पशुधन राजस्थान के किसानो की जीवन रेखा है: मिश्र

  • Devendra
  • 06/02/2020
  • Comments Off on पशुधन राजस्थान के किसानो की जीवन रेखा है: मिश्र

जयपुर। (वार्ता) राजस्थान के राज्यपाल कलराज मिश्र ने पशुधन को राजस्थान के किसानों की जीवन रेखा बताते हुये कहा कि राज्य का वेटरनरी विश्वविद्यालय को इस तरह से कार्य करना होगा कि वह पशुपालकों की उम्मीदों पर खरा उतर सके। श्री मिश्र ने आज यहां दुर्गापुरा स्थित कृषि प्रबन्ध संस्थान में पशुधन फार्म को आर्थिक लाभ एवं उच्च गुणवत्ता युक्त उत्पाद विषय पर आयोजित राष्ट्रीय सम्मेलन के समापन समारोह को संबोधित करते हुये कहा राज्य के ग्रामीण क्षेत्रों में रहने वाले अधिकांश लोगों की आजीविका पशुपालन एवं कृषि पर निर्भर होती है।

उन्होंने कहा कि पशुधन, किसानों के सामाजिक एवं आर्थिक सम्पन्नता का प्रतीक है। राज्य में उन्नत पशुधन से एक अलग पहचान कायम की है। पशुधन उत्पादन में राजस्थान देश में सिरमौर स्थान पर है। उन्होंने कहा कि ग्रामीण क्षेत्रों में सम्पन्नता लाने में पशुपालन सबसे अच्छा उपाय है। किसानों और पशुपालकों को तकनीकी दृष्टि से सुदृढ़ बनाने तथा वैज्ञानिक तरीके से इस व्यवसाय को चलाने के लिए पशुपालकों, ग्रामीण युवाओं और महिलाओं को तकनीकी ज्ञान दिया जाना आवश्यक है। श्री मिश्र ने पशु विज्ञान वैज्ञानिकों का आव्हान किया कि वे मिलजुल कर ऐसे प्रयास करे कि अंतिम छोर पर बैठे ग्रामीण पशु पालकों को सुविधाओं को पूर्ण लाभ मिल सके।

WP2Social Auto Publish Powered By : XYZScripts.com
Skip to toolbar