शोभायात्रा में गूंजे जयकारे ‘त्रिशला नंदन वीर की जय बोलो महावीर की’

  • Devendra
  • 22/04/2024
  • Comments Off on शोभायात्रा में गूंजे जयकारे ‘त्रिशला नंदन वीर की जय बोलो महावीर की’

जयंति की पूर्व संध्या पर श्री संभवनाथ मंदिर में देर रात तक चली प्रभु भक्ति
बिजयनगर। सकल जैन समाज बिजयनगर की ओर से जैन समाज के 24वें तीर्थकर श्रमण भगवान महावीर स्वामी की जयंती ‘जिओ और जीने दो’ के जयघोष के साथ शोभायात्रा एवं विविध धार्मिक कार्यक्रमों के साथ उत्साह पूर्वक मनाई गई। श्री वर्धमान स्थानकवासी जैन श्रावक संघ, श्री मूर्ति पूजक जैन संघ, दिगम्बर जैन समाज, तेरापंथ जैन समाज के संयुक्त तत्वावधान में आयोजित जयंती महोत्सव के अवसर पर प्रात: बड़े स्थानक से प्रभातफेरी निकाली गई। इसके पश्चात सकल जैन समाज की ओर से महावीर बाजार स्थित श्री संभवनाथ जैन मन्दिर से भगवान महावीर की शोभायात्रा गाजे बाजे के साथ निकाली गई। शोभायात्रा महावीर बाजार, बापू बाजार, शिव बाजार, कृषि मंडी रोड़, पीपली चौराहा होती हुई पुन: श्री संभवनाथ जैन मन्दिर पहुंचकर सम्पन्न हुई। शोभायात्रा में धर्मावलम्बियों ने भगवान महावीर स्वामी, पाश्र्वनाथ भगवान व चन्द्रप्रभु भगवान की प्रतिमाएं रथ में विराजमान कर शोभायात्रा में ‘त्रिशला नंदन वीर की जय बोलो महावीर कीÓ जयकारे लगाते चल रहे थे। श्री संभवनाथ जैन मन्दिर, श्री चन्द्र प्रभु जैन मंदिर सहित अन्य जैन मन्दिरोंं में भगवान महावीर स्वामी की विशेष पूजा अर्चना की गई। वहीं संध्या के समय संभवनाथ जैन मन्दिर में 108 दीपक प्रजवल्लित कर महाआरती की। शोभायात्रा जैन समाज के अध्यक्ष प्रेमराज बोहरा, प्रकाशचन्द बडौला, गुमानसिंह कर्णावट, दिलीप मेहता, पालिका उपाध्यक्ष प्रीतम बड़ौला, मूर्ति पूजक संघ के विमल कोठारी, टीकमचन्द गोखरू, पुखराज माण्डोत, दिगम्बर जैन समाज के प्रभाचन्द बडजात्या, तेरापंथ समाज के दिलीप कुमार तलेसरा सहित सैकड़ों धर्मावलम्बी मौजूद रहे।
हमें प्रत्येक जीव के प्रति दया भाव रखना चाहिए: साध्वी काव्य यशा जी म.सा.
महावीर जयंती के अवसर पर मिल चौक स्थित स्वाध्याय भवन में आयोजित धर्मसभा को संबोधित करते हुए जैन साध्वी काव्य यशा जी म.सा. ने कहा कि हमें अपने जीवन के कल्याण के लिए भगवान महावीर स्वामी के उपदेशों का अनुसरण करना चाहिए। भगवान महावीर ने ‘जिओ और जीने दोÓ का संदेश दिया। हमें संसार के प्रत्येक जीव के प्रति दयाभाव रखना चाहिए और जीवन में हिंसा व किसी दूसरे के प्रति दुर्भावना नहीं रखनी चाहिए। धर्मसभा में अनेक वक्ताओं ने भगवान महावीर स्वामी के जीवन से जुड़े संस्मरणों पर प्रकाश डाला।

प्रभु भक्ति में देर रात तक कई भजनों की प्रस्तुतियों ने धर्मावलम्बियों को बांधे रखा
भगवान महावीर स्वामी के जन्म कल्याणक महोत्सव के अवसर पर श्री जैन श्वेताम्बर मूर्ति पूजक संघ बिजयनगर के तत्वावधान में जयंति की पूर्व संध्या पर श्री संभवनाथ जैन मंदिर परिसर में प्रभु भक्ति का आयोजन किया गया जिसमें गायक कलाकारों ने भगवान महावीर की स्तुति से कार्यक्रम का शुभारम्भ करते हुए कई भजनों की प्रस्तुतियां दी। जिसमें मां त्रिशला की गोदी में फूल खिला है…, मेरी चौखट में आज महावीर आए हैं…, मेरे जीने का सहारा बन गए महावीर… सहित अन्य भजनों की प्रस्तुतियां शामिल रही। कलाकारों ने प्रभु भक्ति में देर रात्रि तक श्रोताओं को बांधे रखा। इस दौरान सैकड़ों धर्मावलम्बी मौजूद रहे।

WP2Social Auto Publish Powered By : XYZScripts.com
Skip to toolbar