बजट: किसानों को ऋण माफी, व्यापारियों को राहत और युवाओं को नौकरी के सपने

जयपुर। राजस्थान की मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे ने सोमवार को अपना पांचवां और मौजूदा कार्यकाल का आखिरी बजट विधानसभा में पेश किया। बजट पर इस साल के अंत में होने वाले विधानसभा चुनाव की छाया साफ तौर पर नजर आई। सबसे बड़े वोट बैंक किसानों को साधने के लिए पूरे प्रयास हुए, वहीं शहरी वोटर के लिए जमीन सस्ती करने की सौगात दी। नोटबंदी और जीएसटी के बाद नाराज चल रहे व्यापारियों को भी राजी करने के प्रयास बजट में हुए।

बजट की खास-खास बातें
पर्यावरणीय कारणों से राजस्थान में बजरी खनन पर रोक है। इसके चलते कई बड़े प्रोजेक्ट प्रभावित हो रहे हैं। इस समस्या को दूर करने के लिए बजरी खनन के छोटे पट्टे जारी किए जाएंगे।

मुख्यमंत्री ने बजट में किसानों के लिए एक और बड़ी घोषणा की है। इसका फायदा प्रदेश के करीब 50 लाख किसानों को होगा। बजट भाषण में उन्होंने कृषि भूमि पर लगने वाले भू-राजस्व को माफ करने की घोषणा की। उन्होंने कहा कि इसका फायदा प्रदेश के 50 लाख किसानों को होगा। इसके साथ ग्रामीण इलाकों में कृषि भूमि के आवासीय उपयोग परिवर्तन के लिए देय राशि में भी कटौती की है।

बजट में सस्ते मकानों के लिए डीएलसी दरों में भी कटौती की है। उन्होंने कहा कि मौजूदा डीएलसी में 10 फीसदी की कमी की जाएगी।

मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे ने राजस्थान में व्यापारी कल्याण बोर्ड की स्थापना करने की घोषणा की। इस कोष के लिए 10 करोड़ रुपए का प्रावधान रखा गया है। साथ ही बजट में रोजगार सब्सिड़ी की भी घोषणा की। उन्होंने कहा कि जीएसटी से राजस्थान को 625 करोड़ का फायदा हुआ है।

राजस्थान में पुलिसकर्मियों को मैस भत्ता बढ़ाने की घोषणा की। इससे प्रदेश के करीब 80 हजार पुलिसकर्मी लाभान्वित होंगे।

प्रदूषण की समस्या को दूर करने के लिए जयपुर के लिए विशेष योजना बनाई गई है। इसके तहत 40 इलैक्ट्रिक बसें जेसीटीएसएल के माध्यम से चलाई जाएगी।

राज्य के युवा क्रिकेटर कमलेश नागरकोटि को अंडर-19 वर्ल्ड कप मे उत्कृष्ट प्रदर्शन के लिए 25 लाख रुपए दिए जाने की घोषणा की। मुख्यमंत्री ने कहा कि खेल प्रतिभाओं को प्रोत्साहन के लिए ‘यूथ आइकन स्कीम’ लागू की जाएगी।

मुख्यमंत्री ने पूर्व उपराष्ट्रपति भैंरोसिंह शेखावत क नाम पर अंत्योदय योजना की घोषणा की। इस योजना के तहत 50 हजार अंत्योदय परिवारों को स्वरोजगार के लिए 50 हजार रुपए तक लोन चार फीसदी ब्याज पर उपलब्ध कराया जाएगा।

मुख्यमंत्री ने दिव्यांगों के कल्याण के लिए अलग से दिव्यांग कोष की स्थापना करने की घोषणा की। उन्होंने कहा कि इस कोष के लिए एक करोड़ रुपए का प्रावधान किया जाएगा।

शैक्षणिक क्षेत्र में खाली पड़े 77 हजार पदों पर भर्ती की जाएगी। मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे ने बजट में शैक्षणिक स्तर सुधारने के लिए कई घोषणाएं की। इनमें रिक्त पदों पर भर्ती, रिटायर्ड स्टाफ की सेवाएं लेने, स्कूल क्रमोन्नत करने और नए कॉलेज की घोषणा की।

