भिनाय को शीघ्र मिलेगी रीको एरिया की सौगात

जयपुर व अजमेर की टीम ने देखे आवश्यक दस्तावेज
भिनाय।(पंकज दवे) कस्बें में रीको ऑघोगिक क्षेत्र विकसित करने की स्थानीय ग्राम पंचायत की अनुशंसा पर बुधवार को राजस्थान ऑघोगिक विकास प्राधिकरण व उघोग विभाग जयपुर की टीम ने उपखण्ड अधिकारी राजेन्द्र सिंह शेखावत, तहसीलदार रमेशचन्द माहेश्वरी व अन्य अधिकारियों के साथ संभावित जगह का दौरा कर आवश्यक दस्तावेज देख कर अन्य जानकारी जुटाई।

सरपंच उमा वर्मा ने बताया कि बिजयनगर में पूर्व में हुए मुख्यमंत्री जनसंवाद कार्यक्रम के दौरान मसुदा विधायक सुशील कवंर पलाड़ा के नैतृत्व में ग्रामीणों ने एक ज्ञापन सौंपकर भिनाय में रीको ऑघोगिक क्षेत्र विकसित करने की मांग रखी। जिस पर बुधवार को रिको यूनिट हैड अजमेर अजय गुप्ता, क्षेत्रीय प्रबन्धक रीको सीबी जेम्स विकास राज जैन ने उपखण्ड अधिकारी राजेन्द्र संह शेखावत, तहसीलदार रमेशचन्द माहेश्वरी व हल्का पटवारी के साथ भिनाय बान्दनवाड़ा मार्ग पर रतनपुरा से राधास्वामी सत्संग भवन के मध्य स्थित भूमि का आवश्यक दस्तावेजों का निरीक्षण किया।

सरपंच उमा वर्मा ने बताया कि रीको ऑघोगिक क्षेत्र के लिये लगभग 68 हैक्टेयर भूमि भिनाय तथा सरगांव पटवार हल्का की 2 से 3 हैक्टैयर भूमि पर ऑघोगिक क्षेत्र स्थापित होने की सभावना है। इससे पूर्व लगभग तीन माह पहले भी अजमेर यूनिट हैड अजय गुप्ता ने क्षेत्र का दौरा किया था।

इस दौरान भाजपा नेता सुभाष वर्मा ने बताया कि क्षेत्र में खनिज विभाग की लगभग 80 से 90 ग्रेनाइट, मार्बल व फेल्सपार की ईकाइंया वर्तमान में कार्यरत है जिससे प्राप्त कच्चा माल किशनगढ़, सिलोरा ब्यावर सहित कई अन्य जगहों पर जाता है। इसके अलावा कपास व जीरे की बम्पर पैदावार होेने से ओर भी कई उघोग लगने की संभावना है। यदि भिनाय में ऑघोगिक क्षेत्र स्थापित होता है तो क्षेत्र के विकास के साथ साथ ग्रामीणों को रोजगार के अवसर प्रदान होगें।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

WP2Social Auto Publish Powered By : XYZScripts.com
Skip to toolbar