यह राज्य का नहीं केन्द्र का मामला, हर राज्य को मानना ही होगा कानून: बेनीवाल

  • Devendra
  • 25/12/2019
  • Comments Off on यह राज्य का नहीं केन्द्र का मामला, हर राज्य को मानना ही होगा कानून: बेनीवाल

विरोध करने वालों को भी नहीं मालूम नागरिकता संशोधन कानून के बारे में…
बिजयनगर। नागरिकता संशोधन कानून को लेकर जिस प्रकार का विरोध किया जा रहा है ऐसा उसमें कुछ भी नही है। राजनीतिक पार्टियों बेवजह इस मामले को तूल देकर देश में अराजकता फैलाना चाह रही है। नागरिकता संशोधन कानून में क्या प्रावधान है ये उन लोगों को भी मालूम नही है जो इसका विरोध कर रहे है। पहले इस कानून को समझिये फिर कुछ कहिए। इस कानून के जरिए हमारे पडोसी देशों में रहने वाले अल्पसंख्यक शरणार्थियों को नागरिकता देने का प्रावधान है क्योंकि उनके साथ पड़ौसी देशों में बुरा बर्ताव किया जाता रहा है। उनको भी सुख चैन से जीने का पूरा अधिकार है।

यह बात बुधवार को स्थानीय जाट समाज छात्रावास परिसर में आयोजित महाराजा सूरजमल जी के बलिदान दिवस पर आयोजित कार्यक्रम में नागौर सांसद व रालोपा पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष हनुमान बेनीवाल ने मंच को सम्बोधित करते हुए कही। उन्होंने कांग्रेस सरकार पर चुटकी लेते हुए कहा कि गहलोत राज्य में सीएए कानून लागू नही करने की बात कह रहे है। सीएए कानून राज्य सरकारे नहीं केन्द्र सरकार बनाती है इसे हर राज्य को लागू करना ही होगा। पड़ोसी देशों के शरणार्थियों को उनका हक मिलकर रहेगा। जनवरी में होने वाले संसदीय सत्र में देखिए केन्द्र सरकार क्या-क्या कानून लाने वाली है। कांग्रेस पार्टी किस-किस बिल का विरोध करेगी।

केन्द्र सरकार जल्द ही जनसंख्या नियंत्रण कानून लाने वाली है। इसके बाद देखिए देश की फिजा बदली- बदली सी लगेगी। इससे पूर्व सांसद बेनीवाल तेजा चौक पहुंचे जहां से विशाल जुलूस के साथ मुख्य मार्गो से होते हुए ब्यावर रोड स्थित जाट छात्रावास परिसर में पहुंचे जहां महाराजा सूरजमल के बलिदान को याद करते हुए उनकी जीवनी की बारे में बताया। इस अवसर पर जगदीश लाम्बा, संजय कुमावत, रणजीतसिंह चौधरी, मनसुख गुर्जर, दिलखुश चौधरी प्रदेशाध्यक्ष तेजवीर सेना, कैलाशचन्द डूडी जाट महासभा जिला अजमेर, प्रभूलाल धोल्या जाट समाज अध्यक्ष बिजयनगर सहित सैकड़ों जाट समाज के लोग मौजूद थे।

WP2Social Auto Publish Powered By : XYZScripts.com
Skip to toolbar