सेना लालगढ हवाई पट्टी का उपयोग कर सकेगी

जयपुर। भारत – पाकिस्तान सीमा पर श्रीगंगानगर के लालगढ जाटान हवाई पट्टी को सेना दस साल उपयोग कर सकेगी।
राजस्थान की सुरक्षा को मद्देनजर रखते हुए सेना को राज्य सीमा पर आधारभूत सुविधा बढ़ाने की दृष्टि से राज्य सरकार ने सकारात्मक कदम उठाते हुए नागरिक उड्डयन विभाग एवं भारतीय सेना के मध्य आज शासन सचिवालय में एमओयू पर हस्ताक्षर किये गए। इस समझौते के अन्तर्गत भारतीय सेना 10 वर्ष के लिए इस हवाई पट्टी का उपयोग कर सकेगी एवं यहां सेना जरूरत के अनुसार अस्थायी निर्माण भी करवा सकेगी।
नागरिक उड्डयन विभाग के प्रमुख शासन सचिव पवन गोयल ने इस अवसर पर बताया कि श्रीगंगानगर के लालगढ़-जाटान में स्थित हवाई पट्टी पाकिस्तान बार्डर पर स्थित होने के कारण सुरक्षा की दृष्टि से बेहद महत्वपूर्ण है। उन्होंने बताया कि राज्य सरकार की रक्षा मुद्दे पर सोच सकारात्मक एवं गम्भीर है। इसके लिए राज्य सरकार ने 4 करोड़ रुपये की स्वीकृति जारी की है।
उन्होंने बताया कि प्रमुख शासन सचिव नागरिक उड्डयन विभाग की अध्यक्षता में एक समिति का गठन भी किया जा रहा है। इस मौके पर बिग्रेडीयर जयसिंह ने बताया यह एमओयू अत्यन्त अनिवार्य था। इसके होने से प्रशासनिक एवं ऑपरेशनल कार्य करने में सहयोग मिलेगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

WP2Social Auto Publish Powered By : XYZScripts.com
Skip to toolbar