भाजपा-कांग्रेस में कांटे की टक्कर, मुख्यमंत्री – उपमुख्यमंत्री पिछड़े

गांधीनगर। गुजरात विधानसभा चुनाव के लिए आज सुबह शुरू हुई मतगणना के शुरूआती रूझान में सत्तारूढ भाजपा और मुख्य विपक्षी कांग्रेस के बीच कांटे की टक्कर दिख रही है और मुख्यमंत्री विजय रूपाणी राजकोट पश्चिम जबकि उपमुख्यमंत्री नीतिन पटेल पाटीदार बहुल महेसाणा सीट पर पीछे चल रहे हैं।

आधिकारिक तौर पर पहले घंटे में कुल नौ सीटों के रूझान मेंं भाजपा छह पर जबकि कांग्रेस तीन पर आगे है। वैसे अनाधिकारिक सूचना के अनुसार कुल 182 सीटों में 170 सीटों के शुरूआती रूझान में भाजपा 88 तथा कांग्रेस 80 पर आगे चल रही है।

मुख्य चुनाव अधिकारी बी बी स्वैन ने बताया कि राज्य भर में कुल 37 मतगणना केंद्र बनाये गये हैं जिनमें से अहमदाबाद में तीन और आणंद तथा सूरत में दो दो और शेष 30 जिलों में एक एक हैं। सभी 182 विधानसभा सीटों के लिए पहले पोस्टल बैलट की मतगणना सुबह आठ बजे से शुरू हुई है और साढ़े आठ बजे से इवीएम के वोटों की गणना शुरू होगी। कुल 16 बूथ पर आयोग के निर्देश के अनुरूप वीवीपैट पर्ची की गणना भी होगी। हर क्षेत्र के लिए इस बार पर्यवेक्षक के अलावा माइक्रो आब्जर्वरों की भी नियुक्ति हुई है।

मतगणना संपन्न होने पर सभी क्षेत्र के एक बूथ के वीवीपैट पर्ची की भी पायलट परियोजना के तहत गिनती और मिलान किया जायेगा। केंद्रीय सुरक्षा बल समेत कुल 20 हजार सुरक्षाकर्मी मतगणना के दौरान सभी केंद्रों पर तैनात किये गये हैं। इसके अलावा मतगणना से 20 हजार कर्मी जुड़े हैं।
सभी परिणाम दोपहर तक आ जाने की उम्मीद है।

राज्य में नौ दिसंबर को पहले चरण में दक्षिण गुुजरात और सौराष्ट्र की 19 जिलों की 89 सीटों तथा 14 दिसंबर को दूसरे और अंतिम चरण में उत्तर और मध्य गुजरात के 14 जिलों की 93 सीटों पर मतदान तथा पहले चरण की छह बूथों पर पुनर्मतदान हुआ था। दूसरे चरण की छह बूथों पर कल पुनर्मतदान कराया गया था।

पहले चरण में मुख्यमंत्री विजय रूपाणी, भाजपा के गुजरात प्रदेश अध्यक्ष जीतू वाघाणी, कांग्रेस के कार्यकारी अध्यक्ष परेश धानाणी, पूर्व अध्यक्ष शक्तिसिंह गोहिल और अर्जुन मोढवाडिया समेत 977 उम्मीदवार मैदान में थे। दूसरे चरण में उप मुख्यमंत्री नीतिन पटेल, मंत्री शंकर चौधरी, प्रदीप जाडेजा, भूपेन्द्रसिंह चूडासमा तथा कांग्रेस के अल्पेश ठाकाेर, पूर्व अध्यक्ष सिद्धार्थ पटेल और कांग्रेस समर्थित निर्दलीय जिग्नेश मेवाणी और कांग्रेस छोड़ भाजपा में आये अमूल डेयरी के चेयरमैन रामसिंह परमार समेत 851 प्रत्याशी यानी दोनो चरण मिला कर कुल 1828 उम्मीदवार मैदान में हैं। इनमें सभी नौ कैबिनेट मंत्री, 11 राज्य मंत्री तथा सात संसदीय सचिव शामिल हैं।

भाजपा ने सभी 182 सीटों पर जबकि कांग्रेस ने 178, बसपा ने 139, जदयू ने 28, शिव सेना ने 42, आम आदमी पार्टी ने 29 और राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी ने 58 सीटों पर उम्मीदवार उतारे हैं। इस बार औसत 68.41 प्रतिशत मतदान हुआ है जबकि पिछली बार यह प्रतिशत रिकार्ड 71.32 था। भाजपा को 2012 के पिछले चुनाव में 115, कांग्रेस को 61, बाद में भाजपा में विलय करने वाली गुजरात परिवर्तन पार्टी और राकांपा को दो दो तथा जदयू और निर्दलीय को एक एक सीटें मिली थी। सामान्य बहुमत के लिए 92 सीटें जरूरी हैं। इस बार सबसे अधिक 34 उम्मीदवार वाली सीट महेसाणा हैं जबकि सबसे कम दो प्रत्याशी वाली सीट झालोद है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

WP2Social Auto Publish Powered By : XYZScripts.com
Skip to toolbar