कम्यूनिटी स्प्रेडिंग रोकने के लिए राज्य में होगी रैंडम सैंपलिंग: शर्मा

  • Devendra
  • 03/04/2020
  • Comments Off on कम्यूनिटी स्प्रेडिंग रोकने के लिए राज्य में होगी रैंडम सैंपलिंग: शर्मा

जयपुर। (वार्ता)राजस्थान के चिकित्सा एवं स्वास्थ्य मंत्री डॉ. रघु शर्मा ने कहा है कि कोरोना की रोकथाम के लिए राज्य में सीरो सर्विलांस के तहत रैंडम सैंपलिंग की जाएगी। डा़ शर्मा ने गुरुवार को बताया कि इसके तहत आसीएमआर (भारतीय आयुर्विज्ञान अनुसंधान परिषद) द्वारा मान्यता प्राप्त रैपिड टेस्टिंग किट के जरिए लोगों के रैंडम सैंपल लिए जाएंगे। उन्होंने बताया कि मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने गुरुवार को वरिष्ठ चिकित्सकों और एपिडोमोलोेजिस्ट (महामारी विशेषज्ञ) के साथ वीडियो कॉन्फ्रेंस के जरिए चर्चा की। इसमें तय किया गया कि कोरोना को कम्यूनिटी में फैलने से रोकने के लिए रैपिड टेस्टिंग किट द्वारा रैंडम सैंपलिंग की जाए। इस किट से एंटीबॉडी और एंटीजन टेस्ट संभव हो सकेंगें।

उन्होंने बताया कि एपिडोमोलोेजिस्ट आईआईएमएचआर (इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ हैल्थ मैनेजमेंट रिसर्च) के चेयरमैन डॉ. एसपी गुप्ता और डॉ. अवतार सिंह को सीरो सैंपल मॉडल बनाने के निर्देश दिए हैं। इस टेस्ट में ब्लड ड्रॉप एवं स्ट्रिप्स के जरिए स्वास्थ्यकर्मी रैंडम सैंपलिंग का काम प्रदेश में कर सकते हैं। उन्होंने बताया कि सीरो सर्विलांस और कंटेनमेंट दोनों तरह की सैंपलिंग चलती रहेगी। डा़ शर्मा ने बताया कि कोरोना की रोकथाम के लिए राज्य के 21 जिलों में 1188 आयुष चिकित्सकों और कंपाउंडरों को लगाया है जो चिन्हित जिलों में जाकर मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी का सहयोग करेंगे। उन्होंने बताया कि इससे पूर्व आयुर्वेद विभाग द्वारा 13 मार्च से एक अप्रैल के मध्य 32 हजार 441 स्थानों पर 12 लाख 43 हजार 320 लोगों को काढ़ा पिलाया जा चुका है।

उन्होंने बताया कि राज्य में एक्टिव सर्विलांस टीम के 27 हजार से ज्यादा चिकित्सा दलों ने 98 लाख 57 हजार 493 परिवारों का घर-घर जाकर सर्वे करके चार करोड़ 16 लाख 58 हजार 196 लोगों की व्यक्तिगत स्क्रीनिंग कर ली है। ओपीडी में 33 लाख 28 हजार रोगियों की स्क्रीनिंग की जा चुकी है। इसके अलावा 133 पॉजीटिव मरीजों के संपर्क में आए दो हजार से ज्यादा लोगों की भी जांच की है। उन्होंने कहा कि निजी अस्पतालों को भी ओपीडी और आइसोलेशन की व्यवस्था के लिए अधिकृत किया गया है।

WP2Social Auto Publish Powered By : XYZScripts.com
Skip to toolbar