मॉडीफाईड लॉकडाउन: शर्तो के साथ होगी नरमी की शुरूआत

  • Devendra
  • 19/04/2020
  • Comments Off on मॉडीफाईड लॉकडाउन: शर्तो के साथ होगी नरमी की शुरूआत

बिजयनगर। कोरोना संक्रमण से बचाव के चलते जारी लॉकडाउन को 29 दिन हो चले हैं। अति आवश्यक सेवाओं के साथ सोमवार से अन्य सेवाओं में थोड़ी ढील मिलने जा रही है ताकि आमजन की रोजमर्रा की जरूरतें पूरी करने के लिए कुछ कामकाज शुरू हो सके, कुछ दुकानें खुलने लगें और आमजन ऑनलाइन ऑर्डर करना शुरू कर सकें। हालांकि, ट्रेनें, घरेलू और अंतरराष्ट्रीय उड़ानें, बस, ऑटो और कैब जैसी सुविधाएं बंद हैं और 3 मई तक बंद रहेंगी। याद रहे अगर आप घर से बाहर निकल रहे हैं तो सोशल डिस्टेंसिंग बनाए रखें और मास्क पहनना अनिवार्य है।

सोमवार से छूट तो मिल रही है पर यह भी ध्यान रहे कि आप नियमों की अनदेखी कतई न करें। इस नई शुरुआत से पहले सरकार ने रविवार को तीन चीजें साफ कीं। पहली- लॉकडाउन के नियमों में ढील सिर्फ नॉन-कंटेनमेंट एरिया में ही मिलेगी। यानी जिन इलाकों में कोरोना के मामले और संक्रमण फैलने का खतरा ज्यादा है, वहां छूट नहीं मिलेगी। दूसरी- अमेजन-फ्लिपकार्ट जैसी कंपनियां सिर्फ जरूरी सामान के ऑर्डर ले सकेंगी। वे मोबाइल, टीवी, फ्रिज, एसी के ऑर्डर अभी नहीं ले पाएंगी। तीसरी- 4 मई से उड़ानें शुरू करने का अभी कोई फैसला नहीं लिया गया है। इसलिए एयरलाइन कंपनियां अगले आदेश तक बुकिंग शुरू नहीं कर पाएंगी। सोमवार से होने जा रही नई शुरुआत कुछ इस प्रकार है:-
प्रतिबंध
सम्पूर्ण राज्य मे 3 मई 2020 तक निम्न प्रतिबंध लागू रहेंगे : (1) दण्ड प्रक्रिया संहिता की धारा 144 के अन्तर्गत 5 या 5 से अधिक व्यक्तियों के आवागमन एवं एकत्रित होने पर प्रतिबन्ध रहेगा। (i) सुरक्षा उदश्यों अथवा गृह मंत्रालय भारत सरकार द्वारा अनुमत को छोडकर सभी घरेलू और अन्तर्राष्ट्रीय हवाई यात्रियों की यात्रा। (ii) सुरक्षा उदेश्यों को छोडकर, ट्रेनों के द्वारा सभी यात्री आवागमन । (iii) सार्वजनिक परिवहन के लिये बसें (iv) मैट्रो रेल सेवाऐं। (v) चिकित्सीय कारणों को छोडकर या इन दिशा निर्देशों के तहत अनुमत गतिविधियों के अलावा व्यक्तियों का अन्तर्राज्यीय अथवा राज्य के भीतर आवागमन। सभी शैक्षणिक, प्रशिक्षण, कोचिंग संस्थान बंद रहेंगे। ऑनलाईन अध्यापन/कक्षाओं को प्रोत्साहन एवं सुविधा दी जायेगी। (vii) इन दिशा निर्देशों के तहत विशेष रूप से अनुमत गतिविधियों के अलावा सभी औघोगिक और व्यवसायिक गतिविधियां।

