चिकित्सकों की हड़ताल, चौंसठ चिकित्सक गिरफ्तार

जयपुर। राजस्थान के सेवारत चिकित्सकों की प्रस्तावित अठारह दिसंबर से हड़ताल से पहले ही उनकी धरपकड़ शुरू कर देने से नाराज होकर चिकित्सक अड़तालीस घंटे पहले ही आज हडताल पर चले गये। डॉक्टरों की हड़ताल के मद्देनजर सरकार ने उनकी धरपकड़ शुरु कर दी और अब तक चौसठ चिकित्सकों को गिरफ्तार किया गया। इनमें सत्रह डाॅक्टरों को न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया। पुलिस ने डॉक्टरों के घरों पर दबिश देकर उन्हें गिरफ्तार किया। इससे नाराज डाॅक्टर प्रस्तावित हड़ताल से अड़तालीस घंटे पहले ही हड़ताल पर चले गए।

डॉक्टरों के अचानक हड़ताल पर चले जाने से प्रदेश के सरकारी अस्पतालों में मरीज खासे परेशान हो गए। सरकार ने सभी जिलों के कलेक्टर एवं एसडीएम को सतर्क कर व्यवस्था संभालने के निर्देश दिए हैं। चिकित्सा मंत्री कालीचरण सराफ ने चिकित्सकों के साथ कड़ाई बरतने के निर्देश दिए, इसके बाद रेस्मा कानून के तहत चिकित्सकों की धरपकड़ शुरू की गई। इसके पश्चात शनिवार को अस्पतालों में चिकित्सकों की उपस्थिति बहुत कम रही। निजी अस्पताल के चिकित्सकों ने भी सेवारत चिकित्सकों की हड़ताल का समर्थन किया है।

चिकित्सकों की धरपकड़ के कारण सेवारत चिकित्सक संघ के प्रदेश अध्यक्ष डा़ॅ. अजय चौधरी, अन्य पदाधिकारी तथा अन्य कई डाॅक्टर भूमिगत हो गए।
श्रीगंगानगर में पुलिस ने देर शाम एक महिला चिकित्सक को गिरफ्तार कर लिया। गिरफ्तार किए गए डाॅक्टरों में अलवर से डॉक्टर्स संघ के संरक्षक सहित कई जिलाध्यक्ष भी शामिल हैं। जैसलमेर में डॉक्टरों की गिरफ्तारी के बाद अन्य डॉक्टर काम छोड़कर अस्पताल के बाहर धरने पर बैठ गए। कई इलाकों में कल रात को ही थानों पर पहुंचकर डॉक्टरों ने भारी विरोध भी जताया।

सेवारत डॉक्टर्स संघ के प्रदेश महासचिव डॉ.दुर्गाशंकर सैनी ने कहा कि यह सरकार अंग्रेज राज से भी बदतर तरीके से पेश आ रही है। उन्होंने बताया कि पकड़े गए चिकित्सकों में ज्यादातर सेवारत चिकित्सकों के पदाधिकारी है। उल्लेखनीय है कि सेवारत चिकित्सकों ने हाल में अपनी मांगों को लेकर हड़ताल की थी जिस पर सरकार के साथ समझौता होने से वे काम पर लौट आए थे। चिकित्सक संघ ने आरोप लगाया है कि हड़ताल के दौरान हुए समझौते को लागू नहीं किया गया जबकि सरकार का कहना है कि चिकित्सकों की मांगों पर कार्यवाही की जा रही है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

WP2Social Auto Publish Powered By : XYZScripts.com
Skip to toolbar