कर्नावट, संजय बड़ौला, अंकित सांड, अंकित लोढ़ा, अविनाश गादिया, संजय कुमावत, राजकुमार काल्या, जितेन्द्र मुणोत, महावीर पामेचा, विश्वनाथ पाराशर, नौरतमल भण्डारी, पवन मंडिया, आशीष सांड, बसंत भण्डारी, निहालचन्द मुणोत, महेन्द्र बोरदिया, प्रकाश पोखरना, संजय सांड, अनिल बोहरा, कुशलचन्द सांड, मनोहर कोगटा, अरविन्द लोढ़ा, अक्षय कोठारी सहित कस्बे के सामाजिक संगठनों में माहेश्वरी समाज, लायंस क्लब, लियो क्लब, जैन सोश्यल ग्रुप के सदस्यगण मौजूद रहे।

 

अंजनशलाका प्रतिष्ठा महोत्सव निमित्ते जाजम मुहूर्त्त की पहली बोली के लाभार्थी पुष्पाकंवर, विनयराज, याेगेन्द्रराज सिंघवी के नाम रही।

यह होंगे चढ़ावें

12 मार्च 2018 को होने वाले अंजनशलाका प्रतिष्ठा महोत्सव के तहत मूलनायक श्री नाकोड़ा पार्श्वनाथ, अदिष्टायक देव श्री नाकोड़ा भैरव, दादा जिन कुलश सूरी, माता पदमावती, माता अम्बिका, गुरूदेव जिनकान्तिसागर सूरीजी म. सहित अन्य प्रतिमाओं को भराने के चढ़ावे होंगे। इसके अलावा मंगलमूर्तियों, पंच धातु की प्रतिमाए अंजन हेतू परमात्मा की धातु प्रतिमाए नवपद गट्टा, अष्टमंगल की पाटली, 8 मार्च से 12 मार्च तक की नौकारसी व स्वामी वातसल्य, वेदिका पूजन, कुंभ स्थापना पूजन, दीप स्थापना पूजन, जवारारोपण, भैरव पूजन, क्षेत्रपाल पूजन, षोडश पूजन, 64 योगिनी पूजन, दशदिकपाल पूजन, नवग्रह पूजन, अष्टमंगल पूजन, लघुसिद्धच पूजन, लघु वीशस्थानक पूजन, श्री सतरहभेदी पूजा, परमात्मा के 18 अभिषेक, दादा गुरूदेव के अभिषेक, देव अभिषेक, देवी अभिषेक, ध्वजदंड, स्वर्णकलश अभिषेक, प्रासाद अभिषेक, देवी पूजन, श्री महावीर स्वामी षटकल्याणक पूजाएं श्री शान्तिनाथ पंचकल्याणक पूजा, श्री दादा गुरूदेव की पूजा, श्री बृहत्शांतिस्नात्र महापूजन इत्यादी पूजाओं के चढ़ावे होंगे। इसी प्रकार अंजनशलाका के तहत भगवान के माता-पिता, इन्द्र-इन्द्राणी, मामा-मामी, सास-ससुर, भुआ-भुआडोजी, भगवान की बहिन, कुलमहत्तरा, महामंत्री, राजपंडित, राजज्योतिषी, प्रियवंदा सखी, हरिणगमेषी देव, सेनापति, खजांची, भंडारी, छडीदार इत्यादी बनने के चढ़ावे बोले जाएंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

WP2Social Auto Publish Powered By : XYZScripts.com
Skip to toolbar