नियमित करें योग आसन

आग्रह यह कि सिर्फ अंतरराष्ट्रीय योग दिवस पर ही योगाभ्यास के बजाय अपने घर पर ही नियमित अभ्यास करें। अपने बच्चों को भी इसके लिए प्रेरित करें। यदि घर में आपके बच्चे योगाभ्यास कर रहे हैं तो उसके साथ आप भी शामिल होकर नियमित योगाभ्यास करें।

अंतरराष्ट्रीय योग दिवस पर बिजयनगर व गुलाबपुरा सहित आसपास के क्षेत्रों में आयोजित शिविर सुखद अहसास कराने वाला रहा। कोरोना के कारण पिछले दो वर्ष से सार्वजनिक शिविरों पर प्रतिबंध के कारण भी इस बार शिविरार्थी अधिक उत्साहित और अनुशासित दिखे। हमारे ऋषि-मुनियों ने योग को आध्यात्म से जोड़ते हुए विभिन्न आसनों के माध्यम से स्वस्थ जीवन जीने का संदेश दिया। चूंकि संचार का माध्यम बढऩे के कारण धीरे-धीरे टीवी के माध्यम से योग-आसन घर-घर पहुंच गया। ऋषियों-योगियों-तपस्यियों से इतर धीरे धीरे लोग योगासन का अभ्यास भी करने लगे। इसका सुखद परिणाम भी लोगों ने महसूस किया और इसकी लोकप्रियता बढ़ती चली गई। निश्चित ही स्वस्थ्य मन के लिए स्वस्थ काया भी जरूरी है।

स्वस्थ रहने के लिए बिना आर्थिक व्यय के योगासन एक सुलभ साधन है। आधे घंटे का नियमित योगाभ्यास भी काफी है। जैसा कि योग प्रशिक्षक हीरालाल धनोपिया कहते हैं, ‘नियमित योगाभ्यास से इम्यूनिटि सिस्टम भी दुरुस्त होता है और योग करने वाला स्वस्थ भी रहता है।’ इससे अच्छी बात स्वस्थ जीवन के लिए और क्या हो सकती है। आग्रह यह कि सिर्फ अंतरराष्ट्रीय योग दिवस पर ही योगाभ्यास के बजाय अपने घर पर ही नियमित अभ्यास करें। अपने बच्चों को भी इसके लिए प्रेरित करें। यदि घर में आपके बच्चे योगाभ्यास कर रहे हैं तो उसके साथ आप भी शामिल होकर नियमित योगाभ्यास करें। स्वस्थ मन, स्वस्थ काया, स्वस्थ परिवार, स्वस्थ समाज और स्वस्थ देश के लिए योगाभ्यास को अपनी दिनचर्या में शामिल करें।

आइए, अब बात दूसरी। प्री मानसून की बारिश होते ही जगह जगह पौधारोपण का कार्य शुरू हो गया है। प्रेरणा कहीं से और किसी से भी ली जा सकती है। चाहे वह योग या फिर पौधारोपण। फिलहाल हम बात कर रहे हैं पर्यावरण मित्र मंडल गुलाबपुरा की। हालांकि कई सामाजिक, धार्मिक व राजनीतिक संगठनों द्वारा पौधारोपण किया जाता है। लेकिन पौधारोपण के बाद नियमित रूप से उसकी देखभाल करने की प्रेरणा पर्यावरण मित्र मंडल गुलाबपुरा से लेनी चाहिए। पौधों को लगाने के बाद उसकी देखभाल करना भी नितांत जरूरी है, तभी पौधारोपण का उद्देश्य पूरा होगा। जय हिन्द।

WP2Social Auto Publish Powered By : XYZScripts.com
Skip to toolbar