धैर्य के साथ त्याग भी जरूरी

  • Devendra
  • 19/04/2024
  • Comments Off on धैर्य के साथ त्याग भी जरूरी

देश के प्रतिष्ठित व सर्वोच्च परीक्षा में बिजयनगर के प्रियांशु पहाडिय़ा का चयन होना हम समस्त बिजयनगरवासियों के लिए गौरव की बात है। इससे भी अव्वल खारीतट से विशेष बातचीत में पहाडिय़ा ने प्रतियोगी परीक्षा की तैयारी कर रहे युवाओं को सोशल मीडिया से दूरी बनाए रखने का जो संदेश दिया है, वह भी लाख टके का है। गौरतलब है कि सोशल मीडिया कई लोगों के लिए एक तरह से लत की तरह हो गई है। यहां तक कि छोटे-छोटे बच्चों को भी मोबाइल पर घंटों स्क्रालिंग करते देखा जा सकता है। निश्चित ही परीक्षा एक साधना के समान है जिसमें धैर्य, आत्मविश्वास, समर्पण, लगन और त्याग की भी जरूरत होती है। बिजयनगर के युवाओं को प्रियांशु पहाडिय़ा की इस सलाह को गांठ बांध लेनी चाहिए। सोशल मीडिया पर विचरण और सफलता नदी के दो किनारे हैं। सफलता के लिए दूसरे किनारे का त्याग करना ही पड़ेगा। दोनों एक साथ नहीं मिल सकता।
आने वाले दिनों में शहर में कई धार्मिक आयोजन होंगे। तीर्थकर भगवान महावीर की जयंती धूमधाम से मनाई जाएगी। वहीं मर्यादा पुरुषोत्तम श्रीराम भक्त हनुमान जन्मोत्सव भी धूमधाम से मनाया जाएगा। बिजयनगर में इस तरह के धार्मिक आयोजन आए दिन होते ही रहते हैं। उम्मीद की जानी चाहिए कि समस्त शहरवासी इस दोनों आयोजनों में बढ़चढ़कर हिस्सा लेंगे। अंत में खारीतट संदेश परिवार की ओर से पाठकों, विज्ञापनदाताओं व स्नेहीजनों को महावीर जयंती व श्रीहनुमान जन्मोत्सव की बहुत बहुत बधाई। जय हिन्द।
दिनेश ढाबरिया, सम्पादक

WP2Social Auto Publish Powered By : XYZScripts.com
Skip to toolbar