बाजारों में बेखोफ भीड़ ने बढ़ाई चिंता

  • Devendra
  • 16/05/2020
  • Comments Off on बाजारों में बेखोफ भीड़ ने बढ़ाई चिंता

बिजयनगर और गुलाबपुरा के लोगों ने सोशल डिस्टेंसिंग की अवहेलना कर खुद को जोखिम में डाला, प्रशासन का रवैया रहा सुस्त
बिजयनगर/गुलाबपुरा। (खारीतट सन्देश) देश में कोरोना वायरस का प्रभाव दिन पर दिन बढ़ता जा रहा है। इसमें अजमेर जिला भी मरीजों की संख्या को लेकर दोहरा शतक लगा चुका है। हालांकि बिजयनगर और इसके आसपास के गांव कोरोना के दुष्प्रभाव से फिलहाल बचे हुए है। वहीं गुलाबपुरा में पिछले दिनों तीन कोरोना पॉजिटिव केस मिलने के बाद उनके स्वस्थ होने पर प्रशासन ने बाजार खोल दिए है। कमोबेश यही हाल बिजयनगर का है। यहां भी पिछले एक दो दिन से बाजार में विभिन्न प्रतिष्ठान खुलने से लोगों की भीड़भाड बढ़ गई है। बाजार खुलने के साथ ही दोनों कस्बों में लोगों की आवाजाही बढ़ गई है, लेकिन दुखद पहलू यह है कि दोनों कस्बों में कहीं आम लोग तो कहीं दुकानदार नियमों का पालन नहीं कर कोरोना को आमंत्रित करने पर तुले हुए है। शुक्रवार को दोनों कस्बों में लोग सोशल डिस्टेंसिंग की धज्जियां उड़ाते दिखे तो कई दुकानदार ग्राहकों को बिना मास्क लगाए सामान बेचते नजर आए।

पिछले एक दो दिन से अनुमत श्रेणी के कई व्यापारिक प्रतिष्ठान खुलने के साथ ही गुलाबपुरा और बिजयनगर के बाजारों में स्थानीय और आसपास के ग्रामीणों की भीड खरीददारी के लिए उमड़ पड़ी। इस दौरान जगह-जगह लोग सोशल डिस्टेंसिंग की अवहेलना करते नजर आए। उधर कड़े नियम के बावजूद ऐसे दुकानदार भी नजर आए जिन्होंने न तो खुद मास्क लगा रखा था और बिना मास्क लगाए उनकी दुकानों पर पहुंचे लोगों को सामान भी बेच रहे थे।

इसी तरह दोनों कस्बों में पुलिस गश्त के बावजूद दुपहिया वाहनों पर तीन-तीन सवारियां भी नजर आई लेकिन उन्हे कोई रोकने वाला नहीं था। दूसरी ओर बिजयनगर गुलाबपुरा मार्ग पर खारी नदी के दोनो ओर की सड़कों पर दोनों कस्बों की सरहद में दोनों गेट पर चैक पोस्ट लगाकर वाहनों की आवाजाही रोकने के लिए बेरिकेटिंग की हुई है। ऐसे में गुलाबपुरा से बिजयनगर आने और बिजयनगर से गुलाबपुरा जाने वाले लोगों को हाईवे होकर लम्बी दूरी की यात्रा करनी पड़ रही है। ऐसे में दोनों ओर की चैकपोस्ट पर आने वाले लोग चैकपोस्ट पर ड्यूटी दे रहे कर्मचारियों से बहस करते नजर आते है।

ऐसे लोगों का तर्क है कि जब गुलाबपुरा से बिजयनगर और बिजयनगर से गुलाबपुरा आने-जाने के लिए कोई रोक-टोक नही है तो ऐसे में बेरिकेटिंग कर लोगों को हाईवे से यात्रा करने को मजबूर करने के पीछे प्रशासन का क्या तर्क है यह समझ से परे है। हालांकि यह तय है कि बाजार रोज खुलेंगे और लोग उसमें खरीददारी के लिए भी आएंगे लेकिन जिस तरह लोग बेफिक्र होकर कोरोना से बचाव के नियमों को ताक में रख रहे हैं उससे बुद्धिजीवी लोगों के माथे पर सलवटे पड़ रही है।

