बुजुर्गों ने दिखाया जज्बा, अब युवाओं की बारी

  • Devendra
  • 08/04/2021
  • Comments Off on बुजुर्गों ने दिखाया जज्बा, अब युवाओं की बारी

खारीतट अलर्ट: कोरोना से बचाव के लिए टीका है अनिवार्य, मास्क है जरूरी
कोरोना संक्रमण से बचाव के लिए इन दिनों टीकाकरण अभियान चलाया जा रहा है। इस अभियान में बुजुर्ग अधिक उत्साहित है। वहीं इसी टीकाकरण में अब युवाओं को उत्साह दिखाने की जरूरत है। मुख्यमंत्री से लेकर चिकित्सक तक और कलेक्टर से लेकर पुलिस प्रशासन तक आमजन से कोविड वैक्सीन लगवाने की अपील कर रहे हैं…।
बिजयनगर। (खारीतट सन्देश) वैश्विक महामारी कोरोना संक्रमण से आमजन के बचाव के लिए सरकार की ओर से संचालित टीकाकरण अभियान में फ्रंट लाइन कार्मिकों के बाद बुजुर्गों ने खासा जज्बा दिखाया है। इस अभियान में बुजुर्ग महिला-पुरुषों ने सरकार की मुहिम में कंधे से कंधा मिलाते हुए अधिक से अधिक टीकाकरण में भागीदारी निभाई है। गत 1 अप्रेल से सरकार द्वारा 45 से 59 आयु वर्ग के महिला-पुरुषों के टीके लगाने के अभियान में युवाओं ने भी अपनी बारी आने पर पूरे जोश के साथ टीके लगवाए हैं। हालांकि बिजयनगर के मुकाबले गुलाबपुरा के बुजुर्गों और युवाओं में टीकाकरण को लेकर खासा उत्साह है। सोमवार सुबह 9 बजे से गुलाबपुरा राजकीय चिकित्सालय के टीकाकरण कक्ष के बाहर बुजुर्गों सहित युवा महिला-पुरुषों की खासा संख्या थी।

टीकाकरण कार्य में तैनात डॉक्टर सहित पांच चिकित्साकर्मियों ने तत्परता दिखाते हुए टीकाकरण प्रक्रिया में गति प्रदान की। वहीं बिजयनगर राजकीय चिकित्सालय परिसर में गायनिक वार्ड में टीकाकरण कार्य जारी है। चिकित्सालय प्रभारी डॉ. प्रदीप गर्ग द्वारा रोजाना टीकाकरण के लिए प्रेरित करने वाले ऑडियो एवं पोस्ट प्रसारित कर अधिक से अधिक टीकाकरण करवाकर सरकार के अभियान को सफल बनाने की अपील कर रहे हैं। पटरी पार के राजकीय उच्च प्राथमिक विद्यालय प्रांगण में चल रहे टीकाकरण अभियान में शिक्षा विभाग के कार्मिक सहित पांच कर्मचारी टीकाकरण अभियान में ड्यूटी दे रहे हैं। सुरेन्द्र शर्मा ने बताया कि 29 मार्च से लेकर अब तक इस क्षेत्र में 300 लोगों के टीके लगाए जा चुके हैं। शर्मा ने बताया कि जनसंख्या के अनुपात में अभी तक कम टीकाकरण हुआ है।

इस अभियान में गति देने के लिए अधिक से अधिक 45 वर्ष से ऊपर के लोगों को टीके लगवाना चाहिए। तेजी से बढ़ रहे आंकड़े कोरोना संक्रमण के मामले दिनों दिन तेजी से बढ़ते जा रहे है। देशभर में मामले एक लाख से ऊपर और राजस्थान में सोमवार को 2429 से अधिक हो चुके हैं। बढ़ते मामलों के बीच गत दिवस मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने आवश्यक बैठक लेकर राज्य में बाहरी राज्यों से आने वाले लोगों की कोरोना नेगेटिव रिपोर्ट, कक्षा 1 से 9 तक की कक्षाएं बंद करने, सिनेमा हॉल, जिम, स्वीमिंग पुल आदि पर बंदिशें लगाने के साथ आयोजनों में 100 लोगों को अनुमति के निर्देश जारी किए हैं। वहीं, मुख्यमंत्री ने राज्य की जनता से अधिक से अधिक टीके लगवाने की भी अपील की है।

टीकाकरण को लेकर जागरूक कर रहे युवा
इन दिनों सोशल मीडिया पर टीकाकरण को लेकर कई पोस्ट वायरल हो रही है जिनमें युवा वर्ग बुजुर्गो सहित 45 वर्ष से ऊपर आयु वर्ग के महिला-पुरुषों से अधिक से अधिक टीके लगवाने की अपील कर रहा है, तो वहीं कई लोग टीकाकरण स्थल पर अपने आसपास रहने वाले बुजुर्गो को टीके लगवाने में मदद कर रहा है। गुलाबपुरा क्षेत्र में घर की बुजुर्ग महिला के टीके लगवाने के लिए बहु-बेटी स्कूटी से हॉस्पीटल पहुंच रही हैं।

क्या हमें भी क्वारेंटाईन करेंगे?
बिजयनगर रेलवे स्टेशन की टिकट खिड़की पर रिजर्वेशन करवाने वाले यात्री टिकट लेते समय क्लर्क से पूछते देखे गए कि हम उज्जैन जा रहे हैं क्या हमें वहां स्टेशन पर उतरते ही क्वारेंटाईन कर देंगे। इस पर क्लर्क ने बताया कि प्रत्येक रिजर्वेशन यात्री की जानकारी विभाग के पास होती है।

