शेयर बाजार में लगातार पांचवें दिन गिरावट

मुम्बई। कमजोर वैश्विक रुख के बीच बजट में की गयी घोषणाओं और रिजर्व बैंक की मौद्रिक समीक्षा बैठक से सशंकित निवेशकों के बिकवाल बने रहने से घरेलू शेयर बाजार में आज लगातार पांचवें दिन गिरावट का रुख रहा। सितंबर 2017 के बाद पहली बार शेयर बाजार में लगातार इतने दिनों तक की गिरावट रही है।

कमजोर निवेश धारणा के कारण बीएसई का 30 शेयरों वाला संवेदी सूचकांक सेेंसेक्स 0.88 फीसदी यानी 309.59 अंक लुढ़ककर 35,000 के मनोवैज्ञानिक स्तर के नीचे 34,757.16 अंक पर आ गया। एनएसई का निफ्टी भी 94.05 अंक यानी 0.87 फीसदी लुढ़ककर 10,666.55 अंक पर बंद हुआ।

निवेशकों काे आशंका है कि बजट में ग्रामीण और कृषि क्षेत्रों पर की गयी सौगातों की बौछार के लिए ही वित्तीय घाटे का लक्ष्य बढाया गया है। उन्हें यह भय है कि न्यूनतम समर्थन मूल्य बढाये जाने से महंगाई बढेगी और बढ़ती महंगाई को देखते हुए रिजर्व बैंक अगली बैठक में नीतिगत दरों को लेकर महत्वपूर्ण फैसला कर सकता है।

शेयर बाजार पर दीर्घावधि पूंजीगत लाभ कर का भी असर है। सरकार ने हालांकि शेयर बाजार की गिरावट के लिए वैश्विक रुख को जिम्मेदार ठहराने की कोशिश करनी शुरू कर दी है। वित्त सचिव हसमुख अधिया का कहना है कि बाजार की यह गिरावट दुनिया भर के शेयर बाजारों में रही गिरावट के कारण है और जल्द ही बाजार इससे उबर जायेगा। निवेशक इस गिरावट के कारण करीब सात लाख करोड़ रुपये गंवा चुके हैं।

347.90 अंक की गिरावट में खुला सेंसेक्स कारोबार के दौरान 34,874.80 अंक के दिवस के उच्चतम स्तर को छूता हुआ 34,520.80 अंक के निचले स्तर तक लुढ़का। यह अंतत: गत दिवस की तुलना में 0.88 फीसदी की गिरावट में 34,757.16 अंक पर बंद हुआ। सेंसेक्स में शामिल 30 में 19 कंपनियां लाल निशान में रहीं।

निफ्टी का ग्राफ भी सेसेंक्स की तरह रहा। यह 156.30 अंक की गिरावट के साथ 10,604.30 अंक पर खुला। कारोबार के दौरान 10,702.75 अंक के उच्चतम और 10,586.80 अंक के निचले स्तर से होता हुआ यह गत दिवस की तुलना में 0.87 प्रतिशत की गिरावट के साथ 10,666.55 अंक पर बंद हुआ। निफ्टी की 26 कंपनियां लाल निशान में और 24 हरे निशान में रहीं।

बीएसई के 20 समूहों में से 12 समूह लाल निशान में रहें। बीएसई की 2,976 कंपनियों में से 1,081 हरे निशान में, 1,688 लाल निशान में और 207 कंपनियों के शेयरों के भाव अपरिवर्तित रहे। मंझोली और छोटी कंपनियों पर भी बिकवाली हावी रही। बीएसई का मिडकैप 0.09 प्रतिशत यानी 15.15 अंक लुढ़ककर 16,559.55 अंक पर और स्मॉलकैप 0.37 प्रतिशत यानी 65.74 अंक लुढ़ककर 17,781.79 अंक पर बंद हुआ।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

WP2Social Auto Publish Powered By : XYZScripts.com
Skip to toolbar