भाई के सपने को पूरा करने राजनीति में आई

  • Devendra
  • 23/01/2020
  • Comments Off on भाई के सपने को पूरा करने राजनीति में आई

भिनाय सरपंच डॉ. अर्चना सुराणा से खारीतट संदेश की बातचीत
आज से ठीक 25 वर्ष पूर्व भिनाय ग्राम से सरपंच पद के उम्मीदवार टीकमचन्द सुराणा ने गांव को विकास के पथ पर अग्रसर करने का सपना संजोया था। लेकिन उसी दौरान एक दुर्घटना में सुराणा का निधन हो जाने से उनका सपना अधूरा रह गया। उसके बाद साल दर साल भिनाय ने विकास के आयाम तो छुए लेकिन उस पायदान पर नहीं पहुंचा जिसका सपना दिवंगत सुराणा ने देखा था। अपने बड़े भ्राता सुराणा का वो सपना साकार करने के लिए डॉ. अर्चना सुराणा ने राजनीति में अपना कदम रखा। पहले प्रयास में सुराणा ने 989 मतों से विजय प्राप्त करते हुए सरपंच का पदभार संभाला।

डॉ. सुराणा ने बताया कि उनको अपने भाई के सपने अच्छे से याद है और उन्हीं सपनों को पूरा करने के लिए वो राजनीति में आई है। उन्होंने बताया कि भिनाय का समुचित विकास नहीं हो पाया है। बस स्टैण्ड पर उतरते ही भिनाय कैसा होगा इसका आभास सभी को हो जाता है। यहां कहने को तो उपखंड, तहसील, पंचायत समिति कार्यालय है, लेकिन जो सुविधाएं होनी चाहिए वो यहां उपलब्ध नहीं है। उन्होंने बताया कि वर्तमान के भिनाय और आगामी पांच वर्षों के बाद के भिनाय में सभी को अंतर साफ तौर पर दिखाई देगा। इसके लिए वो हर संभव प्रयास करेंगी।
ये होंगी प्राथमिकताएं
भ्रष्टाचार मुक्त एवं पारदर्शी ग्राम पंचायत बनाने सहित राजकीय महाविद्यालय, सिविल न्यायालय, खेल स्टेडियम, चिकित्सालय में रिक्त पड़े पदों को भरवाने, आने-जाने के समुचित संसाधन, निर्बाध रूप से बिजली सप्लाई एवं पेयजल के पुख्ता बंदोबस्त, विभिन्न सड़कों का निर्माण कार्य, मंदिरों की जीर्णोद्वार, मनरेगा के तहत रोजगार के अवसर सृजित करना, किसानों के लिए सब्जी मंडी खुलवाना आदि मुख्य कार्य है जो प्राथमिकता से पूरे किए जाएंगे।

WP2Social Auto Publish Powered By : XYZScripts.com
Skip to toolbar