इंदौर में स्कूल बस हादसा: चार बच्चों सहित पांच की मौत, आठ बच्चे घायल

इंदौर। मध्यप्रदेश के इंदौर शहर के कनाड़िया थाना क्षेत्र के बिचौली मर्दाना बायपास पर आज शाम दिल्ली पब्लिक स्कूल (डीपीएस) बस की सामने से आ रहे ट्रक से भीषण टक्कर में चार बच्चों सहित बस चालक की मौत हो गई। आठ बच्चों का गंभीर अवस्था में निजी अस्पताल में इलाज चल रहा है।

इंदौर पुलिस उपमहानिरीक्षक (डीआईजी) हरिनारायणचारि मिश्र ने ‘यूनीवार्ता’ को बताया कि दुर्घटना बस का स्टेयरिंग फेल हो जाने के कारण सामने से आ रहे ट्रक से भिड़ने से हुई है। घटना के समय बस में 12 बच्चों सहित स्कूल का स्टाफ सवार था।

इनमें से चार बच्चों और बस चालक की मृत्यु हो चुकी है, जबकि अन्य आठ बच्चे घायल हैं, जिनका उपचार निजी अस्पताल में जारी है। आधिकारिक तौर पर मृत बच्चों के नाम हरप्रीत कौर, श्रुति, स्वास्तिक पांड्या और कृति अग्रवाल बताए गए हैं। मृत और घायल बच्चों की उम्र 10 वर्ष के आसपास हैं। सभी छात्र/छात्राएं अपरान्ह स्कूल से घर वापस लौट रहे थे।

घायलों का उपचार कर रहे बॉम्बे अस्पताल प्रबंधन के प्रवक्ता राहुल पराशर ने बताया कि दुर्घटना में घायल आठ बच्चों का उपचार उनके चिकित्सालय में जारी है। घायलों के नाम इन्शीरा कुरैशी, ख़ुशी बजाज, पार्थ, अबीरा कुरैशी, सोमिल आहूजा, देविक वाधवानी, शिवांग चावला और बल्लू कल्याण सिंह हैं। सभी घायल बच्चे वेंटीलेटर पर हैं।

दुर्घटना के समाचार मिलते ही कई सामाजिक संगठन के लोग रक्तदान हेतु बॉम्बे अस्पताल पहुंचे हैं। मामले में गृह मंत्री भूपेंद्र सिंह के आदेश पर इंदौर के क्षेत्रीय परिवहन अधिकारी (आरटीओ) एमपी सिंह ने जांच कर प्रारंभिक रिपोर्ट प्रेषित कर दी है।

श्री सिंह ने बताया कि गृह मंत्री के आदेश के बाद मौके पर पहुंचकर दुर्घटनाग्रस्त बस की जांच की गई है। प्रथम दृष्टया बस का स्टेयरिंग फेल हो जाने के कारण दुर्घटना होना प्रतीत हो रहा है। घटना का वास्तविक कारण पूरी जांच के बाद ही स्पष्ट हो सकेगा।

लोकसभा अध्यक्ष सुमित्रा महाजन ने जताया शोक

लोकसभा अध्यक्ष सुमित्रा महाजन ने मध्य प्रदेश के अपने संसदीय क्षेत्र इंदौर में आज एक सड़क दुर्घटना में चार स्कूली बच्चों सहित पांच लोगों की मौत पर शोक जताया है।

श्रीमती महाजन ने ट्विट किया, “मेरे संसदीय क्षेत्र इन्दौर के बाईपास पर आज एक स्कूल बस एवं ट्रक की टक्कर में बड़ी संख्या में लोग हताहत हुए हैं। यह अत्यंत दुखद है। दुर्घटना में स्कूली बच्चों की मौत। कर्मचारियों की मृत्यु। दुर्घटना में कई घरों के सपनों एवं आशाओं की मौत हुई है।”

उन्होंने पीड़ित परिवारों के प्रति हार्दिक संवेदना व्यक्त की है। उन्होंंने इंदौर पुलिस और प्रशासन से पीड़ितों को यथासंभव सहायता देने का अनुरोध किया है।

लोकसभा अध्यक्ष ने कहा कि बस दुर्घटना के बाद शहर के लोगों ने जितनी तेजी से सहयोग किया, तुरंत सहायता की और रक्तदान के लिए जानकारी साझा की, वह प्रशंसनीय है। संकट में सभी शहरवासी पीड़ितों के साथ खड़े रहें। उन्होंने इसके लिए सबका आभार व्यक्त किया।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

WP2Social Auto Publish Powered By : XYZScripts.com
Skip to toolbar