बिजलीकर्मियो ने काली पट्टी बांधकर किया विरोध प्रदर्शन

  • Devendra
  • 27/04/2020
  • Comments Off on बिजलीकर्मियो ने काली पट्टी बांधकर किया विरोध प्रदर्शन

जयपुर। ( वार्ता) राजस्थान में कोरोना वैश्विक महामारी में चौबीस घंटे सेवाए देने वाले विद्युत विभाग के कर्मचारियो को राज्य सरकार द्वारा आपात सेवाओ में नहीं मानकर मार्च का वेतन स्थगित किए जाने और कोरोना बीमारी के दौरान मृत्युहोने पर दिए जाने वाले पचास लाख का स्वास्थ्य बीमा के लाभ से वंचित रखने के विरोध में बिजली कर्मचारियो ने आज काली पट्टी बांधकर अपने कार्यस्थल पर विरोध जताया। राजस्थान विद्युत तकनीकी कर्मचारी एसोसिएशन के प्रदेश अध्यक्ष पृथ्वीराज गुर्जर ने बताया कि राजस्थान विद्युत तकनीकी कर्मचारी एसोसिएशन के प्रदेश व्यापी आव्हान पर हुए इस विरोध प्रदर्शन में सोमवार को पूरे प्रदेश के सभी संगठनों के अभियंता, मंत्रालयिक कर्मचारियों एवं तकनीकी कर्मचारियो ने हाथो पर काली पट्टी बांधकर सरकार के समक्ष विरोध प्रदर्शन कर कोरोना वाॅरियर्स का दर्जा देने की मांग की।

प्रदेश के हर जिले में जीएसएस एवं लाइन पर काम करने वाला कर्मचारी हो, ऑफिस में काम करने वाले कर्मचारी अधिकारी हो, सभी ने बढ़चढ़कर भाग लिया और सरकार के निर्णय का विरोध जताया। उन्होंने बताया कि मुख्यमंत्री द्वारा राजस्थान प्रदेश चिकित्सा एवं पुलिस विभाग के स्थाई और संविदा कर्मचारियो के लिये कोरोना संक्रमण की स्थिति में राशि 50 लाख रूपए के बीमे की घोषणा की है, साथ ही वेतन स्थगन आदेश से मुक्त रखा गया है। लेकिन बिजली विभाग जो कि अतिआवश्यक सेवाओ में होने के बावजूद भी इस कोरोनाकाल में माह मार्च के वेतन का कुछ हिस्सा स्थगित करना विधुत निगमो के कर्मचारियो, अभियंताओ व अधिकारियो के आत्मसम्मान को ठेस पहुँचाने जैसा हैं। जबकि पूरे राजस्थान के लाॅक डाउन के दौरान कई तकनीकी कर्मचारी दुर्घटना एवं हादसे का शिकार हो गए है। इसके बावजुद इन कर्मचारियो को 50 लाख रूपए के बीमा पाॅलिसी में लाभ नहीं मिलना दुःखद है। श्री गुर्जर ने कहा कि उनकी मांग नहीं माने जाने की स्थिति में आंदोलन शुरू किया जायेगा।

WP2Social Auto Publish Powered By : XYZScripts.com
Skip to toolbar