(viii) इन दिशा निर्देशों के तहत विशेष रूप से अनुमत आतिथ्य सेवाओं के अलावा अन्य आतिथ्य सेवाएं/होटल आदि। (ix) टैक्सी (ऑटो रिक्शा एवं साईकिल रिक्शा सहित), कैब समूह सेवाऐं सभी सिनेमा हॉल, मॉल, शॉपिंग मॉल, व्यायाम शालाएं, स्पोर्टस कॉम्पलेक्स, स्वीमिंग पूल, मनोरंजन पार्क, थियेटर्स, बार एवं एसेम्बिली हॉल और समान प्रकृति के स्थान बन्द रहेंगे। सभी सामाजिक, राजनैतिक, खेल, मनोरंजन, अकादमिक, सांस्कृतिक, धार्मिक कार्यक्रम तथा अन्य समारोह। (xii) सभी धार्मिक स्थल/पूजा स्थल जनता के लिये बन्द रहेंगे। सभी धार्मिक सम्मेलन पूर्णतः प्रतिबंधित रहेंगे। (xiii) अन्तिम संस्कार हेतु 20 से अधिक व्यक्तियों के समूह को अनुमति नहीं दी जायेगी।
सामान्य सावधानियां
सभी क्षेत्रों एवं जिलों के लिये निम्नलिखित मानक सावधानियां एवं प्रतिबंध लागू रहेंगेः सार्वजनिक स्थानः (1) सार्वजनिक स्थानों, कार्यालयों, कार्यस्थलों में चेहरे पर मास्क पहनना अनिवार्य होगा (2) स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय द्वारा जारी दिशा-निर्देशों के अनुसार सार्वजनिक स्थानों, कार्य स्थलों और परिवहन के प्रभारी सभी व्यक्ति सामाजिक दूरी सुनिश्चित करेंगे। (3) सार्वजनिक स्थान का कोई संगठन/ प्रबन्धक पांच या अधिक वयक्तियों को एकत्रित होने की अनुमति नहीं देगा। (4) विवाह और अंतेष्टि जैसे कार्यक्रम जिला मजिस्ट्रेट की अनुमति से किये जायेगें (5) सार्वजनिक स्थानों पर थूकना जुर्माने से दण्डनीय होगा। (6) शराब, गुटका तम्बाकू की बिकी पर सख्त प्रतिबंध रहेगा तथा थूकना पूरी तरह से प्रतिषेध होगा। (7) सभी कार्य स्थलों में तापमान जांच के लिये पर्याप्त व्यवस्था होगी तथा सार्वजिक स्थानों पर सैनेटाईजर्स उपलब्ध कराये जायेंगें(8) कार्य स्थलों पर पारियों के मध्य एक घण्टे अन्तराल होगा तथा सामाजिक दूरी को सुनिश्चित करने के लिये कर्मचारियों के लंच ब्रेक में अन्तराल दिया जायेगा।

(9) 65 वर्ष से उपर के व्यक्ति और सहरूगण्ता वाले व्यक्ति तथा ऐसे माता पिता जिनके 5 वर्ष से कम आयु के बच्चे हों को घर से कार्य करने के लिये प्रोत्साहित किया जायेगा(10) सार्वजनिक एवं निजी क्षेत्र के सभी कर्मचारियों को “आरोग्य सेतु ऐप” का उपयोग करने के लिये प्रोत्साहित किया जायेगा। (11) सभी संगठन पारियों के मध्य में उनके कार्य स्थलों को सेनेटाईज करेंगे(12) बडी सभाएं निषिद्ध रहेंगी। विनिर्माण प्रतिष्ठान (13) आम सतहों की बार बार सफाई तथा अनिवार्य रूप से हाथों की धुलाई अनिवार्य होगी। (14) पारीयों का अधिव्यापन नहीं होगा तथा सामाजिक दूरी के साथ कैन्टीन में लंच आदि का अन्तराल रखा जायेगा। (15) अच्छी स्वच्छता विधियों पर सघन संचार एवं प्रशिक्षण दिया जायेगा। जिला मजिस्ट्रेट उपर वर्णित प्रतिबंधों एवं सामान्य सावधानियों को, आपदा प्रबन्धन अधिनियम, 2005 में वर्णित जुर्माना एवं दाण्डिक कार्यवाहियों के माध्यम से लागू करना सुनिश्चित करेंगे।
संशोधित लॉक डाउन के दौरान अनुमत गतिविधियां (20 अप्रैल से 3 मई 2020)
रोजमर्रा की जरूरतों से जुड़ी दुकानें जिनमें केमिस्ट, चिकित्सा उपकरण आदि, आयुष, पशु चिकित्सा दवाईयां आदि, किराना एवं प्रोविजन स्टोर जो सभी प्रकार की खाद्यान्नों एवं खाद्य पदार्थों (सभी अवयवों, सॉस, पैकेज फूड आदि सहित) और दैनिक आवश्यकताओं जैसे स्वच्छता उत्पाद हैन्डवाश, साबुन, बॉडी वाश, शैम्पू, क्रीम, पाउडर, टूथपेस्ट, ओरल केयर, सेनेट्री पेड्स, डायपर, कीटाणु नाशक, सरफेश क्लीनर, डिटर्जेन्ट, चार्जर एवं बैट्री सेल इत्यादि का विक्रय करते हैं। फल एवं सब्जियां, दूध, डेयरी उत्पाद, अण्डे, मीट, चिकिन एवं फिश।