राजस्थान में किसानों पर 30 सितंबर तक के 50 हजार तक के लोन और ओवर ड्यू पर ब्याज की माफ होगा। इससे राज्य सरकार पर आठ हजार करोड़ रुपए का भार आएगा। राज्य कृषि ऋण आयोग के गठन की घोषणा की।

घोषणाएं जो की गई

सड़क क्षेत्र में
सभी विधानसभा क्षेत्र में 15 किलोमीटर नई सड़क बनायी जाएंगी।
2274 करोड़ की लागत से विभिन्न जिलों में नई सड़कें बनाई जाएंगी।
छह संभागीय मुख्यालयों व कई जिलों में आॅटोमेटेड ड्राइविंग ट्रेक बनाए जाएंगें।
दस करोड़ की लागत से सड़क सुरक्षा केन्द्र जयपुर में बनाया जाएगा।
राजे का दावा 21 हजार किलोमीटर से ज्यादा सड़कें राजस्थान में बिछाई गई है।
ग्रामीण गौरव पथ योजना को बताया मुख्यमंत्री गौरवमयी।

पेयजल क्षेत्र में
37 हजार करोड़ की लागत से राजस्थान में दूर किया जाएगा पेयजल संकट
13 जिलों में पेयजल संकट दूर करने के लिए मुख्यमंत्री राजे ने की घोषणा।
डार्क जोन वाले क्षेत्रों को नदियों से जोड़क पेयजल संकट का होगा निदान।
प्रत्येक विधानसभा क्षेत्र में 100 हैडपंप लगाए जाने का प्रस्ताव।
पानी की समस्या से निपटने के लिए 500 नए आरओ प्लांट लगाए जाएंगें।

सिंचाई क्षेत्र में
1698 करोड़ की लागत से सिंचाई विभिन्न जिलों में होंगे सिंचाई कार्य।
बाढ़ बचाओ कार्य के लिए सात करोड़ रुपए का बजट।

बिजली क्षेत्र में
400 करोड़ के मुनाफे में आया बिजली निगम।
नए सब स्टेशन लोकार्पण जल्द किए जाएंगे।
5000 करोड़ रुपए से ज्यादा के कार्य किए जा रहे है।
दो लाख कृषि कनेक्शन आगामी वर्ष में दिए जाएंगें।
सात लाख घरेलू नए कनेक्शन दिए जाएंगेंं

कृषि क्षेत्र में
किसानों का ब्याज माफ किया गया।
30 सितंबर 2017 तक का 50 हजार कृषि ऋण एक बार के लिए माफ किए गए।
राज्य सरकार पर 8000 करोड़ का भार पड़ेगा ऋण माफी से।
ऋण माफी के लिए आयोग की घोषणा।
मूल्य समर्थन खरीद के लिए 500 करोड़ का ब्याज मुक्त ऋण दिया जाएगा।
350 करोड़ की लागत से नए भंडार बनाए जाएंगें।
कुंआ व नलकूपों के लिए जल हौज निर्माण के लिए 90 हजार का अनुदान मिलेगा।
ग्रीन हाउस निर्माण के लिए विशेष दर्जे के किसानों को आगामी वर्ष में दस लाख का अनुदान मिलेगा।
कृषि सबंधी कार्यों में गौवंश को बढ़ाने के लिए प्रत्येक जिले में नंदी गोशाला बनेगी।
चारे की सहायता छह माह मिलेगी किसानों को।
गोशाला में बायो गैस प्लांट के लिए मिलेगा अधिक अनुदान।

महिला क्षेत्र में
आंगनबाड़ी कार्यकर्ता का मानदेय बढ़ाया गया।
करीब दो लाख मानदेय कर्मी लाभान्वित होंगी।
आंगनबाड़ी कार्यकर्ता का प्रिमियम सरकार देगी।
राज्य सरकार का अंशदान बढ़ाया गया जिससे मानदेय कर्मी लाभान्वित होंगी।
सेनेट्री पैड का वितरण करने के लिए प्रारंभ की जाएगी योजना।
76 करोड़ रुपए देगी सरकार नई योजना के लिए।

