राजसमंद मर्डर: 6 साल पुरानी घटना से जुड़े हैं वारदात के तार

उदयपुर। राजस्थान के राजसमंद में लव जिहाद के नाम पर एक मुस्लिम व्यक्ति की हत्या कर जिंदा जलाने वाले आरोपी शंभूलाल रैगर को 3 दिन की पुलिस रिमांड पर भेज दिया गया है। पुलिस ने आरोपी को राजसमंद की एडिशनल चीफ जुडिशियल मजिस्ट्रेट कोर्ट में पेश किया, जहां से उसे पुलिस रिमांड पर भेज दिया गया। आरोपी रैगर को कड़ी सुरक्षा के बीच अदालत में पेश किया गया जहां सरकारी वकील ने रैगर के लिए अदालत से पांच दिन की पुलिस रिमांड की मांग की थी। रैगर ने अदालत में दावा किया कि उसे पीड़ित के परिवार से धमकी मिली थी, जिसके बाद उसने पीड़ित अफराजुल उर्फ भुट्टा की हत्या कर दी।

पुलिस ने हालांकि आरोपी के दावों को खारिज किया है। पुलिस का कहना है कि रैगर छह साल पुरानी घटना को इस वारदात से जोड़ने की कोशिश कर रहा है। रैगर का कहना है कि पीड़ित उसके मोहल्ले की एक लड़की को बंगाल भगा ले गया था, इसके बाद वह लड़की को वापस लाने बंगाल गया था। उसके बाद से ही वह पीड़ित की आंख में चुभ गया था। रैगर ने पीड़ित पर अपने परिवार को जान से मारने की धमकी देने का भी आरोप लगाया था, लेकिन पुलिस का कहना है कि यह पूरा वाकया 6 साल पुराना है।

आरोपी शंभूलाल रैगर के अलावा पूरे वारदात की वीडियो बनाने वाले उसके नाबालिग भांजे को चाइल्ड वेलफेयर कमेटी के समक्ष पेश किया गया। कमेटी ने 15 वर्षीय लड़के को किशोर अपराधी मानते हुए उसे बाल सुधार गृह भेजने का आदेश दे दिया। पुलिस को शुरुआती जांच में रैगर के पास से साम्प्रदायिकता से जुडे़ यूट्यूअ वीडियों, टेलीविजन चैनलों के न्यूज क्लिप्स और लव जिहाद से जुड़ा ढेरों साहित्य बरामद हुआ है, ऐसी शंका जताई जा रही है कि कोई संगठन उसे यह सामग्री उपलब्ध करा रहा था और उसी संगठन के संपर्क में आने से उसके दिमाग में मुस्लिमों के प्रति नफरत और लव जिहाद का जहर भर गया।

हालांकि पुलिस को रैगर का पिछला कोई आपराधिक रिकॉर्ड नहीं मिला है, पुलिस ने मामले में पूछताछ के लिए 10 अन्य व्यक्तियों को भी हिरासत में लिया है। इससे पहले शनिवार को राजस्थान के DGP ओपी गहरोत्रा ने राजसमंद पहुंचकर मामले का जायजा लिया और मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे सिंधिया की ओर से बंगाल निवासी पीड़ित अफराजुल के परिजनों के लिए 5 लाख रुपये आर्थिक मदद की घोषणा की। पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने भी अफराजुल के परिवार को तीन लाख रुपये की आर्थिक मदद और परिवार के किसी एक सदस्य को सरकारी नौकरी देने की घोषणा की है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

WP2Social Auto Publish Powered By : XYZScripts.com
Skip to toolbar