‘जनता कर्फ्यू’ का पालन करें, दहशत में ना आयें: मोदी

  • Devendra
  • 19/03/2020
  • Comments Off on ‘जनता कर्फ्यू’ का पालन करें, दहशत में ना आयें: मोदी

नई दिल्ली। (वार्ता) प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने कोराेना को वैश्विक महामारी बताते हुए इसका मुकाबला करने के लिये देशवासियों को किसी भी तरह की भीड़-भाड़ से बचने का आह्वान किया और इस रविवार को अपने घर में बंद रहकर ‘जनता कर्फ्यू’ लगाने की अपील की। इसके साथ ही उन्होंने लोगों से दहशत में न आने तथा किसी भी तरह के अफवाह न फैलाने और हड़बड़ी में आवश्यक वस्तुओं की खरीददारी ना करने की भी सलाह दी।

श्री मोदी ने गुरुवार शाम देशवासियों को संबोधित करते हुए कोरोना को ‘प्रथम विश्व युद्ध’ और ‘द्वितीय विश्व युद्ध’ से भी ‘अधिक संकटपूर्ण’ बताया और करूणा के कारण देश की अर्थव्यवस्था पर पड़ने वाले दुष्प्रभावों से निपटने के लिए वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण के नेतृत्व में टास्क फोर्स गठित करने की भी घोषणा की।

उन्होंने लोगों से इस बात का संकल्प व्यक्त करने की अपील की और कहा, “हम भी बचे, देश को बचाये और जग को बचाये।” इसके साथ इस महामारी से निपटने में सहयोग देने वाले सभी लोगों को 22 तारीख शाम पांच अपने घर से ताली या थाली बजाकर धन्यवाद देने और स्थानीय प्रशासन को सायरन बजाकर उनके प्रति कृतज्ञता अर्पित करें।

श्री मोदी ने देशवासियों से सड़कों पर न निकलने, बाजार न जाने और यहां तक कि अस्पताल भी नियमित जांच के लिये न जाने की अपील करते हुए अनुरोध किया कि अगर उन्हें कोई ऑपरेशन कराना हो तो संभव हो सके उसकी तिथि आगे बढ़वाएं। उन्होंने यह भी कहा कि लोग अपने दफ्तर और बिजनस का काम घर से ही करें। उन्होंने नियोजकों से अपील की कि अगर कोई कर्मचारी घर से ही काम करता हो या वह संक्रमित होने के कारण दफ्तर आने की स्थिति में न हो तो उसकी तन्खवाह न काटे। उन्होंने कहा कि इस वैश्विक महामारी से लड़ने के लिये पूरा विश्व कोई उपाय साझा नहीं कर सका है और कोई टीका भी नहीं बना सका है।

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने कोरोना विषाणु की महामारी से बचने के लिए देशवासियों से नौ महत्वपूर्ण आग्रह किये हैं।
ये नव आग्रह इस प्रकार से हैं:-
प्रत्येक भारतवासी सजग सतर्क रहे, आने वाले कुछ सप्ताह तक जब बहुत जरूरी न हो अपने घर से बाहर न निकलें।
60 से 65 वर्ष की आयु के ऊपर के व्यक्ति घर के भीतर ही रहें।
इस रविवार यानी 22 मार्च को सुबह सात बजे से रात नौ बजे तक जनता कर्फ्यू का पालन करें।
दूसरों की सेवा कर रहे लोगों का 22 मार्च की शाम पांच बज कर पांच मिनट तक करतल ध्वनि के साथ आभार व्यक्त करें।
रूटीन चेक अप के लिए अस्पताल जाने से बचें, जो सर्जरी बहुत आवश्यक न हो, उसकी तारीख आगे बढ़वाएं।
वित्त मंत्री के नेतृत्व में गठित कोविड-19 आर्थिक प्रतिक्रिया कार्यबल से आवश्यक फैसले लेने का आग्रह।
व्यापारी जगत से उच्च आय वर्ग से सेवा करने वालों का वेतन नहीं काटने का आग्रह।
देशवासियों से सामान का संग्रह नहीं करने और हड़बड़ी में खरीददारी की होड़ में नहीं करने का आग्रह।
आशंकाओं एवं अफवाहों से बचने का आग्रह।

WP2Social Auto Publish Powered By : XYZScripts.com
Skip to toolbar