स्वास्थ्य के क्षेत्र में
कैथलैब का निर्माण विभिन्न मेडिकल कॉलेजों में बनाएं जाएंगें।
मातृ व शिशु स्वास्थ्य ईकाईयों में 18 करोड़ की लागत से सेंट्रल आॅक्सीजन ईकाई।
60 करोड़ की लागत से अस्पतालों में फायर सिस्टम लगाए जाएंगे
जिला चिकित्सालयों में रुफटॉप सोलर सिस्टम लगाएं जाएंगें।
अस्पतालों में बैड की संख्या बढ़ाई जाएगी।
28 नए पीएचसी खोली जाएंगी व क्रमोन्नत किया जाएगा 120 करोड़ की लागत
पांच हजार से ज्यादा नर्सिंगकर्मियों की भर्ती की घोषणा।
नई डायलासिस मशीनें लगाई जाएंगी।
1000 नर्सिंग ट्रेनी कर्मी की भर्ती की घोषणा।
आयुर्वेद कॉलेज उदयपुर में नए पाठ्यक्रम की घोषणा।
कोटा में बनेगा नया मेडिकल कॉलेज

शिक्षा क्षेत्र में-
1000 विभिन्न श्रेणियों के स्कूलों को क्रमोन्नत किया जाएगा।
सप्ताह मे तीन बार दूध दिया जाएगा पोषाहार योजना में।
77 हजार रिक्त पदों पर होंगी भर्तीयां। विभिन्न पदों पर होंगी भर्तीयां।
पांच से ज्यादा नए राजकीय कॉलेज खोले जाएंगें।
कोटा व नौगावां में नए कृषि कॉलेज में खोले जाएंगें।
निजी क्षेत्र में भी कृषि महाविद्यालय खोले जाएंगें।
जोधपुर, बीकानेर व झालावाड़ में इंजीनियर कॉलेज में फैब लैब बनाई जाएंगी।
नि:शुल्क वाईफाई होगा कॉलेजों में
मदरसों के आधुनिकीकरण में 25 करोड़ रुपए व्यय होंगे।
29 जिलों के रोजगाार कार्यालयों को मॉडल कार्यालय बनाया जाएगा जिसके लिए 45 करोड़ रुपए खर्च होंगे।
कौशल प्रशिक्षण के तहत आईटीआई कॉलेजों में 22 हजार से ज्यादा सीट होंगी।
स्मार्ट क्लासरुम विकसित किए जाएंगें।
आईटीआई के परीक्षा अब आॅनलाईन होंगी।

खेल के क्षेत्र में
कमलेश नागरकोटि को 25 लाख रुपए दिए जाएंगें सरकार की ओर से
यूथ आइकन स्कीम की घोषणा की गई।
एसएमएस में ओलपिंक साइज स्वीमिंग पूल के लिए बजट
नए स्टेडियम बनाए जाएंगें।
रतनगढ़ (चूरू) में बनेगा स्टेडियम
जयपुर की जगतपुरा शूटिंग रेंज को अंतरराष्ट्रीय स्तर का बनाया जाएगा

अन्य घोषणाएं
पिछड़ा वर्ग के व्यक्तिों के स्वरोजगाार के दिए ऋण माफ किए गए है।
एससी व एसटी के परिवारों के लिए भैंरोसिंह शेखावत के नाम से योजना।
पांच जिलों में जनजातीय, गैर जनजातीय के किसानों को मक्का के नि:शुल्क बीज दिए जाएंगें।
नए मां-बाड़ी केन्द्र खोले जाएंगें जिससे 30 हजार बच्चे लाभान्वित होंगें
दस नए आवासीय स्कूल बनाए जाएंगें
सुंदर सिंह भंडारी स्वरोजगार योजना की घोषणा जिसमें 50 हजार रुपए का ऋण दिया जाएगा।
अंबेडकर भवन बनाएं जाएंगें।
भैंरोसिंह शेखावत अंत्योदय योजना की शुरुआत।
महिला कर्मचारियों को दो वर्ष की चाइल्ड केयर लीव मिलेगी।
एरियर की राशि का भुगतान प्रारंभ किया जाएगा।
एक लाख नयी भर्तियां विभिन्न विभागों में। जिसमें 77 हजार की शैक्षणिक भर्ती भी सम्मलित है।