पशु एवं पशु आहार एवं मुर्गी दाना के डिपो एवं इनसे जुडे हुये संबंधित विक्रय केन्द्र, कृषि एवं उद्यानिकी से संबंधित सामान जैसे बीज, उर्वरक, कीटनाशक, कृषि उपकरण एवं आपूर्ति श्रृंखला के उपकरण, कृषि मशीनरी यंत्रो, उपकरणों के विक्रय, स्पेयर पार्ट्स एवं मरम्मत की दुकानें, रेस्टोरेंट एवं भोजनालय आदि – केवल होम डिलीवरी, विशेषरूप से राजमार्गों पर ट्रकों की मरम्मत के लिये कार्यशाला/दुकानें, उचित दूरी पर टायर, पंक्चर / रिपेयर की दुकानें, राजमार्गों पर भोजन हेतु उचित दूरी पर ढाबे (जैसे -40 किलोमीटर) पर आउटडोर खाने की सुविधा के साथ।

सभी प्रकार के वाहनों के लिए अधिकृत कंपनी सेवा/मरम्मत केन्द्र, अनुमत परिवहन वाहनों के लिये स्पेयर पार्ट्स की दुकानें नोट: (i) दुकानदार द्वारा जिस किसी उपभोक्ता ने मास्क नहीं पहन रखा है उसको बिक्री नहीं की जायेगी और न ही दुकान में प्रवेश दिया जायेगा। (ii) एक समय पर छोटी दुकान में 2 से अधिक एवं बड़ी दुकान में 5 से अधिक उपभोक्ताओं को प्रवेश की अनुमति नहीं होगी। अन्य व्यक्ति सामाजिक दूरी की अनुपालना करते हुये दुकान के बाहर पंक्ति में अपनी बारी की प्रतिक्षा करेंगे। पास की व्यवस्था – दुकानों के मालिकों तथा दुकानों का स्टॉफ जो होम डिलीवरी में नियोजित है सहित, को जिला प्रशासन / पुलिस द्वारा पास जारी किये जायेंगे।
ई-कोमर्स साईट से आर्डर व ऑन कॉल सुविधाएं ले सकेंगे
“होम डिलीवरी / ई-कॉमर्स कम्पनी’ / कूरियर सर्विस सभी ई-कॉमर्स / होम डिलीवरी कम्पनी जो सभी प्रकार के सामान एवं वस्तुओं की आपूर्ति करती है। इसमें इनके कार्यालय, भण्डार गृह एवं होम डिलीवरी हेतु व्यक्तियों की सम्पूर्ण श्रृंखला सम्मिलित है ऐसी कम्पनियों को सेवा उपलब्ध कराने के लिये प्रोत्साहित किया जाना चाहिए। आपूर्ति में लगे कर्मी द्वारा मास्क, दस्ताने एवं सेनेटाईजर जैसे सभी सुरक्षा प्रोटोकॉल का पालन करना सुनिश्चित किया जावे। साथ ही स्वरोजगार में लगे व्यक्तियों द्वारा उपलब्ध कराई गयी सुविधाएं जैसे कि इलेक्ट्रीशियन, प्लम्बर, आईटी मरम्मत, मोटर और अन्य मैकेनिक, कारपेन्टर्स, मोची, लॉन्डरी एवं धोबी आदि डोर टू डोर सेवाएं देंगे। सेवाएं प्रदान करते समय मास्क और सेनेटाईजर का उपयोग करेंगे।
इनको भी मिली छूट
राज्य सरकार कार्यालय समय में सभी राजकीय कार्यालय निम्नानुसार खुले रहेंगे एवं ऊपर वर्णित सावधानियों की अनुपालना सुनिश्चित करेंगे : 1. आवश्यकता के आधार पर जो विभाग और उनके क्षेत्रीय कार्यालय स्टॉफ की संख्या पर बिना किसी प्रतिबंध के संचालित होंगे। a. स्वास्थ्य एवं चिकित्सा, चिकित्सा शिक्षा एवं आयुर्वेद (आयुष) b. गृहः पुलिस, होम गार्ड्स, सिविल डिफेंस, जेल और एफएसएल c. वित्त, कोषालय तथा सभी राजस्व अर्जित करने वाले कार्यालय / प्रतिष्ठान सहित, आवश्यकता के अनुसार स्टॉफ के साथ d. खाद्य एवं नागरिक आपति, राहत एवं आपदा प्रबन्धन, आवश्यकता के अनुसार स्टाफ के साथ e. कृषि, कृषि विपणन बोर्ड सहित कृषि और न्यूनतम समर्थन मूल्य परिचालनों सहित कृषि उत्पादों की खरीद में लगी सभी एजेंसियां आवश्यकता के अनुसार f. सहकारिता- आवश्यकता के अनुसार g. सूचना प्रौद्योगिकी एवं संचार विभाग आवश्यक ऑनलाईन सेवाओं के संधारण के लिये जैसी आवश्यकता हो। h. ऊर्जा विभाग – (सभी निगमों सहित) आवश्यक सेवाओं के लिये संधारण के लिय जैसा आवश्यक हो। i. जन स्वास्थ्य अभियांत्रिकी विभाग – आवश्यक सेवाओं के संधारण के लिये, जैसा आवश्यक हो।