गुलाबपुरा : प्रशासन की सख्ती का दिखा असर
गुलाबपुरा में उपखंड अधिकारी विकास मोहन भाटी, पुलिस उप अधीक्षक लोकेश मीणा, सीआई सतीश मीणा सहित पालिका ईओ पिन्टूलाल जाट द्वारा मुख्य बाजारों में बगैर मास्क बैठै व्यापारियों एवं राहगीरों के चालान बनाए जाने के बाद हालात सुधरे हैं। अब बाजार में कुछेक लोगों को छोड़कर अधिकांश के मुंह पर मास्क दिखाई देने लगे हैं। बैंकों, कार्यालयों में भी कर्मचारी मास्क में नजर आने लगे हैं।

बिजयनगर : प्रशासन सख्ती के मूड में
बिजयनगर तहसीलदार रामेश्वर लाल छाबा ने बताया कि सरकार के निर्देशों के चलते अब शहर के रेलवे स्टेशन पर कार्मिक नियुक्त किए जा रहे हैं जो अन्य राज्यों से आ रहे यात्रियों की रिपोर्ट और स्क्रीनिंग करेंगे। साथ ही हाईवे स्थित पुलिस थाने के समीप एक चौकी स्थापित की जा रही है जो बाहर से आने वाले यात्रियों पर निगरानी रखेगी। बाजारों में मास्क और सोशल डिस्टेङ्क्षसग के लिए तहसील, पुलिस और पालिका संयुक्त अभियान चलाकर कार्यवाही करेगी।

गुलाबपुरा में 4671, बिजयनगर में 2143 ने लगवाए टीके
गुलाबपुरा चिकित्सालय के चिकित्सक डॉ. भागीरथ मीणा ने बताया कि 5 अप्रेल तक 60 वर्ष से ऊपर आयु वर्ग के 1745 महिला-पुरुषों ने टीके लगवाए वहीं 45 से 59 आयु वर्ग के 2926 महिला-पुरुषों ने टीके लगवाए हैं। डॉ. मीणा ने बताया कि टीकाकरण को लेकर आमजन में उत्साह है। वहीं बिजयनगर चिकित्सालय के चिकित्सा प्रभारी डॉ. प्रदीप गर्ग ने बताया कि शहर में दो जगह राजकीय चिकित्सालय परिसर में गायनिक वार्ड में तथा राजनगर उच्च प्राथमिक विद्यालय में टीके लगाए जा रहे हैं। उन्होंने बताया कि 60 वर्ष से ऊपर आयु वर्ग के 1605 महिला-पुरुषों ने तथा 45 से 59 आयु वर्ग के 538 महिला-पुरुषों ने टीके लगवाए हैं। डॉ. गर्ग ने बताया कि टीकाकरण को लेकर रोजाना आमजन से अपील की जा रही है कि कोरोना संक्रमण रोजाना बढ़ रहा है। ऐसे में संक्रमण से बचाव के लिए जल्द से जल्द टीका लगवा लेना चाहिए।

खौफ नहीं तो मास्क नहीं
बिजयनगर क्षेत्र में मास्क लगाने को लेकर आमजन द्वारा बरती जा रही लापरवाही बेहद खतरनाक साबित हो सकती है। स्थानीय प्रशासन द्वारा लगातार सचेत किए जाने के बावजूद भी आमजन द्वारा गंभीर लापरवाही बरती जा रही है। बिजयनगर के लिए यह कहने में कोई अतिश्योक्ति नहीं कि खौफ नहीं तो मास्क नहीं अर्थात् तहसील, पालिका, पुलिस कर्मियों को देखते ही लोग मुंह पर मास्क लगा लेते है, उनके जाने के बाद स्थिति पहले जैसी हो जाती है।

गुलाबपुरा में वेक्सीनेशन को सराह रहे लोग, बिजयनगर में लगा दिया डबल डोज
गुलाबपुरा राजकीय चिकित्सालय में हो रही वैक्सीनेशन प्रक्रिया की आमजन सराहना कर रहा है। यहां ड्यूटी पर तैनात कार्मिकों की तत्परता की बुजुर्ग सराहना कर रहे हैं कि हमसे आधार कार्ड लिया, फोटो खींची और आधार कार्ड के साथ पर्ची देकर टीका लगाने वाली मैडम के पास भेज रहे हैं। वहां पर टीका लगते ही एक अन्य स्वास्थ्य कर्मी हमें रेस्टरूम में ले जाकर कुर्सी पर बिठाकर आराम करने की सलाह देती हैं। वहीं सोमवार को बिजयनगर में राजनगर स्कूल में चल रहे टीकाकरण कार्यक्रम में एक बुजुर्ग महिला (लालीदेवी प्रजापत) के नर्स की हड़बडाहट में दो टीके एक साथ लगा देना का मामला सामने आया है। हालांकि नर्स ने दो टीके लगाने से इनकार किया है लेकिन टीका लगने के घंटे भर बाद महिला की तबियत बिगडऩे पर उसे स्थानीय राजकीय चिकित्सालय में भर्ती कराया गया, जहां कुछ समय बाद उसे अजमेर चिकित्सालय रेफर कर दिया गया। वहीं परिजनों की शिकायत पर पुलिस ने मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी। वहीं दूसरी ओर परिजनों ने लिखित में शिकायत देते हुए चिकित्सालय इंचार्ज को डबल डोज लगाने वाली महिला नर्स को निलंबित करने की मांग की है। साथ ही मंगलवार को महिला नर्स के खिलाफ कार्यवाही करने को लेकर जिला कलक्टर के नाम तहसीलदार रामेश्वरलाल छाबा को भी ज्ञापन सौंपा गया।

WP2Social Auto Publish Powered By : XYZScripts.com
Skip to toolbar