उद्योग के क्षेत्र मे
सीईटीपी को विकसित किया जाएगा
भिवाड़ी व अन्य औद्योगिक क्षेत्रों अधिग्रहित भूमि का भुगतान किया जाएगा।
बाड़मेर-सांचौर बेसिन में 12 हजार करोड़ का निवेश होगा।
जैसलमेर बेसिन में गैस का उत्पादन किया जा रहा है यहां आगामी वर्षो मेें 150 नए कुंए खोदे जाएंगेंं
मेजर मिनरल के लिए ई-नीलामी की जाएगी।
1000 करोड़ से खनिज क्षेत्रों में सड़क व नए कार्य कराएं जाएंगे।

ग्रामीण व शहरी क्षेत्र में
जयपुर में 40 इलेक्ट्रिक बसें चलाई जाएंगी।
कोटा शहर में 150 करोड़ से नए फ्लाईओवर बनाया जाएगा।
बीकानेर में एआईजी व एलआईजी के फ्लैटस बनाए जाएंगें।
16 हजार नए आवास बनाएं जाएंगें
25 करोड़ की लागत से संग्राहलय व स्मारक बनाएं जाएंगें।
नगर पालिका क्षेत्रों में होगा सड़कों का निर्माण
दो हजार पटवारी की भर्ती की जाएगी।
नए तहसील कार्यालय खोले जाएंगें।
शहीद सैनिकों के आश्रितों को 25 लाख की राशि दी जाएगी।
20 लाख की लागत से नए शहीद स्मारक बनाएं जाएंगे।
9127 ग्राम पंचायतें ओडीएफ घोषित हो चुकी है।

कर के क्षेत्र में
व्यापारी व उद्यमियों के शिकायतों के निस्तारण के लिए राज्य में व्यापारी कल्याण बोर्ड बनेगा।
दस करोड़ की लागत से व्यापारिक कल्याण निधि बनेगी
मनोरंजन व पर्यटन की ईकाईयों को एसजीएसटी अनुदान मिलेगा।
बहुमंजिला व्यवसायिक भवन की खरीद में 50 प्रतिशत की छूट।
सभी किसान स्थाई लगान से मुक्त होंगे।
50 लाख किसानों को होगा फायदा।
कृषि भूमि पर लगने वाला भू-राजस्व किया गया माफ।
डीएलसी दरों में 10 प्रतिशत की कटौती।
राजस्थान में मकान लेना होगा सस्ता।
3000 वर्ग मीटर से अधिक के आवासी व रिहायशी भूखंडों पर पांच प्रतिशत की छूट।

जीएसटी से हुआ लाभ
करीब दो लाख करदाताओं ने कराया पंजीयन
90 प्रतिशत वस्तुओं पर कर में कमी आई है।
एसजीएसटी से राज्य सरकार को हुआ है फायदा।
1911 करोड़ रुपए जीएसएटी कॉम्पनसेशन मिला अक्टूबर तक मिला।
784 करोड़ रूपए जीएसटी कॉम्पनसेशन नवंबर में मिलेगा।

बजट से पहले हंगामा
सुबह 11 बजे सदन की कार्रवाई शुरू हुई। मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे ने वित्त मंत्री के नाते जैसे ही सदन में बजट पढ़ना शुरू किया, प्रतिपक्ष के नेता रामेश्ववर डूडी खड़े हो गए और फिर काले कानून को वापस लेने की मांग करने लगे। इसका संसदीय कार्यमंत्री राजेंद्र राठौड़ समेत सत्तापक्ष ने विरोध किया। करीब पांच मिनट तक सदन में हंगामे की स्थिति बनी। इसके बाद अध्यक्ष ने हंगामा कर रहे सदस्यों को चेतावनी दी और बैठने की व्यवस्था दी। इसके बाद सदन सीएम ने अपना बजट भाषण पढ़ना शुरू किया।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

WP2Social Auto Publish Powered By : XYZScripts.com
Skip to toolbar