40 की उम्र तक कर सकते हैं गवर्नमेंट जॉब के लिए एप्लाई, 1.40 लाख पदों पर होगी भर्ती

जयपुर। राजस्थान की मुख्यमंत्री वसुन्धरा राजे ने प्रदेश में आगामी दिनों में एक लाख चालीस हजार सरकारी नौकरियां देने, सीधी भर्ती के लिए अधिकतम आयु सीमा पैंतीस से बढाकर चालीस वर्ष करने सहित प्रदेश के विकास के लिए कई महत्वपूर्ण घोषणायें की हैं।

श्रीमती राजे ने सरकार की चौथी वर्षगांठ के अवसर पर झुंझुनूं में आयोजित समारोह में आज ये घोषणायें की। उन्होंने प्रदेश में विभिन्न सेवाओं में सीधी भर्ती के लिए अधिकतम आयु सीमा पैंतीस से बढ़ाकर अब चालीस वर्ष करने एवं आने वाले समय में एक लाख चालीस हजार सरकारी नौकरियां और देने की घोषणा की।

उन्होंने बताया कि गत चार वर्ष में एक लाख 70 हजार लोगों को सरकारी नौकरियां दी गई हैं। उन्होंने सड़क दुर्घटना मेें घायल व्यक्तियों को निजी और सरकारी अस्पतालों में 48 घंटे की निःशुल्क चिकित्सा, सरकारी अस्पतालों में हृदय रोगियों की एंजियोग्राफी निःशुल्क करने, आगामी एक जनवरी से प्रदेश के सहकारी भूमि विकास बैंकों से किसानों को केवल 5.5 प्रतिशत ब्याज दर पर ऋण उपलब्ध कराने, ऋण लेने वाले सभी किसानों का व्यक्तिगत दुर्घटना बीमा योजना में आगामी एक अप्रैल से बीमा लाभ 6 लाख से बढ़ाकर 10 लाख रुपए किये जाने की भी घोषणा की।

इसी तरह झुंझुनूं जिले में मण्डावा, गोठड़ा एवं खेतड़ी के अलावा 246 गांवों को आगामी मार्च तक शुद्ध नहरी पेयजल उपलब्ध कराने, झुंन्झुनूं के उदयपुरवाटी (ग्रामीण एवं शहरी) एवं बुहाना, चिड़ावा एवं सूरजगढ़ क्षेत्रों में पेयजल के लिये लगभग 1300 करोड़ रुपए की योजना लाने, पिलानी क्षेत्र में भी पेयजल के लिये डीपीआर का काम हाथ में लेने के लिये तीन करोड़ रुपए का प्रावधान करने, आरयूआईडीपी के चौथे चरण में 100 करोड़ रुपए की लागत से खेतड़ी, 125 करोड़ की लागत से मंडावा तथा 60 करोड़ रुपए की लागत से नवलगढ़ में और झुंन्झुनूं में 237 करोड़ रूपए खर्च कर पेयजल और सीवरेज के काम करने की घोषणा की गई।

इसके अलावा सहकारिता के माध्यम से जैनेरिक दवाईयों के लिए चरणबद्ध रूप से 200 प्रधानमंत्री जन औषधि केन्द्र खोले जाने, किसानों को कोर बैंकिंग एवं मॉडर्न बैंकिंग सेवाएं उपलब्ध कराने के लिये 190 करोड रुपए की लागत से सभी पैक्स का कम्प्यूटराइजेशन करने, 150 करोड़ रुपए से 1000 नवीन पशु चिकित्सा उप केन्द्रों एवं 100 पशु चिकित्सालयों के भवन निर्माण कराये जाने, एसएमएस मेडिकल कॉलेज, जयपुर एवं सम्बद्ध चिकित्सालयों में 25 करोड़ रुपए के उपकरण खरीदने एवं निर्माण कार्य कराये जाने की भी घोषणा की गई।

श्रीमती राजे ने अजमेर, भीलवाड़ा, चूरू और बीकानेर जिले में नौ करोड़ रुपए प्रति चिकित्सालय की लागत से 50 बैड वाले एकीकृत आयुष चिकित्सालय खोलने, स्वतंत्रता के पश्चात शहीद हुए सैनिकों के नाम से विद्यालय एवं गौरव पथ का नामकरण करने, आजादी के बाद शहीद हुए सैनिकों के परिवार के एक सदस्य को राजकीय सेवा में नियुक्ति देने, इंदिरा गांधी नहर परियोजना क्षेत्र में जिन पूर्व सैनिकों को भूमि आंवटन का निर्णय हुआ था, लेकिन आदेश जारी होने से पहले उनकी मृत्यु हो गई।
अब उनके आश्रितों को भूमि का कब्जा देने तथा कारगिल पैकेज में राजस्थान आवासन मण्डल के जो आवास अभी तक आवंटित नहीं हुए, उन्हें आवंटित करने की घोषणा की।

उन्होंने राष्ट्रीय खेल संस्थान, पटियाला की तर्ज पर झुंझुनूं में राज्य क्रीड़ा संस्थान की स्थापना करने, झुंझुनूं में सैनिक स्कूल की स्थापना के लिये 184 करोड़ रुपये मंजूर करने तथा झुंझुनूं जिले में 47 नवीन पशु चिकित्सा उपकेन्द्र खोले जाने की भी घोषणा की।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

WP2Social Auto Publish Powered By : XYZScripts.com
Skip to toolbar