स्वच्छ रहो या जुर्माना भरो

बिजयनगर नगर पालिका को याद आया स्वच्छता अभियान
बिजयनगर। बिजयनगर नगर पालिका शहर को स्वच्छ करने के लिए गंभीर नजर आ रही है। दुकानों में डस्टबिन बांटे जा रहे हैं। लोगों को जागरूक किया जा रहा है। लोगों ने भी इसका भरपूर समर्थन दिया है। इसके बावजूद गंदगी फैलाने वालों से बतौर जुर्माना 2000 रुपए वसूल किया जाएगा। इस पूरी कवायद का परिणाम एक ही है या तो स्वच्छ रहो या फिर जुर्माना भरो। पूरी रिपोर्ट पढि़ए…

बिजयनगर नगर पालिका की योजना दुरुस्त रही तो शहर की गलियां व सड़कें साफ-सुथरी होंगी। इसके लिए नगर पालिका ने घर-घर और व्यापारिक प्रतिष्ठानों पर कचरा पात्र (डस्टबिन) वितरण का कार्य शुरू कर दिया है। पालिकाकर्मी व्यापारिक प्रतिष्ठानों पर जा-जाकर नाम मात्र के शुल्क पर डस्टबिन देकर उनसे स्वच्छता अभियान में सहयोग का आग्रह कर रहे हैं। इस अभियान के पहले चरण में मंगलवार को शहर की चाय की होटलों, हलवाईयों और कचौरी-पकौड़ी बेचने वाले दुकानदारों को मात्र 50 रुपए के शुल्क पर बड़े-बड़े डस्टबिन वितरित किए गए।

इस अभियान के बाद दुकानों के बाहर कचरा मिलने पर दुकानदार से बतौर जुर्माना 2000 रुपए वसूल किए जाएंगे। अधिशासी अधिकारी कमलेश मीणा के मुताबिक स्वच्छ भारत अभियान के तहत शहर को साफ-सुथरा बनाने और यहां की गलियों व सड़कों को कचरा विहीन बनाने के लिए नगर पालिका प्रशासन कृत संकल्प है।

इसी क्रम में दुकानदारों को और घर-घर में नगर पालिका की ओर से डस्टबिन वितरण किया जा रहा है। अभियान के पहले चरण में मंगलवार को शहर की 22 चाय की होटलों, हलवाईयों, कचौरी-पकौड़ी बेचने वाले दुकानदारों को मात्र 50 रुपए शुल्क लेकर डस्टबिन दिए गए।

अभियान के तहत दुकानों के बाद घर-घर में भी नगर पालिका की ओर से डस्टबिन वितरित किया जाएगा। अधिशासी अधिकारी मीणा ने साथ ही हिदायत दी कि शहर को साफ-सुथरा बनाये रखने के लिए ठोस व सख्त कदम भी उठाए जाएंगे।

नगर पालिका के कचरा पात्र वितरण को लेकर स्थानीय व्यापारियों ने सहयोगात्मक रवैया दिखाया और इसकी प्रशंसा की है। खारीतट संदेश ने कुछ दुकानदारों की राय ली। आप भी जानिए, क्या कहा उन्होंने…

अनुकरणीय पहल
स्वच्छ भारत अभियान के तहत एक अनुकरणीय पहल है। सभी से आग्रह किया जाएगा कि कचरे को इधर-उधर नहीं फेंककर कचरा पात्र में डालें। पालिका प्रशासन को चाहिए कि सम्पूर्ण पालिका क्षेत्र में कचरापात्र का वितरण किया जाए। साथ ही मोबाईल कचरा वाहन का संचालन रोजाना नियमित रूप से किया जाए।


मंगलप्रसाद चौहान, बिजयनगर

पालिका द्वारा कचरा पात्र के वितरण से शहर में स्वच्छता रहेगी। पालिका द्वारा यह एक अनुकरणीय पहल है। सभी लोगों को कचरा कचरा पात्र में डालने का आग्रह किया जाएगा। हमारे प्रतिष्ठान के बाहर यदि आस-पास में भी कोई कचरा पड़ा हो तो उसे भी उठाकर डस्टबिन में डाल दिया जाता है।


ओमप्रकाश लोधा, खन्ना टी स्टॉल

पहल अच्छी है… ग्राहकों से करेंगे आग्रह
कचरा पात्र वितरण एक अच्छी पहल है। पूर्ण रूप से नगर को स्वच्छ बनाए रखने में सहयोग रहेगा। दुकान पर पहले भी कचरा पात्र था लेकिन वो प्लास्टिक के ड्रम को काटकर बनाया हुआ था जो अच्छा नहीं लगता था। अब पालिका द्वारा मात्र 50 रुपए में सुंदर डस्टबिन दिया है। दुकान पर आने वालों को कचरा पात्र का इस्तेमाल करने का आग्रह किया जाएगा।

सुरेन्द्र जैन, जैन टी स्टॉल

पालिका द्वारा डस्टबिन बांटना बहुत अच्छी बात है। स्वच्छ भारत अभियान में पालिका का एक कदम और आगे है। दुकान के बाहर रखा हुआ डस्टबिन बहुत सुंदर लग रहा हैं। मात्र 50 रुपए में इतनी अच्छी गुणवत्ता वाला कचरा पात्र मिलना असंभव है। ग्राहकों को डस्टबिन को प्रयोग में लेने का आग्रह किया जायेगा।


महेन्द्र विजय, कचौरी-पकौड़ी व्यवसायी

कचरा पात्र में ही डालें कचरा
साफ-सफाई पर पूरा ध्यान दिया जाएगा। प्रतिष्ठान संचालक अपने प्रतिष्ठान का कचरा कचरा पात्र में ही डालें। यदि प्रतिष्ठानों के बाहर कचरा पाया जाता है तो जुर्माना राशि वसूली जाएगी। कचरा पात्रों का वितरण पालिका द्वारा किया जा रहा है। यदि किसी तक नही पहुंच पाता है तो संचालक को अपने स्तर पर कचरा पात्र की व्यवस्था करनी होगी।


सहदेवसिंह कुशवाह, उपाध्यक्ष, नगरपालिका बिजयनगर

पहले किया जाएगा लोगों को जागरूक
सप्ताहभर में बाजार में अभियान चलाकर लोगों स्वच्छता के बारे में जागरूक करते हुए कचरा पात्रों का वितरण किया जाएगा। पहले भी कुछ जगहों पर कचरा पात्रों का वितरण किया गया था। अभी भी जारी है। कचरा पात्र वितरण के बाद कचरा पाए जाने पर नियमानुसार जुर्माना वसूला जाएगा।
रामपाल चौहान, सफाई शाखा प्रभारी, नगर पालिका

लगेगा 2000 रुपए जुर्माना
आने वाले कुछ दिनों में सम्पूर्ण बाजार में डस्टबिन वितरण कर कचरा कचरा पात्र में डालने को प्रोत्साहित किया जाएगा। इसके बाद यदि किसी भी प्रतिष्ठान के बाहर कचरा पाया जाता है तो 2000 रुपए की जुर्माना राशि वसूली जाएगी। कचरा पात्रों का वितरण घरों में भी किया जाएगा।
कमलेश मीणा, ई.ओ. बिजयनगर

Leave a Reply

Your email address will not be published.

WP2Social Auto Publish Powered By : XYZScripts.com
Skip to toolbar