27 मिल चौराहे पर सख्ती
27 मिल चौराहा स्थित पुलिस चैक पोस्ट पर तैनात पुलिसकर्मी मुस्तैदी के साथ अपनी ड्यूटी को अंजाम दे रहे है। यहां पर अजमेर और भीलवाड़ा की ओर से आने वाले चौपहिया वाहनों में सवार लोगों को उतरवाकर थर्मल स्केनिंग किए जाने के बाद ही कस्बे में प्रवेश करने दिया जाता है। इसी प्रकार गुलाबपुरा में श्रीराम मंदिर के समीप भी चैकपोस्ट लगी हुई है। लेकिन यहां पर मुस्तैदी का अभाव नजर आया और लोग चौपहिया वाहनों में सवार होकर बेरोकटोक आ जा रहे थे।
पुलिस की रही ढील
पिछले कई दिनों से जहां बिजयनगर और गुलाबपुरा में पुलिस का रवैया सख्त बना हुआ था वहीं शुक्रवार को दोनों कस्बों में पुलिस का बर्ताव लोगों को लेकर कुछ ढीला ढाला रहा। इसी का फायदा उठाते हुए कई लोग दुपहिया वाहनों पर तीन सवारी के साथ बिना मास्क लगाए नजर आए।

नहीं हुई कोई कार्रवाई
पिछले कई दिनों से नियमों की अनदेखी कर दुकान खोलने और बिना मास्क लगाए ग्राहकों को सामान बेचने वाले दुकानदारों को प्रशासन का कोप भाजन बनकर जुर्माना अदा करना पड़ा था। लेकिन शुक्रवार को कई दुकानदारों ने अनुमत श्रेणी में नहीं होने के बावजूद अपने प्रतिष्ठान खोल दिए तो कई दुकानदार ऐसे भी थे जिन्होंने न तो खुद मास्क लगा रखा था और न ही उनकी दुकान पर बिना मास्क पहुुंचे ग्राहकों को वे टोक रहे थे। इसके बावजूद ऐसे किसी भी दुकानदार के खिलाफ प्रशासन ने कोई कार्रवाई नहीं की।
भाया अब तो बिजयनगर म भी आबालो है
बाजार में बेखोफ घूमते लोगों की भीड़ देख एक बुजुर्ग ने अपने साथी को कहा कि टीवी में रोज मरबा का समाचार चाल रिया है पण लोगां की बुद्धि अडे तो पूरी भ्रष्ट हो गी अब कोरोनो आई कोने तो कडे जाई। न तो पुलिस रोक री अर न ही लोग ढबरिया। इतने में बुजुर्ग के साथ आए व्यक्ति की नजर बिना मास्क के घूम रहे युवक पर पड़ी तो उसने कहा सरकार मास्क लगा बा की अतरो केरी है पण अशान का को काई करां।

खुद तय करनी होगी जवाबदेही
प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी राष्ट्र के नाम अपने संबोधन में देश की जनता को स्पष्ट बता चुके है कि कोरोना का प्रभाव लम्बे समय तक रहेगा। ऐसे में लोगों को सर्तकता के साथ जीवन यापन करने की आदत डालनी होगी। इसके बावजूद बिजयनगर गुलाबपुरा की जनता ने जो बेफिक्री दिखाई वो चिंता में डालने वाली है। निसंदेह हर गली मोहल्ले में नियमों का कडाई से पालन करवाने के लिए पुलिस नहीं पहुंच सकती ऐसे में आम लोगों की जिम्मेदारी है कि वे खुद भी बचें और समाज को भी बचाएं।

WP2Social Auto Publish Powered By : XYZScripts.com
Skip to toolbar