गाजे-बाजे के साथ निकला पत्रिका लेखन का वरघोड़ा, उमडे़ कई श्रद्धालु

बिजयनगर। खरतरगच्छाधिपति पुज्य आचार्य भगवंत श्री जिन मणिप्रभ सूरीश्वर जी की आज्ञानुवर्ती साध्वी बहन मा.सा. डॉ. विद्युतप्रभा श्री जी की सुशिस्या डॉ. शासन प्रभा श्री जी म.सा. डॉ. नीलांजना श्री जी म.सा. एवं विभाजंना श्री जी म.सा. की निश्रा में बिजयनगर में नाकोड़ा पार्श्वनाथ भैरव मंदिर की प्रतिष्ठा निमित्ते आमंत्रण पत्रिका लेखन का एेतिहासिक कार्यक्रम ठाठ-बाठ से संपन्न हुआ।

जय जिनेंद्र के लाभार्थी सिंघवी परिवार के निवास स्थल से प्रात: 8 बजे साध्वी श्री के साथ वरघोड़ा प्रारम्भ हुआ पत्रिका लेखन लाभार्थी परिवार सिंघवी परिवार के श्रीमती पारसकंवर, विनयराज-पुष्पा योगेन्द्रराज-शशि सिंघवी बग्गी में पत्रिका को रजत थाल में लेकर के विराजमान हुए और सेकड़ो श्रदालुओं राजदरबार सिटी उपासरे में पहुँचे।

साध्वी श्री के मंगलाचरण के साथ ही साध्वी डॉ. श्री निलांजना श्री जी का अंजनशालाका प्रतिष्ठा व पत्रिका लेखन के संदर्भ में प्रभावी प्रवचन हुआ उसके बाद सिंघवी परिवार के द्वारा सकल संघ की उपस्थिति में कुमकुम केसर छाटने के साथ उल्लास भरे माहौल के साथ पत्रिका लेखन सम्पन्न हुआ। इस सुंदर कार्यक्रम को देखकर हर व्यक्ति आनंद से अभिभूत था।

श्री नाकोड़ा पाश्र्व भैरव मंदिर ट्रस्ट के मंत्री पवन बोरदिया, कोषाध्यक्ष पुखराज डांगी ने प्रतिष्ठा महोत्सव में समर्पित भाव से सहयोग का आवाहन किया। आचार्य श्री मणिप्रभ सूरीश्वर जी म.सा. 7 मार्च को बिजयनगर में 27 मील चौराहे से प्रात: बिजयनगर में मंगलप्रवेश करेंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

WP2Social Auto Publish Powered By : XYZScripts.com
Skip to toolbar