खनन
जिला प्रशासन द्वारा लिये गये निर्णयानुसार खनन a. लिग्नाईट, लैड(जस्ता), जिंक एवं कॉपर सहित प्रमुख खनिजों का खनन b. खान विभाग द्वारा अनुमति के अनुसार अन्य खनिजों का खनन c. खानों के संचालन के लिये विस्फोटक एवं अनुषांगिक गतिविधियों के परिवहन एवं आपूर्ति पास की व्यवस्था : खनन विभाग के संबंधित SME द्वारा जारी होगें।

निर्माण गतिविधियां
a. चिकित्सा/ स्वास्थय के बुनियादी ढांचे का निर्माण b. ग्रामीण क्षेत्रों में अर्थात नगर निगमों/नगर परिषदों तथा नगर पालिकाओं की सीमाओ से बाहर, सडकों, सिंचाई परियोजनाओं, भवनों और सभी प्रकार की औघोगिकी परियोजनाओं, सूक्ष्म, लघु एवं मध्यम उघोगों (ईट भट्‌टा) सहित और रीको एवं निजी औघोगिकी क्षेत्र में सभी प्रकार की परियोजनाऐंc. अक्षय उर्जा परियोजनाओं का निर्माण d. नगर निगमों, नगर परिदों नगर पालिकाओं की सीमाओ के अन्दर निर्माण परियोजनाओं के कार्यो की निरन्तरता जारी रखना जहां साईट पर श्रमिक उपलब्ध हैं और किसी भी श्रमिक को बाहर से लाने की आवश्यकता नहीं है।

e. महानरेगा कार्य – सामाजिक दूरी एंव स्वच्छता उपायों जिनमें चेहरे पर मास्क लगाना शामिल है की कडाई से पालना करते हुए अनुमत होंगे। सिंचाई तथा जल संरक्षण कार्यों को महानरेगा के अन्तर्गत प्राथमिकता प्रदान की जायेगी। f. सिंचाई एवं जल संरक्षण क्षेत्रों में अन्य केन्द्रीय और राज्या योजनाओं को भी महानरेगा कार्यों के साथ सामन्जस्य स्थापित करते हुए उपयुक्त तरीके से कियान्वित किया जायेगा।(सरकार की 15 अप्रेल 2020 को जारी गाईडलाईन्स के मुताबिक)

WP2Social Auto Publish Powered By : XYZScripts.com
Skip to toolbar