सुंजवां सैन्य ब्रिगेड को दहलाने की जैश की धमकी के बाद सुरक्षा व्यवस्था चाक चौबंद

जम्मू। आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्मद ने सुंजवां में सैन्य ब्रिगेड पर दो दिनों के भीतर फिर से फिदायीन हमला करने की धमकी दी है। सुरक्षा एजेंसियों ने इस धमकी को गंभीरता से लेते हुए बिग्रेड में सुरक्षा प्रबंध बेहद कड़े कर दिए हैं। सोमवार को सुंजवां ब्रिगेड में व्यापक तलाशी अभियान चलाया गया। ब्रिगेड परिसर में बने केंद्रीय विद्यालय और आर्मी स्कूल के छात्रों के साथ आवासीय क्वार्टरों में सैन्य परिवारों की सुरक्षा में तमाम खामियों को दूर कर विशेष प्रबंध किए गए। संदिग्ध तत्वों पर नजर रखने के लिए सेना का हेलीकॉप्टर भी रात में सैन्य बिग्रेड पर मंडराता रहा।

सुंजवां ब्रिगेड पर 10 फरवरी को हुए आतंकी हमले में छह जवान शहीद हो गए थे। एक जवान के पिता की भी मौत हो गई थी। सेना ने भी जैश के तीनों हमलाकर आतंकियों को मार गिराया था। 24 फरवरी को एक अन्य घटना में सैन्य ब्रिगेड की पिछली तरफ संतरी गेट के निकट कुछ तत्वों ने पत्थर फेंके थे। इसके बाद अब सोमवार को जैश के हमले की धमकी मिलते ही सुरक्षा एजेंसियां सतर्क हो गई हैं।

सोमवार को ब्रिगेड के आसपास गश्त बढ़ाने के साथ परिसर में बने स्कूल में छोटे बच्चों को ग्राउंड फ्लोर से फर्स्ट फ्लोर पर शिफ्ट कर दिया गया। नर्सरी स्कूल में पढ़ने वाले बच्चों को कुछ देर के लिए वाशरूम में बंद कर दिया गया। स्कूल के शिक्षकों को निर्देश दिए गए कि छात्रों को अपने क्लास तक सीमित रखें। तमाम दरवाजे बंद कर दें, ताकि कोई भी हमला हो तो आतंकी क्लास में न घुस न पाएं। शिविर में बने आर्टलरी यूनिट की सुरक्षा को भी बढ़ा दिया गया ताकि कोई आतंकी घुसे तो उसे रोका जा सके। बिग्रेड के मुख्य गेट के अलावा उसके पीछे लगते तमाम गेट पर सुरक्षा बढ़ा दी गई।

सुंजवां में फिदायीन हमले की पहले से जांच कर रही राष्ट्रीय जांच एजेंसी (एनआइए) की टीम ने भी धमकी के बाद सैन्य शिविर का दौरा कर सेना के वरिष्ठ अधिकारियों से तमाम पहलुओं पर बातचीत की। एसपी साउथ संदीप चौधरी का कहना है कि पुलिस भी सैन्य शिविर के साथ लगते इलाकों में गश्त कर रही है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

WP2Social Auto Publish Powered By : XYZScripts.com
Skip to toolbar