लॉकडाउन में छलका कलाकारों का दर्द

  • Devendra
  • 16/05/2020
  • Comments Off on लॉकडाउन में छलका कलाकारों का दर्द

नई दिल्ली। (वार्ता) कोरोना वैश्विक महामारी के कारण पूरे देश में लॉकडाउन से जनजीवन भले ही ठप हो गया हो लेकिन सोशल मीडिया पर देश के जाने माने कलाकार अपनी कला के जरिये इस संकट को व्यक्त कर रहे हैं और उनके वीडियो वायरल हो रहे है जिसे लाखों लोग देख और सुन रहे हैं।

इन कलाकारों में फ़िल्म अभिनेता से लेकर रंगकर्मी नृत्यांगना लेखक और चित्रकार भी हैं जो कोरोना से लड़ने की प्रेरणा दे रहे हैं और सैकड़ो किलोमीटर पैदल चलकर अपने घर जाने वाले गरीबों का दर्द उनकी कला में छलक रहा है। वे तरह तरह के वीडियो बनाकर सरकार के प्रति अपने आक्रोश को भी व्यक्त कर रहे हैं। कोई कलाकार नृत्य के जरिये तो कोई नाटक के जरिये तो कोई चित्र तो कोई कविता के माध्यम से इस दुख दर्द को बयां कर रहा है।

लॉक डाउन के तीन चरण पूरे हो गए और सोमवार से चौथा चरण शुरू हो रहा है। इन तीन चरणों में मिलेनियम स्टार अमिताभ बच्चन, मशहूर गीतकार जावेद अख्तर, अभिनेता राजगोपाल यादव, आयुष्मान खुराना, कार्तिकेयन, राजेन्द्र गुप्ता, कीर्ति सेनन, भजन सम्राट अनूप जलोटा, ग़ज़ल गायक चंदन दास, गायिका जसपिंदर नरूला, निजामी ब्रदर्स, लोकगायिका शारदा सिन्हा से लेकर प्रख्यात लेखक एवं संस्कृति कर्मी अशोक वाजपयी, नरेश सक्सेना, साहित्य अकेडमी पुरस्कार प्राप्त कवि राजेश जोशी, मंगलेश डबराल के अलावा पदम् श्री से सम्मानित सुप्रसिद्ध नृत्यांगना, शोभना नारायण, चर्चित नर्तकी स्वप्नसुंदरी, जाने माने रंगकर्मी राम गोपाल बजाज, रंजीत कपूर आदि ने अपनी आवाज़ में अपने वीडियो पेश किए।

इन कलाकारों लेखकों के अलावा साहित्य अकादमी, आल इंडिया रेडियो के अलावा राजकमल प्रकाशन ,राजपाल एंड संस, वाणी प्रकाशन जैसे नामी गिरामी प्रकाशक और ‘पाखी’, ‘सबलोग’, ‘समकालीन जनमत’ जैसी पत्रिकाएं तथा ‘हिंदी कविता’, ‘जश्ने अदब’, ‘मेरा रंग’, ‘अटूट बंधन’ जैसे अनेक मंच भी फेसबुक के जरिये रोज लाइव कार्यक्रम कर रहे। समालोचन नामक वेब पत्रिका ने कोरोनो संकट पर अब तक करीब 25 लेख पोस्ट किये है।

WP2Social Auto Publish Powered By : XYZScripts.com
Skip to toolbar