राशिफल 10-12-2017

आज का शुभाशुभ: रविवार दि॰ 10.12.17 चंद्र सिंह राशि व पूर्वाफाल्गुनी नक्षत्र, भाग्यांक 5, शुभरंग हरा, शुभदिशा उत्तर, राहुकाल शाम 4:30 से सायं 6 तक।

आज का महामंत्र: ॥ ॐ ह्रीं इज्याय नमः ॥ इस सूर्य मंत्र से जीवन का उत्थान होता है।

आज का विशेष उपाय: स्वयं उत्थान के लिए देवी गायत्री पर लाल गुडहल के फूल चढ़ाएं।

मेष: मनोवांक्षित इच्छाएं पूरी होंगी। पैसा आएगा और प्रियजन से मिलेंगे। मेहनत रंग लाएगी। बिजनैस में बढ़ोतरी होगी। लघु यात्रा के योग हैं।

वृष: व्यक्तिगत मसलों से तनाव बढ़ेगा। आलस्यवश जरूरी काम पैंडिंग रहेंगे। घरेलु समस्याएं फाइनेंशियल दिक्कतें पैदा कर सकती हैं।

मिथुन: घर के साज-सामान पर खर्च होगा। फाइनेंशियल प्रयासों में सफलता मिलेगी। वाद-विवाद होने का डर है अतः चुप्पी साधना बेहतर होगा।

कर्क: दांपत्य सुख की प्रचुरता रहेगी। कड़ी मेहनत से सभी कार्य हल होंगे। छात्र पढ़ाई में मन लगाएं। मन की चंचलता वश अनावश्यक विवाद होगा।

सिंह: करीबी मित्र से लाभ होगा। सभी काम आसानी से बनेंगे। अचानक कार्यों में रुकावटे आएंगी। शाम तक फाइनैंशल प्रॉब्लम हल होगी।

कन्या: सजग रहें शारीरिक कष्ट के संकेत हैं। बड़े-बुजुर्गों की सेवा में दिन बीतेगा। एकत्रित धन को इन्वैस्ट करने से इनकम में बढ़ोतरी होगी।

तुला: कठिनाई के दौर से मुक्ति मिलेगी। रिश्तों में आई कड़वाहट दूर होगी। परिजनों से सामंजस्य बनेगा। बाहर खाने का मौका मिलेगा।

वृश्चिक: मनोवांछित वस्तुएं मिलेंगी। पर्सनैलिटी प्रभावशाली बनेगी। पुराने मसले सुलझेंगे। बातचीत के दौरान उलझनों का हल निकलेगा। अप्रिय स्थितियां टलेंगी।

धनु: मित्रों से लाभ होगा। रूटीन काम में रुकावटें आएंगी। शाम तक चिंताएं घटेंगी। कामकाज में जल्दबाजी से नुकसान होगा अतः सावधानी बरतें।

मकर: परिजनों से विवाद के संकेत हैं अत: स्वयं पर नियंत्रण रखें। जोखिम से दूर रहें तो अच्छा होगा। परिश्रम के बल पर लाभ होगा।

कुंभ: लघु यात्रा होगी। रोमांस में संकोच न करें। ठाट बाट हेतु खरीदारी करेंगे। महत्वपूर्ण कार्यों से रुकावटें हटेंगी। ज्ञान क्षेत्र समृद्ध होगा।

मीन: सौदों में तत्काल लाभ होगा। प्रतिष्ठा बढ़ेगी।  शाम तक लेन-देन की चिंता रहेगी। लाभार्जन होगा। सुख-सुविधाएं बढ़ेंगी। टैंशन खत्म होगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

WP2Social Auto Publish Powered By : XYZScripts.com
Skip to toolbar