बनेगा नगर पालिका का नया भवन

नगर पालिका साधारण सभा की बैठक में सर्वसम्मति से लिया निर्णय, गांधीनगर कॉलोनी में होगा निर्माण, दो करोड़ आएगी लागत
बिजयनगर। नगर पालिका के नए भवन का निर्माण शीघ्र ही गांधीनगर कॉलोनी में स्थित भूमि पर किया जाएगा। इसके निर्माण पर दो करोड़ की लागत आएगी। यह निर्णय बुधवार को पालिका के सभागार में आयोजित साधारण सभा की बैठक में सर्वसम्मति से लिया गया।
बैठक में उस समय अजीबोगरीब स्थिति हो गई जब पार्षद नौशाद मोहम्मद ने ठेकेदारों के पक्ष में आवाज बुलंद की तो पालिका के कनिष्ठ अभियंता दीपेन्द्रसिंह ने उन पर ठेकेदारों की पैरवी का आरोप जड़ दिया। इस पर कई पार्षद जेईएन से उलझते दिखे। बैठक में मुख्य रूप से विकास के विभिन्न कार्यों के प्रस्ताव पार्षदों से लिए गए।

बैठक के आरम्भ में पालिका के दिवंगत कर्मचारी परमेश्वर परिहार को कर्मचारियों व जनप्रतिनिधियों ने दो मिनट का मौन रखकर श्रद्धांजली दी। इसके बाद बैठक के आरम्भ होते ही पार्षद जगदीशसिंह राठौड़ ने राजनगर चौराहे से गुलाबपुरा रोड की ओर प्रस्तावित नाला निर्माण अभी तक नहीं होने पर नाराजगी जताई। इस बीच पार्षद भवानीशंकर राव ने आरोप लगाया कि मौके पर ठेकेदार मनमाने तरीके से नाले का निर्माण कर रहा है जिसे तुरन्त रोका जाए।

बहस में भाग लेते हुए पार्षद बृजेश तिवाड़ी ने कहा कि एक व्यक्ति विशेष को लाभान्वित करने के लिए पालिका प्रशासन की शह पर कस्बे के प्रमुख व्यवसायी ने जेसीबी की सहायता से पुराने व प्राकृतिक नाले को बंद कर दिया। लेकिन उसके खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं की गई। बैठक में पार्षद नौशाद मोहम्मद ने कहा कि पालिका प्रशासन ठेकेदारों पर विभिन्न आरोप लगाता है लेकिन सच्चाई यह है कि कार्यों में विलम्ब इसलिए होता है कि पालिका प्रशासन ठेकेदारों को समय पर निर्माण कार्यों का भुगतान नहीं कर रहा है।

इस बात को काटते हुए जेईएन दीपेन्द्रसिंह ने पार्षद नौशाद मोहम्मद की ओर मुखातिब होते हुए तीखे तेवर के साथ कहा, ‘आप मुझ पर कोई दबाव नहीं बना सकते और न ही ठेकेदारों की पैरवी करने का आपको कोई अधिकार है। ठेकेदारों को भुगतान से पूर्व कार्य की गुणवत्ता और अन्य तय मापदंडों की जांच की जाती है इसके बाद भुगतान किया जाता है।’ इस पर पार्षद बृजेश तिवाड़ी, संजय शर्मा, ललित शर्मा आदि ने पार्षद नौशाद मोहम्मद की बात का समर्थन करते हुए जेईएन से उलझ गए। इस दौरान पालिकाध्यक्ष सचिन सांखला मौन होकर नजारा देखते रहे।

पार्षद मोहम्मद ने उनके वार्ड में अतिक्रमण की शिकायत करते हुए कहा कि अतिक्रमियों के खिलाफ पालिका प्रशासन कोई कार्रवाई नहीं कर रहा है। इससे उनके हौसले बुलन्द होते जा रहे हैं। उन्होंने कहा कि एक तरफ बाजार में सुबह-शाम साफ-सफाई व कचरा परिवहन की व्यवस्था चल रही है। दूसरी ओर कस्बे के गली-मोहल्लों में पिछले पांच दिनों से घर-घर कचरा संग्रहण व्यवस्था चरमाराई हुई है। कचरा परिवहन के लिए पालिका के वाहन नहीं पहुंच रहे हैं। इस पर अधिशाषी अधिकारी कमलेश कुमार मीणा ने सफाई प्रभारी कैलाश सोलंकी को जवाब देने को कहा तो वे कोई स्पष्ट जवाब नहीं दे पाए।

वार्ड 22 की पार्षदा सुशीला सेन ने पालिका प्रशासन पर आरोप लगाया कि वह एक विशेष टेंट मालिक को उपकृत कर रहा है जबकि हकीकत यह है कि उससे भी कम दरों में अन्य टेन्ट मालिक पालिका को सेवाएं देने को तैयार है। इससे सरकार का पैसा बचेगा। पार्षद सुशीला सेन की इस बात का सदन में मौजूद पार्षद बृजेश तिवाड़ी, नौशाद मोहम्मद, जगदीशसिंह राठौड़, संजय शर्मा, भवानीशंकर राव ने भी समर्थन किया।

मीरा मंदिर भूमि विवाद का मुद्दा गूंजा
बैठक में एक बार फिर बहुचर्चित मीरा मंदिर भूमि विवाद की गूंज भी सुनाई दी। इस मुद्दे पर पार्षद बृजेश तिवाड़ी, जगदीशसिंह राठौड़, दीपिका वर्मा, नौशाद मोहम्मद, भवानीशंकर राव, ललित शर्मा सहित सभी पार्षदों ने मीरा मन्दिर की विवादित भूमि का पट्टा व नामान्तरण तुरन्त प्रभाव से निरस्त करने की मांग की। इस पर अधिशासी अधिकारी कमलेश कुमार मीणा ने सदन को बताया कि मामला न्यायालय में विचाराधीन है। उनका जवाब सुनने के बाद पार्षदों ने कहा कि मामले में घपला तो हुआ ही है ऐसे में पालिका प्रशासन को चाहिए की नामान्तरण और पट्टा निरस्त करने की कार्रवाई अमल में लाएं ताकि पालिका प्रशासन की विश्वसनीयता को दाग न लगे।

भारी वाहनों पर नहीं अंकुश
सहवरण पार्षद ललित शर्मा ने कहा कि पूर्व में हुई बैठक में कस्बे में दोपहर के समय भारी वाहनों के प्रवेश पर पाबंदी लगाने व कमला फैक्ट्री क्षेत्र में भारी वाहनों के प्रवेश निषेध करने का निर्णय लिया था। इसके बावजूद अब तक कोई कार्रवाई नहीं हुई। पालिका प्रशासन इसके लिए क्या बड़े हादसे का इन्तजार कर रहा है?

नहीं पकड़ रहे सूअर
बैठक में भाजपा पार्षद जगदीशसिंह राठौड़ ने कहा कि उनके वार्ड नं. 20 में सूअरों का आतंक है। इसके लिए पिछली बैठक में सूअरों को पकडऩे का प्रस्ताव लिया था लेकिन आज तक कार्रवाई अमल में नहीं लायी जाने से समस्या जस की तस बनी हुई है। इस पर पालिका के जमादार ने उन्हें आश्वास्त किया की सोमवार से सूअर पकडऩे की कार्रवाई की जाएगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

WP2Social Auto Publish Powered By : XYZScripts.com
Skip to toolbar