पंजाब में धुंध के चलते 35 गाड़ियां टकराईं, 10 स्टूडेंट्स की मौके पर मौत

बठिंडा. यहां बुधवार सुबह धुंध के चलते कई गाड़ियों के आपस में टकराने से 10 स्टूडेंट्स की मौत हो गई। पुलिस के मुताबिक, हादसे के वक्त कॉलेज स्टूडेंट बस का इंतजार कर रहे थे, इसी दौरान उन्हें डंपर ने कुचल दिया। स्टूडेंट्स की मौके पर ही मौत हो गई। 17 लोग गंभीर रूप से जख्मी हैं। हादसे की सूचना मिलने पर 6 एम्बुलेंस मौके पहुंच गईं, जिन्होंने 11 घायलों को प्राइवेट हॉस्पिटल और 5 को बठिंडा सिविल हॉस्पिटल में भर्ती कराया।
पंजाब सरकार ने दिया 1-1 लाख का मुआवजा
– बठिंडा के डिप्टी कमिश्नर दीप्रवा लाकरा ने कहा कि पंजाब सरकार ने मृतकों के परिजन को 1-1 लाख और घायलों को 50 हजार रुपए का मुआवजा देने का एलान किया है।
– लाकरा ने सड़क हादसे में 10 लोगों के मारे जाने की पुष्टि की।
– पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ट्वीट कर कहा, “इस बारे में मंत्री और बठिंडा के एमएलए मनप्रीत बादल से भी बात की है। बादल को राहत और बचाव कार्यों की मॉनिटरिंग के लिए कहा है।”
ऐसे हुआ हादसा
– आईविटनेस के मुताबिक, सुबह 8 बजे के करीब 13 स्टूडेंट सड़क के किनारे बस का इंतजार कर रहे थे। तभी एक तेज रफ्तार डंपर लोगों को उनकी तरफ आता दिखाई दिया। उन्होंने डंपर को रुकने का इशारा भी किया, लेकिन धुंध के कारण ड्राइवर देख नहीं पाया। कुचलने से मौके पर ही 10 स्टूडेंट की मौत हो गई।
– इसके बाद धुंध ज्यादा होने से एक के बाद एक 35-36 गाड़ियां आपस में टकरा गईं।
हादसे के बाद अब प्रशासन ने बदला स्कूलों का टाइम टेबल
– पिछले तीन-चार दिनों से लगातार ठंड और धुंध बढ़ने के बाद भी प्रशासन ने कोई कदम नहीं उठाया था। लेकिन अब इस हादसे के बाद स्कूलों की टाइमिंग बदलने का एलान कर दिया गया है।
– बठिंडा जिले में अब स्कूल सुबह साढ़े 9 बजे से ढाई बजे तक खुलेंगे। जबकि इसके पहले बुधवार तक सुबह 8 बजे ही खुल रहे थे।
फरीदकोट-फाजिल्कारोड पर हुए हादसे में मंगलवार को चली गई थी 6 की जान
फरीदकोट-फाजिल्कारोड पर मंगलवार सुबह रोडवेज बस ट्राॅले से टकरा गई, जिसमें 6 लोगों की मौत हो गई। 8 लोग जख्मी हैं।
– हादसे की वजह धुंध के बीच ट्रक का ओवरटेक करना बताया गया।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

WP2Social Auto Publish Powered By : XYZScripts.com
Skip to toolbar