पापा को पाया तो रब को पाया…

  • Devendra
  • 22/05/2024
  • Comments Off on पापा को पाया तो रब को पाया…

एक शाम माता-पिता के नाम में उमड़े सैकड़ों श्रोता, प्रस्तुतियों से हुए मंत्रमुग्ध
बिजयनगर। स्थानीय राजदरबार सिटी स्थित कॉमन गार्डन में गत दिवस लुणावत परिवार की ओर से श्रीमती मिठूकंवर-मंगलचन्द लुणावत की 50वीं वैवाहिक वर्षगांठ पर रिश्तो की डोर एक शाम माता-पिता के नाम का आयोजन किया गया। आयोजन में सैकड़ों शहरवासी उमड़े और मुम्बई के विक्की डे पारेख व धैर्य राठौड़, वैभव सोनी की माता-पिता और पुत्र के सम्बंधों पर एक से बढ़कर एक प्रस्तुतियों से मंत्र मुग्ध हो उठे। इस दौरान कलाकारों ने मां तुझसे है दुनियां मेरी पापा से है खुशियां मेरी, जीवन मेरा जन्नत लगे ये असर है दुआओं का तेरी, पापा को पाया तो रब को पाया, पापा की छाया में दिल का चैन पाया आदि प्रस्तुतियों पर श्रोताओं ने करतल ध्वनि से कलाकारों का उत्साहवद्र्धन किया। कार्यक्रम में लुणावत परिवार के पिऊल व हंसराज लुणावत ने गायक कलाकारों का स्वागत किया।

WP2Social Auto Publish Powered By : XYZScripts.com
Skip to toolbar