पाकिस्तान ने सरहद पर इस साल 720 बार तोड़ा संघर्ष विराम, मारे गए 12 नागरिक

  • Devendra
  • 04/12/2017
  • Comments Off on पाकिस्तान ने सरहद पर इस साल 720 बार तोड़ा संघर्ष विराम, मारे गए 12 नागरिक

पिछले साल संघर्ष विराम उल्लंघन की 449 घटनाओं में 13 स्थानीय नागरिक मारे गए थे और 13 सुरक्षा कर्मी शहीद हो गए थे।
नई दिल्ली। पाकिस्तान ने इस साल जम्मू-कश्मीर में अंतरराष्ट्रीय सीमा और नियंत्रण रेखा के पास 720 से अधिक बार संघर्ष विराम का उल्लंघन किया है। संघर्ष विराम उल्लंघन का यह आंकड़ा पिछले सात साल में सबसे अधिक है।

केंद्रीय गृह मंत्रालय के आंकड़ों के मुताबिक, पाकिस्तानी सुरक्षाबलों ने इस साल अक्टूबर तक अंतरराष्ट्रीय सीमा एवं नियंत्रण रेखा के पास 724 बार संघर्ष विराम तोड़ा है, जबकि वर्ष 2016 में यह संख्या 449 थी। गृह मंत्रालय के एक अधिकारी ने आंकड़े का हवाला देते हुए कहा कि इस साल पाकिस्तानी गोलाबारी में कम-से-कम 12 स्थानीय नागरिक मारे गए और 17 सुरक्षा कर्मी शहीद हो गए। इसके अलावा 79 स्थानीय नागरिक और 67 सुरक्षा कर्मी घायल हुए।

पिछले साल संघर्ष विराम उल्लंघन की 449 घटनाओं में 13 स्थानीय नागरिक मारे गए थे और 13 सुरक्षा कर्मी शहीद हो गए थे। इसके अलावा 83 नागरिक एवं 99 सुरक्षाकर्मी घायल हो गए थे। अंतरराष्ट्रीय सीमा, नियंत्रण रेखा और जम्मू-कश्मीर में वास्तविक भूमि स्थिति रेखा (एजीपीएल) के पास दोनों देशों के बीच युद्ध विराम नवंबर 2003 में प्रभाव में आया था। पाकिस्तान के साथ भारत की 3,323 किलोमीटर लंबी सीमा रेखा है। इसमें जम्मू-कश्मीर में 221 किलोमीटर अंतरराष्ट्रीय सीमा रेखा और 740 किलोमीटर नियंत्रण रेखा है।

WP2Social Auto Publish Powered By : XYZScripts.com
Skip to toolbar