पाकिस्तानी सेना की गोलाबारी में लांस नायक शहीद

राजौरी। पाकिस्तानी सेना ने शनिवार दोपहर को राजौरी जिले (जम्मू कश्मीर) के सुंदरबनी सेक्टर में एकाएक गोलाबारी शुरू कर दी। पाकिस्तानी सेना ने कुछ स्नाइपर शॉट भी दागे, जिससे सीमा पर तैनात भारतीय सेना के लांस नायक शहीद हो गए।

सुंदरबनी सेक्टर में शनिवार दोपहर को पाकिस्तानी सेना ने एकाएक संघर्ष विराम का उल्लंघन करते हुए भारतीय क्षेत्र में गोलाबारी शुरू कर दी। इस गोलाबारी के साथ-साथ पाकिस्तानी सेना ने कुछ स्नाइपर शॉट भी भारतीय जवानों को निशाना बनाकर दागे।

इनमें से एक स्नाइपर शॉट लांस नायक योगेश मुरलीधर भदाणे (28) निवासी गांव खलेने जिला धुल्ले महाराष्ट्र को जा लगा। इसमें लांस नायक योगेश शहीद हो गए। इसके बाद भारतीय सेना के जवानों ने भी जवाबी कार्रवाई शुरू कर दी। इसमें सीमा पार पाकिस्तानी सेना का भी काफी नुकसान हुआ है।

उल्लेखनीय है कि बीते 23 दिसंबर को पाकिस्तानी सेना के जवानों ने केरी सेक्टर में संघर्ष विराम का उल्लंघन करते हुए सीमा पर गश्त कर रहे सेना के मेजर तथा तीन जवानों को शहीद कर दिया था। इसके बाद से ही राजौरी व पुंछ दोनों जिलों में सीमा पर पाकिस्तानी सेना द्वारा हर रोज गोलाबारी की जा रही है।

बीएसएफ ने ढेर किया पाक घुसपैठिया, एक भागा

वहीं अजनाला के पास सीमा सुरक्षा बल की 17वीं बटालियन के जवानों ने अंधेरे का फायदा उठाकर भारतीय क्षेत्र में घुसे एक पाकिस्तानी घुसपैठिए को मार गिराया। उसका एक अन्य साथी वापस भागने में सफल रहा।

जानकारी के अनुसार सीमा सुरक्षा बल की 17वीं बटालियन के जवान भारत-पाक अंतरराष्ट्रीय सीमा रेखा पर स्थित बीओपी कक्कड़ रियर के पास गश्त कर रहे थे।

तभी पाकिस्तान की तरफ से भारतीय क्षेत्र में जवानों को कुछ हलचल दिखाई दी। बीएसएफ जवानों की ओर से रोकने पर भी जब भारतीय क्षेत्र में घुसपैठ कर रहे पाकिस्तानी घुसपैठिए नहीं रुके तो जवानों ने फायर कर एक घुसपैठिए को ढेर कर दिया और दूसरा भागने में सफल रहा।

मारे गए पाक घुसपैठिए के पास से उसका पाकिस्तानी पहचान पत्र, एक मोबाइल, पाकिस्तानी सिम, करीब 950 रुपये की पाकिस्तानी करंसी, एक सिगरेट की डिब्बी व एक लाइटर बरामद हुआ। पहचान पत्र के आधार पर उसकी पहचान पाकिस्तान के जिला शेखूपुरा की तहसील फिरोजवाला के गांव मियानी मकबूलपुरा निवासी मोहम्मद बूटा के पुत्र बसारत अली के रूप में हुई है।

फिलहाल मारे गए पाकिस्तानी घुसपैठिए के शव को अजनाला के सिविल अस्पताल में रखकर उसकी पहचान पाकिस्तानी रेंजर को बताई गई है।

25 दिसंबर को भारतीय सेना के जवानों ने पाकिस्तान सीमा में दाखिल होकर पाकिस्तानी सेना का काफी नुकसान किया था। इसके बावजूद पाकिस्तानी सेना लगातार भारतीय क्षेत्र को निशाना बनाकर गोलाबारी कर रही है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

WP2Social Auto Publish Powered By : XYZScripts.com
Skip to toolbar