लखनऊ में ट्रेन डिरेल कराने की कोशिश नाकाम

रेल ट्रैक से प्लेट के गायब होने की सूचना सुबह 4 बजकर 10 मिनट पर हुई,  करीब ढाई घंटे के बाद रेल ट्रैक सामान्य हुआ।

लखनऊ। राजधानी में डॉलीगंज से बादशाहनगर के बीच बने रेल ट्रैक से 77 फिश प्लेट गायब थी । रेल कर्मचारियों को जानकारी रविवार सुबह 4 बजकर 10 मिनट पर हुई। पूर्वोतर रेलवे के पीआरओ आलोक श्रीवास्तव ने कहा, “पटरियों से प्लेट के गायब होने की जानकारी मिलने के बाद इंजीनियरिंग टीम 15 मिनट में मौके पर पहुंच गई। करीब ढ़ाई घंटें में हमने ट्रैक  सामान्य कर दिया था।

पूर्वोतर रेलवे के पीआरओ आलोक श्रीवास्तव ने कहा  गैंगमैन की सूचना पर जब इंजीनियरिंग की टीम मौके पर पहुंची तो उसने ट्रैक के आस-पास चेक किया तो उसे 14 प्लेट मिल गई। जिसके बाद रेल अधिकारी उस ट्रैक को ठीक करने में लगे।

जांच में करीब 700 मीटर के एरिया में प्लेट गायब थी। रेल अफसरों का कहना है कि रेल ट्रैक से फिश प्लेट को निकालना इतना आसान नहीं है। इसके लिए प्लानिंग और औजार चाहिए। हमें इसमें आतंकी साजिश नजर आती है। जीआरपी के एक अफसर ने कहा आतंकी साजिश से इंकार नहीं किया जा सकता है।

इस मामले में रेलवे ने अज्ञात लोगों के खिलाफ एफआईआर दर्ज करा दी गई है। रेलवे भी अपने लेवल पर फिश प्लेट खुलने की जांच करा रहा है। स्थानीय लोगों का कहना है कि ये एक बड़ी साजिश थी। रेल कर्मचारियों की सूझबूझ से इसे नाकाम किया गया।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

WP2Social Auto Publish Powered By : XYZScripts.com
Skip to toolbar